15 मार्च से नहीं बल्कि अब इस दिन से प्रारंभ होगी समर्थन मूल्य पर चना, मसूर तथा सरसों की खरीदी

2
244
chana masoor sarso kharidi date

समर्थन मूल्य पर चना, मसूर तथा सरसों की खरीदी

केंद्र सरकार द्वारा फसलों पर घोषित न्यूनतम समर्थन मूल्य को केन्द्रीय एजेंसियों के द्वारा किसानों से पंजीकरण करवाकर ख़रीदा जाता है | इसके लिए अलग-अलग राज्य सरकारों के द्वारा अलग-अलग समय पर किसानों से पंजीकरण करवाए जाते हैं | जहाँ अभी मध्यप्रदेश में किसानों के पंजीकरण हो चुके हैं वहीँ अन्य राज्यों में अभी चल रहे हैं | राज्य सरकारों ने किसानों से उपज को खरीदने के लिए तैयारी शुरू कर दी है और किसानों से उपज खरीदने के लिए तिथियाँ भी निर्धारित की जा चुकी है |

जानिए किस राज्य में कब से शुरू होगी समर्थन मूल्य पर खरीदी

हरियाणा सरकार इस वर्ष गेहूं व सरसों की सरकारी खरीद 1 अप्रैल से एवं जौ, चना और दालों की एमएसपी पर खरीद 10 अप्रैल से शुरू करने जा रही है वही उत्तरप्रदेश सरकार किसानों से 1 अप्रैल से गेहूं की खरीदी शुरू करेगी | वहीँ मध्यप्रदेश एवं राजस्थान के कोटा संभाग में गेहूं की खरीदी 15 मार्च से शुरू की जानी है परन्तु मध्यप्रदेश सरकार ने रबी की अन्य फसलों चना, मसूर एवं सरसों की खरीदी की तिथि को 15 मार्च से आगे बढ़ा दिया है |

यह भी पढ़ें   13 जिलों के किसानों को दिए जाएंगे 3,250 लाख रुपये के सब्सिडी पर कृषि यंत्र

अब 22 मार्च से होगी मध्यप्रदेश में चना, मसूर एवं सरसों की खरीद

मध्य प्रदेश के किसानों के लिए 15 मार्च से गेहूं के साथ सरसों, चना तथा मसूर की खरीदी किया जाना था लेकिन आंधी-बारिश एवं ओलावृष्टि के चलते चना, मसूर तथा सरसों की खरीदी अब 15 मार्च से नहीं बल्कि 22 मार्च से की जाएगी | किसान–कल्याण तथा कृषि विकास मंत्री श्री कमल पटेल ने कहा है कि समर्थन मूल्य पर चना, मसूर और सरसों की फसलों का उपार्जन अब 22 मार्च से होगा | पहले इसका उपार्जन 15 मार्च से गेहूं के साथ करने का निर्णय लिया गया था जिसे वर्तमान मौसम की स्थिति को देखते हुए 15 मार्च के स्थान पर 22 मार्च से खरीदी का निर्णय लिया गया है। मंत्री श्री पटेल ने बताया कि हाल ही में हुई बे-मौसम बारिश और ओलावृष्टि के कारण सभी जिला अधिकारियों को फसलों के नुकसान का आंकलन करने व राहत का मसौदा तैयार करने के भी निर्देश दिए हैं |

यह भी पढ़ें   कोरोना महामारी के बीच ग्रीष्म कालीन (जायद) फसलों की बुवाई में हुई 21.5 प्रतिशत की वृद्धि

वर्ष 2020–21 हेतु चना,मसूर एवं सरसों का समर्थन मूल्य

प्रत्येक वर्ष केंद्र सरकार के द्वारा 23 फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य घोषित किया जाता है | इसमें खरीफ, रबी तथा जायद फसलें शामिल रहती हैं | इस वर्ष रबी फसल का न्यूनतम समर्थन मूल इस प्रकार है :-

  • गेहूं – 1975 रूपये प्रति क्विंटल
  • चना – 5100 रूपये प्रति क्विंटल
  • मसूर – 5100 रूपये प्रति क्विंटल
  • सरसों – 4675 रूपये प्रति क्विंटल

2 COMMENTS

    • सर आपके पास मेसेज आ जायेगा | अभी मध्यप्रदेश में खरीदी स्थगित कर दी गई है | थोड़ा इन्तजार करें |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here