इन सभी किसानों के आवेदन पीएम किसान पोर्टल पर हुए अपलोड, जानें किसे कितनी किस्त मिली

2
35547
views

पीएम किसान योजना में किसान आवेदन की स्थिति

PM-Kisan | प्रधानमंत्री किसान योजना में किसान स्वयं आवेदन कैसे करें | किसान आवेदन कैसे सुधारें |

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि में अभी भी कई राज्यों के किसानों के आवेदन केंद्र सरकार के पास नहीं भेजे गए हैं | राज्य सरकारों ने किसानों से तो आवेदन करवा लिए हैं परन्तु उनमें से कुछ किसानों का डेटा अभी तक या तो भेजा नहीं गया है या किसी गलती के कारण किसानों के आवेदन रिजेक्ट हो गए हैं | इस स्थिति में किसान असमंजस में हैं की वे क्या करें ? राज्य सरकार ने जो आवेदन करवाए थे उन आवेदन का क्या हुआ ? ऐसे में राजस्थान राज्य सरकार ने यह साफ़ कर दिया है की उनके द्वारा जो आवेदन लिए गए थे वह सभी आवेदन केंद सरकार को भेज दिए गए हैं उनमें से कोई भी आवेदन लंबित नहीं है | राजस्थान सरकार ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि में किसानों की दी जाने वाली किस्तों के बारे में पूरी जानकारी दी है :-

देश भर में पीएम किसान योजना में किये गए आवेदन और दी गई किस्तें 

पहले हम जान लेते हैं अभी तक केंद्र सरकार के पास अभी तक कुल कितने आवेदन किये गए हैं या पहुंचें हैं और उनमें से कितने किसानों को कितनी किस्तें दी गई है | अभी तक की ताजा जानकारी के अनुसार :-

कुल आवेदन- 7 करोड़ 56 लाख 61 हजार 882 किसान

  • पहली किस्त- 7 करोड़ 10 लाख 83 हजार 794 किसान
  • दूसरी किस्त – 6 करोड़ 07लाख 44 हजार 851 किसान
  • तीसरी किस्त – 3 करोड़ 62 लाख 39 हजार 332 किसान
यह भी पढ़ें   किसानों को आसानी से मिलेगा डेयरी लोन सरकार ने जारी किए 31247.22 करोड़ रुपए

राजस्थान में अब तक हुए कुल आवेदन

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधी के लिए 21 अक्टूबर तक राज्य के 64 लाख 32 हजार 495 किसानों द्वारा आवेदन किया गया। जिसमें से 55 लाख 71 हजार 384 आवेदन पीएम किसान पोर्टल पर अपलोड़ हो चुकें है। जबकि शेष आवेदन एलजी कोड व स्वघोषणा के आधार पर अस्वीकृत होने से अपलोड़ नही किये जा सकें है।

राजस्थान में किसानों को दी गई पहली क़िस्त

राज्य सरकार के स्तर पर किसी भी किसान का कोई भी आवेदन एवं राशि लम्बित नही है। जो प्रक्रिया होनी है वह केन्द्र सरकार के स्तर से होनी है। राज्य की ओर से सभी भेजे जा सकने वाले आवेदन भेजे जा चुकें है। भारत सरकार द्वारा 46 लाख 10 हजार 609 किसानों के पक्ष में प्रथम किश्त के लिए आरएफटी खोली गई। जिसमें से 39 लाख 70 हजार 988 किसानों के खाते में 794.20 करोड़ रूपये की पहली किश्त जमा हो चुकी है तथा शेष 6 लाख से अधिक किसानों की राशि स्वीकृत होना केन्द्र के स्तर पर लम्बित है।

किसानों को दी गई दूसरी एवं तीसरी क़िस्त

द्वितीय किश्त के लिए भारत सरकार द्वारा 39 लाख 63 हजार 277 किसानों के पक्ष में आरएफटी खोली गई। जिसमें से 39 लाख 36 हजार 514 किसानों के खातों में 787.30 करोड़ रूपये की राशि जमा हो चुकी है तथा शेष राशि केन्द्र सरकार के स्तर पर लम्बित है। तृतीय किश्त के लिए भारत सरकार द्वारा 24 लाख 89 हजार 951 किसानों के पक्ष में ही आरएफटी खोली गई। जिसमें से 24 लाख 34 हजार 335 किसानों के खातों में 486.87 करोड रूपये की राशि जमा हो चुकी है शेष किसानों की राशि केन्द्र सरकार से स्वीकृत नही हुई है।

यह भी पढ़ें   कुसुम योजना के अंतर्गत किसानों को सौर पम्प पर मिलेगा 90 प्रतिशत तक अनुदान

 रजिस्ट्रार ने बताया कि द्वितीय किश्त के बाद भारत सरकार स्वयं के स्तर पर किसानों का आधार आधारित प्रमाणन कर रहा है और बिना आधार प्रमाणन के किसानों की किश्त जारी नही हो रही है। राज्य के किसानों द्वारा किये गये आवेदन आधार से ही किये गये है। भारत सरकार ने गाइड लाइन जारी कर किसानों को आवेदित नाम और आधार कार्ड में उल्लेखित नाम में समानता हो इसके लिए किसान किसी भी ई-मित्र केन्द्र पर जाकर पीएम किसान पोर्टल पर नाम में असमानता को सही करवा सकता है।

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here