back to top
शनिवार, मई 18, 2024
होमपशुपालनबकरी पालन योजना हेतु लोन एवं सब्सिडी लेने के लिए ऐसे बनायें...

बकरी पालन योजना हेतु लोन एवं सब्सिडी लेने के लिए ऐसे बनायें 100 बकरी तथा 5 बकरे के लिए प्रोजेक्ट

100 बकरी तथा 5 बकरे हेतु प्रोजेक्ट रिपोर्ट

बकरी पालन एक ऐसा व्यवसाय है जिसे किसान एवं पशुपालक आसानी से शुरू कर सकते हैं और किसान अतिरिक्त आय के लिए बकरी पालन करना भी चाहते हैं | बकरी पालन के लिए बहुत से किसानों को लोन की आवशयकता भी होती है परन्तु किसानों को जानकारी के आभाव में लोन नहीं मिल पाता है | आज किसान समाधान आपको बताएगा किस तरह से किसान भाई या पशुपालक 100 बकरी पालन के लिए लोन एवं सरकार से अनुदान ले सकते हैं | सरकार की योजनाओं के अनुसार बकरियों के साथ बकरा लेना भी अनीवार्य है इसलिए  बकरी पालन प्रोजेक्ट रिपोर्ट में हम 100 बकरी एवं 5 बकरे के लिए जानकारी देंगे |

बकरी पालन हेतु लोन एवं सब्सिडी इस तरह लें

पशुपालन लोन लेने के लिए सबसे पहले जरुरी होता है प्रोजेक्ट रिपोर्ट बनाना यह रिपोर्ट आपको गाय पालन, भैस पालन एवं बकरी पालन आदि के लिए जरुरी होता है | इस पोस्ट में हम बकरी पालन के प्रोजेक्ट की जानकारी आपको देंगें | बकरी पालन प्रोजेक्ट रिपोर्ट में इच्छुक व्यक्ति को यह बताना होता है की वह किस जगह पर बकरी पालन करना चाहता है यह जमीन उसकी है या वह किराये पर यह जमीन लेकर फार्म डालेगा | बकरी फार्म के लिए कितनी भूमि का इस्तेमाल करेगा और उसमें बकरी आवास के निर्माण में कितना खर्च आएगा यह पूरा विवरण देना होता है |

  1. प्रोजेक्ट रिपोर्ट में आप जो बकरी एवं बकरा खरीदना चाहते हैं उसकी जो भी कीमत है बताना होता है | इच्छुक व्यक्ति अच्छी नस्ल की है बकरी एवं बकरे की खरीदने के लिए जो खर्च आ रहा है वह प्रोजेक्ट रिपोर्ट में अवश्य बताना होगा |
  2. आवस के बाद जरुरी होता है भोजन, प्रोजेक्ट रिपोर्ट में यह जानकारी भी विस्तृत रूप से देनी होती है की बकरियों को साल भर में जो भी भोजन दिया जायेगा उस पर कितना खर्च आएगा | बकरी फार्म में सारी बकरियों को जो भोजन दिया जाएगा उसकी कुल लागत भी प्रोजेक्ट रिपोर्ट में बताना जरुरी है |
  3. इसके आलावा बकरियों का इंश्योरेंस भी करवाना होगा जो किसान भाई पशुधन बीमा योजना के तहत करवा सकते हैं यह इंश्योरेंस का खर्च भी किसान भाइयों को प्रोजेक्ट रिपोर्ट में बताना होता है | 
  4. किसानों को अपनी प्रोजेक्ट रिपोर्ट में कुछ अतरिक्त खर्च जैसे यदि कोई मशीन का उपयोग करता है या कुछ अन्य सामग्री खर्च करता है तो इन सभी बातों का विवरण भी प्रोजेक्ट रिपोर्ट में देना होता है | इस तरह पशुपालक को कुल लागत अर्थात बकरी फार्म खोलने के लिए कितना खर्च किया जाना है यह बताना होता है |
यह भी पढ़ें   यदि आपके पास पशु है तो बारिश के मौसम में करें यह काम, नहीं होगा आर्थिक नुकसान

प्रोजेक्ट रिपोर्ट का क्या करें ?

