गेहूं, चना, मसूर एवं सरसों की समर्थन मूल्य पर खरीद आगामी आदेश तक स्थगित

4
638
gehu chana masur kharidi mp news

रबी फसल खरीद स्थगित

वर्ष-2021 रबी फसल की न्यूनतम समर्थन मूल्य की सरकारी खरीदी अभी स्थगित कर दी गई है | मध्य प्रदेश में गेहूं, चना मसूर एवं सरसों की खरीदी 22 मार्च से शुरू होने वाली थी जिसे  तत्काल रोक दिया गया है | यह रोक प्रदेश में हो रही आंधी-बारिश एवं ओलावृष्टि की स्थिति को देख कर लगाई गई है | सरकार ने अभी इसको लेकर कोई नई तिथि जारी नहीं की है | 22 मार्च से गेहूं के अलावा दलहनी और तिलहनी फसलों को बेचने के लिए किसानों को एस.एम.एस भेज दिए गए थे, लेकिन उन किसानों को अभी और इन्तजार करना होगा |

पहले क्या थी समर्थन मूल्य पर खरीदी की तिथि

मध्य प्रदेश में गेहूं तथा रबी अन्य फसलों की खरीदी 15 मार्च किया जाना था, लेकिन इसे बढ़ाकर 22 मार्च किया गया था | एक बार फिर राज्य में रबी फसल की खरीदी को आगे बढ़ा दिया गया है | सरकार के तरफ से अभी कोई सुचना नहीं दी गई है कि रबी फसल उपज की खरीदी कब शुरू की जाएगी | जिन किसानों को उपज बेचने के लिए मेसेज भेजे गए हैं उन्हें अभी अपनी उपज बेचने के लिए इन्तजार करना होगा | फसलों की खरीद शुरू होने पर उन्हें दोबारा से मेसेज भेजे जाएंगे |

यह भी पढ़ें   ऐसे जुड़े मात्र 55 रुपये में किसानों के लिए चल रही पेंशन योजना से

इस कारण से की गई फसल खरीद स्थगित

किसान –कल्याण तथा कृषि विकास मंत्री श्री कमल पटेल ने रविवार को फेसबुक पर किसानों से संवाद करते हुए कहा कि मौसम की स्थिति को देखते हुए चना, मसूर एवं सरसों की खरीदी की तिथि 22 मार्च से आगे बढ़ाने का निर्णय लिया गया था जिसे अभी आगे बढ़ा दिया गया है | सरकार ने ऐसे संकेत दिए हैं की मौसम की स्थिति में सुधार होते ही खरीद प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी |

मध्यप्रदेश गेहूँ खरीदी में बना नम्बर 1 राज्य

मंत्री श्री पटेल ने प्रदेश के किसान भाइयों को बधाई देते हुए कहा कि कोरोना काल में हमारे अन्नदाताओं ने बंपर पैदावार की, जिससे विगत वर्ष मध्यप्रदेश गेहूँ खरीदी में पंजाब को पीछे छोड़ते हुए नंबर-1 राज्य बना। कोरोना काल के बावजूद मध्य प्रदेश सरकार ने राज्य के किसानों से 1 करोड़ 29 लाख 28 हजार 379 मीट्रिक टन गेहूं की खरीदी की थी | यह खरीदी राज्य के 4 हजार 527 खरीदी केन्द्रों पर 15 लाख 55 हजार 453 किसानों से की गई थी |

यह भी पढ़ें   सरकार ने की खरीफ फसलों के न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य में बढ़ोतरी

पिछले वर्ष 19 लाख 46 हजार किसानों ने न्यूनतम समर्थन मूल्य पर विक्रय के लिए पंजीयन कराया था | इसमें से 15 लाख 55 हजार 453 किसानों ने न्यूनतम समर्थन मूल्य पर बेचने के लिए क्रय केंद्र पहुंचे थे | इस वर्ष गेहूं खरीदी के लिए 24 लाख 58 हजार किसानों ने पंजीयन कराया है | इन किसानों से 4763 खरीदी केन्द्रों से 1 करोड़ 35 लाख मीट्रिक टन खरीदी का लक्ष्य रखा है |

4 COMMENTS

  1. पशु पालन के लिए अनुदान पर मध्य प्रदेश में कोन कों न सी योजनाएं है तथा डेयरी लोन के लिए कहा संपर्क करना पड़ेगा मध्य प्रदेश जिला सागर में । दुगद के हिसाब से कोन सी नस्ला की भैंसे अच्छी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here