बर्ड फ्लू को लेकर सरकार ने जारी किया अलर्ट

0
752
bird flu in india

बर्ड फ्लू अलर्ट

कोरोना वायरस के साथ अब देश में एक और वायरस के संक्रमण का प्रकोप देश में देखा जा रहा है। देश में धीरे-धीरे बर्ड फ्लू पैर पसारते जा रहा है, इस संक्रमण के कारण अब तक कई पक्षियों की मौत हो चुकी है। हिमाचल के कई हिस्‍सों में इस संक्रमण के कारण प्रवासी पक्षियों के मरने की पुष्‍टि की गई है। राजस्थान, मध्यप्रदेश, हिमाचल प्रदेश एवं केरल में पक्षियों में इसकी पुष्टि हो चुकी है | राजस्थान, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश और केरल में बर्ड फ्लू के प्रकोप के मद्देनजर राज्य सरकारों ने अलर्ट जारी कर दिया है। इन राज्‍यों में अब तक बड़ी संख्‍या में पक्षियों की मौत हो चुकी है। वहीं बर्ड फ्लू के कारण बिहार, झारखंड, उत्तराखंड और कर्नाटक में भी सतर्कता बरती जा रही है।

मध्यप्रदेश में बर्ड फ्लू को लेकर जारी किया अलर्ट

पशुपालन मंत्री श्री प्रेम सिंह पटेल के निर्देश पर प्रदेश में हो रही कौओं की मृत्यु पर प्रभावी नियंत्रण लगाने के लिये अलर्ट जारी कर दिया गया है। प्रदेश के सभी जिलों को सतर्क रहने तथा किसी भी प्रकार की परिस्थिति में कौओं और पक्षियों की मृत्यु की सूचना पर तत्काल रोग नियंत्रण के लिये भारत सरकार द्वारा जारी निर्देशों के तहत कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये हैं। प्रदेश में 23 दिसम्बर से 3 जनवरी, 2021 तक इंदौर में 142, मंदसौर में 100, आगर-मालवा में 112, खरगोन जिले में 13, सीहोर में 9 कौओं की मृत्यु हुई है। मृत कौओं के सैम्पल भोपाल स्थित स्टेट डी.आई. लैब तत्काल भेजे जा रहे हैं। इंदौर में कंट्रोल-रूम की स्थापना कर रेपिड रिस्पांस टीम द्वारा कार्यवाही की जा रही है।

यह भी पढ़ें   घरबाड़ी और छत पर सब्जी उत्पादन के लिए 50 प्रतिशत अनुदान पर

पक्षियों में कैसे पहचानें बर्ड फ्लू के लक्षण

पशुपालन मंत्री पटेल ने कहा कि कौओं में पाया जाने वाला वायरस H5N8 अभी तक मुर्गियों में नहीं मिला है। मुर्गियों में पाया जाने वाला वायरस सामान्यत: H5N1 होता है। पशुपालन मंत्री पटेल ने लोगों से अपील की है कि पक्षियों पर नजर रखें। यदि पक्षियों की आँख, गर्दन और सिर के आसपास सूजन है, आँखों से रिसाव हो रहा है, कलगी और टांगों में नीलापन आ रहा है, अचानक कमजोरी, पंख गिरना, पक्षियों की फुर्ती, आहार और अंडे देने में कमी दिखाई देने के साथ असामान्य मृत्यु दर बढ़े, तो सतर्क हो जायें। इसे कदापि छुपाएँ नहीं, वरना यह परिवार के स्वास्थ्य के लिये नुकसानदायक हो सकता है। पक्षियों की मृत्यु की सूचना तत्काल स्थानीय पशु चिकित्सा संस्था या पशु चिकित्सा अधिकारी को दें।

राजस्थान में अब तक 600 कौओें की एवियन इनफ्लूएन्जा से मौत

राजस्थान के पशुपालन मंत्री श्री लालचंद कटारिया ने कहा कि हम कोरोना से जूझ रहे हैं और अब बर्ड फ्लू आ गया। यह अभी चिकन और अंडों में नहीं पाया गया। हमें सूचना मिली है कि अलग-अलग जगहों पर 600 के आसपास कौवे मृत पाए गए , उन जगहों को चिन्हित कर आने वाले समय में इस संक्रमण को रोकने के प्रयास करेंगे |

यह भी पढ़ें   मध्यप्रदेश में गेहूँ के ई-उपार्जन हेतु पंजीयन 28 फरवरी तक

केरल में लगभग 50 हजार बतखों को मारने का आदेश

केरल के अलप्पुझा और कोट्टायम जिलों में बर्ड फ्लू के मामलों की पुष्टि हुई है। यहां लगभग 50 हजार बतखों को मारने का आदेश दिया गया है। राज्य के वन, पशुपालन मंत्री के. राजू ने कहा, ‘जहां संक्रमण का पता चलेगा, वहां करीब 1 किलोमीटर के दायरे में सभी पक्षियों को मार दिया जाएगा। राज्य में बर्ड फ्लू से करीब 12 हजार बतखों की मौत पहले ही हो चुकी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here