सब्सिडी अर्थात सरकारी योजना का लाभ लेने के लिए व्यक्ति को यह रिपोर्ट जिला पशुपालन विभाग से स्वीकृत करवाना होगा | यदि यह प्रोजेक्ट रिपोर्ट स्वीकृत हो जाती है तो व्यक्ति सब्सिडी के लिए पात्र होगा | सब्सिडी वैसे तो सभी वर्गों के लिए अलग-अलग होती है इसके आलावा राज्यों में भी सब्सिडी की मात्रा में परिवर्तन हो सकता है | सामन्यतः यह 50 प्रतिशत तक होती है | यदि आप बकरी पालन के लिए लोन लेना चाहते हैं तो जो प्रोजेक्ट पशुपालन विभाग से स्वीकृत हो गया है उसे आप अपने बैंक में लेकर जाएं | बैंक व्यक्ति की सारी पड़ताल करके यदि उचित लगता है तो लोन दे देती है | इच्छुक व्यक्ति यदि चाहे तो जिला पशुपालन विभाग से या किसी ट्रेनिंग सेंटर से बकरी पालन के लिए प्रशिक्षण ले सकता है |

 किसान समाधान आपके लिए 100 बकरी एवं 5 बकरे के लिए प्रोजेक्ट रिपोर्ट लेकर आया है | किसान इस रिपोर्ट को अपने अनुसार परिवर्तित कर सकते हैं | यदि आपको लगता है किसी घटक पर अधिक लागत है तो आप अपनी रिपोर्ट में वह लिख सकते हैं |

100 बकरी तथा 5 बकरे हेतु प्रोजेक्ट रिपोर्ट इस तरह बनायें:-

आवास के लिए भूमि

  1. एक बकरी के लिए 12 वर्ग फीट के लिए भूमि की जरूरत है

100 बकरी के लिए भूमि की आवश्यकता है – 100 बकरी × 12 वर्ग फीट = 1200 वर्ग फीट

  1. एक बकरा के लिए 15 वर्ग फीट की भूमि होना चाहिए |

इसलिए 5 बकरे के लिए भूमि की आवश्यकता है – 5 बकरे × 15 वर्ग फीट = 750 वर्ग फीट

  1. एक बकरी के बच्चे के लिए 8 वर्ग फीट भूमि होना चाहिए |

100 बकरी के बच्चे के लिए भूमि की जरूरत है – 200 बच्चे × 8 वर्ग फीट = 1600 वर्ग फीट

कुल भूमि की 1 + 2 + 3 = 2875 वर्ग फीट होना चाहिए

इस भूमि पर आवास बनाने पर आने वाले खर्च

  1. 200 रुपये प्रति वर्ग फीट भूमि पर खर्च आयेगा

कुल खर्च 200 रुपये × 2875 वर्ग फीट = 5,75,000 रुपये

बकरी तथा बकरे को खरीदने के लिए खर्च

गर्भवती बकरी जिसका वजन लगभग 16 किलो है | उस एक बकरी का मूल्य लगभग 4,000 रुपये है |

100 बकरी का मूल्य = 4,000 रुपये प्रति बकरी × 100 बकरी = 4,00,000

  • एक बकरे का मूल्य (वजन लगभग 20 किलो) 5,000 रुपये

इसलिए 5 बकरे का की लागत = 5 बकरा × 5000 रुपये = 25,000

  • बकरी तथा बकरे खरीदी पर आनेवाली लागत (2+3)

100 बकरी तथा 5 बकरे की खरीदी पर आनेवाला खर्च = 4,00,000 + 25,000 = 4,25,000 रुपये

आवास, तथा बकरी एवं बकरे की खरीदी पर आने वाली कुल लागत

(1+4)

यह भी पढ़ें   सरकार ने पशुपालन क्षेत्र के लिए लॉन्च की अब तक की पहली ऋण गारंटी स्कीम

कुल खर्च (आवास तथा बकरी और बकरे की खरीदी) = 5,75,000 + 4,25,000 = 10,00,000 रुपये

एक वर्ष में भोजन पर आने वाली लागत

100 बकरी तथा 5 बकरा के लिए 300 ग्राम भोजन

इसलिए 100 बकरी तथा 5 बकरे के 12 माह के लिए भोजन की मात्रा = 105 × 0.3 किलोग्राम × 365 दिन =  11497.5 किलोग्राम (लगभग 11500 किलोग्राम)

इस पर आने वाली लागत

  • भोजन पर आनेवाला खर्च = 15 रुपये प्रति किलो
  • कुल खर्च 4600 किलोग्राम × 15 = 69,000 रुपये

