बकरी पालन हेतु लोन एवं सब्सिडी लेने के लिए इस तरह बनायें 20 बकरी तथा 1 बकरे के लिए प्रोजेक्ट

44
94757
bakri palan project report loan or anudan

20 बकरी तथा 1 बकरे हेतु प्रोजेक्ट रिपोर्ट

बकरी पालन एक ऐसा व्यवसाय है जिसे किसान एवं पशुपालक आसानी से शुरू कर सकते हैं और किसान अतिरिक्त आय के लिए बकरी पालन करना भी चाहते हैं | बकरी पालन के लिए बहुत से किसानों को लोन की आवशयकता भी होती है परन्तु किसनों को जानकारी के आभाव में लोन नहीं मिल पाता है | आज किसान समाधान आपको बताएगा किस तरह से किसान भाई या पशुपालक 20 बकरी पालन के लिए लोन एवं सरकार से अनुदान ले सकते हैं | सरकार की योजनाओं के अनुसार बकरियों के साथ 1 बकरा लेना भी अनीवार्य है इसलिए प्रोजेक्ट में हम 20 बकरी एवं 1 बकरे के लिए जानकारी देंगे |

बकरी पालन हेतु लोन एवं सब्सिडी इस तरह लें

पशुपालन लोन लेने के लिए सबसे पहले जरुरी होता है प्रोजेक्ट रिपोर्ट बनाना यह रिपोर्ट आपको गाय पालन, भैस पालन एवं बकरी पालन आदि के लिए जरुरी होता है | इस पोस्ट में हम बकरी पालन के प्रोजेक्ट की जानकारी आपको देंगें | बकरी पालन प्रोजेक्ट रिपोर्ट में इच्छुक व्यक्ति को यह बताना होता है की वह किस जगह पर बकरी पालन करना चाहता है यह जमीन उसकी है या वह किराये पर यह जमीन लेकर फार्म डालेगा | बकरी फार्म के लिए कितनी भूमि का इस्तेमाल करेगा और उसमें बकरी आवास के निर्माण में कितना खर्च आएगा यह पूरा विवरण देना होता है |

प्रोजेक्ट रिपोर्ट में आप जो बकरी एवं बकरा खरीदना चाहते हैं उसकी जो भी कीमत है बताना होता है | इच्छुक व्यक्ति अच्छी नस्ल की है बकरी एवं बकरे की खरीदने के लिए जो खर्च आ रहा है वह प्रोजेक्ट रिपोर्ट में अवश्य बताना होगा |

आवस के बाद जरुरी होता है भोजन, प्रोजेक्ट रिपोर्ट में यह जानकारी भी विस्तृत रूप से देनी होती है की बकरियों को साल भर में जो भी भोजन दिया जायेगा उस पर कितना खर्च आएगा | बकरी फार्म में सारी बकरियों को जो भोजन दिया जाएगा उसकी कुल लागत भी प्रोजेक्ट रिपोर्ट में बताना जरुरी है |

इसके आलावा बकरियों का इंश्योरेंस भी करवाना होगा जो किसान भाई पशुधन बीमा योजना के तहत करवा सकते हैं यह इंश्योरेंस का खर्च भी किसान भाइयों को प्रोजेक्ट रिपोर्ट में बताना होता है | इसके साथ ही किसानों को अपनी प्रोजेक्ट रिपोर्ट में कुछ अतरिक्त खर्च जैसे यदि कोई मशीन का उपयोग करता है या कुछ अन्य सामग्री खर्च करता है तो इन सभी बातों का विवरण भी प्रोजेक्ट रिपोर्ट में देना होता है | इस तरह पशुपालक को कुल लागत अर्थात बकरी फार्म खोलने के लिए कितना खर्च किया जाना है यह बताना होता है |

यह भी पढ़ें   मध्यप्रदेश में किसान अपनी उपज समर्थन मूल्य पर बेचने के लिए पंजीयन कब एवं कैसे करें

प्रोजेक्ट रिपोर्ट का क्या करें ?

सब्सिडी अर्थात सरकारी योजना का लाभ लेने के लिए व्यक्ति को यह रिपोर्ट जिला पशुपालन विभाग से स्वीकृत करवाना होगा | यदि यह प्रोजेक्ट रिपोर्ट स्वीकृत हो जाती है तो तो व्यक्ति सब्सिडी के लिए पात्र होगा | सब्सिडी वैसे तो सभी वर्गों के लिए अलग अलग होती है इसके आलावा राज्यों में भी सब्सिडी की मात्रा में परिवर्तन हो सकता है | सामन्यतः यह 50 प्रतिशत तक होती है |