इंश्योरेंस पर होने वाला  खर्च एक वर्ष के लिए 

  • 5% एक वर्ष के लिए 100 बकरी तथा 5 बकरे की खरीदी मूल्य पर = 4,25,000 का 5% = 21,250 रुपये
  • चिकित्सा उपचार पर आनेवाला खर्च 150 रुपये प्रति बकरा या बकरी एक वर्ष के लिए = 150 रुपये × 105 (100 बकरी तथा 5 बकरा) = 15,750 रुपये

अतरिक्त खर्च

  • रस्सी, भूसा बनाने वाला मशीन या कुछ अन्य पर आने वाला खर्च 250 रुपये प्रति बकरी या बकरा = 250 रुपये × 42 (40 बकरी और 2 बकरा) = 26,250 रुपये
  • कुल खर्च = भोजन खर्च + इंश्योरेंस + चिकित्सा + अन्य खर्च =(1,72,500 + 21,250 + 15,750 + 26,250) रुपये  = 2,35,750 रुपये सालाना
  • अर्थात 100 बकरी एवं 5 बकरे को साल भर पालने पर बकरी पालक को 1 साल में लगभग 2 लाख 35 हजार 750 रुपये खर्च करना होगा |

100 बकरी एवं 5 बकरा पालन में प्रथम वर्ष में कुल खर्च

किसान या पशुपालक को पहले वर्ष में आवास एवं बकरे एवं बकरी की खरीद पर ही खर्च करना होता है जिसकी कुल लागत 10 लाख रुपये है | द्वितीय वर्ष से यह लागत नहीं लगती अगले वर्ष किसान को सिर्फ भोजन खर्च, इंश्योरेंस, चिकित्सा एवं अन्य खर्च ही लगता है | जिस पर 2,35,750 रुपये का खर्च आता है |

  • 100 बकरी एवं 5 बकरा खरीद + आवास = 5,75,000 + 4,25,000
  • भोजन खर्च + इंश्योरेंस + चिकित्सा + अन्य खर्च = 1,72,500 + 21,250 + 15,750 + 26,250 रुपये = 2,35,750 रुपये सालाना

बकरी पालन से होने वाली आय

यह अच्छा होगा की बकरी पालन की शुरुआत करने से पूर्व व्यक्ति उससे होने वाली अनुमानित आय भी निकाल ले | लोन के लिए इच्छुक व्यक्ति प्रोजेक्ट रिपोर्ट में बकरी फ़ार्म से होने वाली आय का विवरण भी दे सकते हैं जिससे वह बैंक को बता सके की वह लिया गया लोन किस तरह से वापस करेगें | इससे उन्हें लोन मिलने में आसानी होगी | किसान भाई यह लोन किसान क्रेडिट कार्ड पर भी ले सकते हैं |

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

36 टिप्पणी

    • सर प्रोजेक्ट बनाएँ, अपने यहाँ के पशु चिकित्सालय/ पशु पालन विभाग में सम्पर्क करें। प्रोजेक्ट अप्रूव होने पर लोन के लिए आवेदन करें।

    • सर प्रोजेक्ट बनाएँ, अपने यहाँ के पशु चिकित्सालय या ज़िले के पशु पालन विभाग में सम्पर्क करें। प्रोजेक्ट अप्रूव होने पर बैंक से लोन हेतु आवेदन कर सकते हैं।

    • प्रोजेक्ट बनायें, अपने यहाँ के पशु चिकित्सालय या जिले के कृषि विभाग में सम्पर्क कर आवेदन करें | यदि प्रोजेक्ट अप्रूव हो जाता है तो बैंक से लोन हेतु आवेदन करें |

    • प्रोजेक्ट बनायें, अपने यहाँ के पशु चिकित्सालय या जिले के पशुपालन विभाग में सम्पर्क करें प्रोजेक्ट अप्रूव होने पर बैंक से लोन हेतु आवेदन करें | बैंक से किसान क्रेडिट कार्ड पर भी लोन ले सकते हैं |

  1. सर मेरे पास 200 बीघा अर्थात 33 एकड़ बंजर अनुपजाऊ जमीन हैं तो इस जमीन से सोलर पावर प्लांट लगाने का इच्छा है तो कोई कम्पनी या सरकार मदद कर सकते हैं क्या।
    सम्पर्क सूत्र 9928712678

  2. मैं बकरी पालन के लिए ऋण लेना चाहता हूं।मुझे ऋण प्राप्त करने के लिए क्या दस्तावेज़ और कहां जमा करना पड़ेगा?और कितना राशि मिल सकता है।जानकारी के लिए कोई हेल्पलाइन न० है क्या?

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
यहाँ आपका नाम लिखें

ताजा खबरें

डाउनलोड एप