यदि आप बकरी पालन के लिए लोन लेना चाहते हैं तो जो प्रोजेक्ट पशुपालन विभाग से स्वीकृत हो गया है उसे आप अपने बैंक में लेकर जाएं | बैंक व्यक्ति की सारी पड़ताल करके यदि उचित लगता है तो लोन दे देती है | इच्छुक व्यक्ति यदि चाहे तो जिला पशुपालन विभाग से या किसी ट्रेनिंग सेंटर से बकरी पालन के लिए प्रशिक्षण ले सकता है |

किसान समाधान आपके लिए 20 बकरी एवं 1 बकरे के लिए प्रोजेक्ट रिपोर्ट लेकर आया है | किसान इस रिपोर्ट को अपने अनुसार परिवर्तित कर सकते हैं | यदि आपको लगता है किसी घटक पर अधिक लागत है तो आप अपनी रिपोर्ट में वह लिख सकते हैं |

20 बकरी तथा 1 बकरा के लिए प्रोजेक्ट रिपोर्ट इस तरह है:-

बकरी फार्म हेतु आवास के लिए भूमि तथा उस पर लागत

आवास के लिए भूमि

एक  बकरी के लिए 12 वर्ग फीट के लिए भूमि की जरूरत है

20 बकरी के लिए भूमि की आवश्यकता है – 20 बकरी × 12 वर्ग फीट = 240 वर्ग फीट

  1. एक बकरा के लिए 15 वर्ग फीट की भूमि होना चाहिए |
  2. एक बकरी के बच्चे के लिए 8 वर्ग फीट भूमि होना चाहिए |

40 बकरी के बच्चे के लिए भूमि की जरूरत है – 40 बच्चे × 8 वर्ग फीट = 320 वर्ग फीट

कुल भूमि की 1 + 2 + 3 = 575 वर्ग फीट होना चाहिए

भूमि पर आवास बनाने पर आने वाले खर्च

  1. 200 रुपये प्रति वर्ग फीट भूमि पर खर्च आयेगा

कुल खर्च 200 रुपये × 575 वर्ग फीट = 1,15,000 रुपये

बकरी तथा बकरे को खरीदने के लिए खर्च

गर्भवती बकरी जिसका वजन लगभग 16 किलो है | उस एक बकरी का मूल्य लगभग 4,000 रुपये है |

20 बकरी का मूल्य = 4,000 रुपये प्रति बकरी × 20 बकरी = 80,000

  • एक बकरे का मूल्य वजन लगभग 20 किलो 5,000 रुपये
  • बकरी तथा बकरे खरीदी पर आनेवाली लागत (2+3)
यह भी पढ़ें   जानें क्या है पशु क्रूरता निवारण (पालतू पशु की दुकान) नियम
20 बकरी तथा 1 बकरे की खरीदी पर आनेवाला खर्च = 80,000 + 5,000 = 85,000 रुपये

आवास, तथा बकरी, बकरे की खरीदी पर आनेवाला लागत

(1+4)

कुल खर्च (आवास तथा बकरी और बकरे की खरीदी) = 1,15,000 + 85,000 = 2,00000 रुपये

एक वर्ष में भोजन पर आने वाली लागत

20 बकरी तथा 1 बकरे के लिए 300 ग्राम भोजन

इसलिए 20 बकरी तथा 1 बकरे के 12 माह के लिए भोजन की मात्रा = 21 × 0.3 किलोग्राम × 365 दिन = 2299.5 किलोग्राम

 आने वाली कुल लागत

भोजन पर आने वाला खर्च = 15 रुपये प्रति किलो 

कुल खर्च 2299.5 किलोग्राम × 15 = 34,500 रुपये

इंश्योरेंस पर होने वाला खर्च एक वर्ष के लिए 

5% एक वर्ष के लिए 20 बकरी तथा 1 बकरे की खरीदी मूल्य पर = 85,000 का 5% = 4,250 रुपये

चिकित्सा उपचार पर आनेवाला खर्च 150 रुपये प्रति बकरा या बकरी एक वर्ष के लिए = 150 रुपये × 21 (20 बकरी तथा 1 बकरा) = 3,150 रुपये

अतरिक्त खर्च

रस्सी, भूसा बनाने वाला मशीन या कुछ अन्य पर आनेवाला खर्च 250 रुपये प्रति बकरी या बकरा = 250 रुपये × 21 (20 बकरी और 1 बकरा) = 5,250 रुपये

20 बकरी एवं एक बकरे पर कुल लागत प्रथम वर्ष में

किसान या पशुपालक को पहले वर्ष में आवास एवं बकरे एवं बकरी की खरीद पर ही खर्च करना होता है जिसकी कुल लागत 2 लाख रुपये है | द्वितीय वर्ष से यह लागत नहीं लगती अगले वर्ष किसान को सिर्फ भोजन खर्च, इंश्योरेंस, चिकित्सा एवं अन्य खर्च ही लगता है | जिस पर 47,150 रुपये का खर्च आता है |

भोजन खर्च + इंश्योरेंस + चिकित्सा + अन्य खर्च = (34,500 + 4,250 + 3,150 + 5,250) रुपये  = 47,150 रुपये

नोट :- ऊपर दिए गए सभी खर्च में ज्यादा या कम हो सकता है यह उस स्थान की परिस्थिति पर निर्भर करता है |

बकरी पालन से होने वाली आय

यह अच्छा होगा की बकरी पालन की शुरुआत करने से पूर्व व्यक्ति उससे होने वाली अनुमानित आय भी निकाल ले | लोन के लिए इच्छुक व्यक्ति प्रोजेक्ट रिपोर्ट में बकरी फ़ार्म से होने वाली आय का विवरण भी दे सकते हैं जिससे वह बैंक को बता सके की वह लिया गया लोन किस तरह से वापस करेगें | इससे उन्हें लोन मिलने में आसानी होगी | किसान भाई यह लोन किसान क्रेडिट कार्ड पर भी ले सकते हैं |

अब किसान पशुपालन एवं मछलीपालन के लिए भी किसान क्रेडिट कार्ड पर लोन ले सकेगें

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

44 COMMENTS

    • पशु चिकित्सालय अथवा जिला पशुपालन विभाग में सम्पर्क करें |

    • किअपने जिले के पशुचिकित्सालय या पशुपालन विभाग में संपर्क करें |

    • किस राज्य से हैं ? आप किसान क्रेडिट कार्ड पर भी ले सकते हैं |

  1. Ji hame bhi cahiye lon name Firoz mansuri from gaav runija tahsil suwasra district mandsour madhya Pradesh se mobile number 8485050117

    Or credit card bhi banvana hai aap hamari hailp kijiye

    • क्रेडिट कार्ड के लिए बैंक में एवं बकरी पालन के लिए प्रोजेक्ट बनायें एवं पाने जिले के या तहसील के पशु चिकित्सालय या पशु पालन विभाग में सम्पर्क करें |

    • अपने जिले या ब्लाक के पशुपालन विभाग या पशुपालन विभाग में सम्पर्क करें |प्रोजेक्ट बनायें |

    • प्रोजेक्ट बनायें | अपने जिले या ब्लाक के पशुपालन विभाग या पशु चिकित्सालय में सम्पर्क करें

    • प्रोजेक्ट बनायें | अपने जिले या ब्लॉक के पशु पालन विभाग या पशु चिकित्सालय में सम्पर्क करें |

    • जी प्रोजेक्ट बनाये | अपने जिले के या ब्लाक के पशु पालन विभाग या पशु चिकित्सालय में सम्पर्क करें |

    • प्रोजेक्ट बनायें एवं अपने जिले या ब्लाक के पशु पालन विभाग या पशु चिकित्सालय में सम्पर्क करें

    • जिस बैंक में सम्मान निधि का पैसा आ रहा है वहां से आवेदन करें |

    • हाँ जी है | आप अपने ब्लाक या जिले के पशुपालन विभाग या पशु चिकित्सालय से सम्पर्क करें |

    • जी प्रोजेक्ट बनायें | अपने यहाँ के पशु चिकित्सालय या जिले के पशुपालन विभाग में सम्पर्क करें |

  2. Mai Bihar ke Ara dist.se hoo mujhe Goat farming Karna hai mujhe help chahiye. Ki kaise Bank se loan milega aur subsidy bhi. Plz reply me sir thank you

    • जी जब ऑनलाइन आवेदन हो तब आवेदन करें | अभी प्रोजेक्ट बनायें अधिक जानकारी के लिए अपने यहाँ के पशु चिकित्सालय या पशु पालन विभाग में संपर्क करें |

  3. मै बकरी पालन पे लोन लेना चाहता हु अगर मैं पशुपालन विभाग मे जाता हूं तो वो बोलते है कि अभी कोई स्कीम नही आयी है लोन की
    मुझे बताये मै लोन कैसे लू

    • जी आवेदन जिले से ही होते हैं ? आवेदन की तारीख आये जब आवेदन करें |

    • प्रोजेक्ट बनायें अपने यहाँ के पशु चिकित्सालय या जिले के पशु पालन विभाग में सम्पर्क करें |

    • जी प्रोजेक्ट बनायें, अपने यहाँ के पशु चिकित्सालय या जिले के पशु पालन विभाग में सम्पर्क करें |

    • अपने यहं के पशु चिकित्सालय या जिले के पशु पालन विभाग में सम्पर्क करें

    • प्रोजेक्ट बनायें, अपने यहाँ के पशु चिकित्सालय में या जिले के पशु पालन विभाग में सम्पर्क करें | प्रोजेक्ट अप्रूव होने पर बैंक से सम्पर्क करें |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here