किसान अब आसानी से ले सकेंगे ट्रेक्टर एवं अन्य कृषि यंत्र सब्सिडी पर

5
39762
views

ट्रेक्टर एवं अन्य कृषि यंत्रों हेतु अनुदान

कृषि यंत्र योजनाएं

कृषि को आधुनिक बनाने के लिए कृषि यंत्र अति महत्वपूर्ण है परन्तु किसान की आर्थिक हालत अच्छी न होने के कारण कृषि यंत्र खरीदने में असमर्थ हैं ऐसे में सरकार के लिए कृषि को आधुनिक बनाना एक चुनौती पूर्ण कार्य है | सरकारों द्वारा किसानों को आर्थिक मदद करने के लिए केंद्र एवं राज्य सरकार बहुत सी योजनायें चला रही हैं परन्तु फिर भी अधिकांश किसान इन योजनाओं के लाभ नहीं ले पाते हैं |  सभी किसान इन योजनाओं का लाभ ले पायें इसके लिए राज्य सरकार द्वारा नई-नई चयन प्रक्रिया एवं नियम बनायें जाते हैं ताकि ट्रेक्टर एवं अन्य कृषि यंत्र सब्सिडी पर सभी किसानों को बिना किसी भेद भाव के दिए जा सकें |

वैसे अभी मध्यप्रदेश के किसानों के लिए एक अच्छी खबर है | अभी तक मध्यप्रदेश सरकार द्वारा किसानों को पहले आओ पहले पाओ के आधार पर किसानों से आवेदन लिए जाते थे और इसके लिए एक निश्चित समय पर आवेदन हेतु पोर्टल खुलता था और लक्ष्य ख़त्म होने पर आवेदन बंद हो जाते थे | यह प्रक्रिया बहुत तेज होने के कारण अधिकांश किसान जब पोर्टल पर आवेदन करने जाते थे तो वह पाते थी की आवेदन तो खुल ही नहीं रहा है क्योंकि उस जिले के लक्ष्य तो कुछ मिनटों में ही खत्म हो गए हैं | इस कारण किसानों को लम्बा इंतजार करने के बाद निराशा ही हाथ लगती थी परन्तु अब सरकार ने इस नियम में परिवर्तन कर दिया है तो जानते हैं क्या है  नई चयन प्रक्रिया:-

यह भी पढ़ें   किसानों के फसल बीमा की राशि जमा करेगी यह सरकार

ट्रेक्टर एवं अन्य कृषि यंत्र सब्सिडी पर लेने हेतु नई चयन प्रक्रिया  

अभी तक कृषि यंत्र अनुदान पोर्टल पर किसानों का चयन पहले आओ पहले पाओ के आधार पर होता था अर्थात लक्ष्य ख़त्म होने पर किसान के लिए आवेदन बंद हो जाते थे परन्तु अब किसान जिस दिन से आवेदन शुरू होंगे उसके बाद 10 दिन तक आवेदन कर सकते हैं यह 10 दिन में सभी इच्छुक किसान आवेदन कर पाएंगे चाहे जिले के लिए लक्ष्य कितने भी आवंटित हुए हों इससे उन सभी किसानों को फायदा होगा जो अभी लेट होने के कारण आवेदन नहीं कर पाते थे |

अब से ई – कृषि यंत्र अनुदान पोर्टल पर हितग्राहियों के चयन की प्रक्रिया में शासन द्वारा परिवर्तन किया गया है।  नयी व्यवस्था के अंतर्गत जिस तिथि को पोर्टल पर लक्ष्य प्रदर्शित किये जाएंगे उस तिथि से 10 दिवसों तक कोई भी कृषक अपना ऑनलाइन आवेदन प्रस्तुत कर सकेंगे। 10 दिवस उपरान्त प्राप्त सभी आवेदनों में से हितग्राहियों की चयन सूची कम्प्यूटरीकृत लॉटरी के माध्यम से तैयार करके पोर्टल पर प्रदर्शित की जाएगी। चयन सूची में लक्ष्यों की संख्या के बराबर हितग्राहियों का चयन किया जाएगा तथा उतनी ही संख्या में आवेदकों को प्रतीक्षा सूची में भी रखा जाएगा। उक्त व्यवस्था तत्काल प्रभाव से लागू की गयी है। अतः भविष्य में पोर्टल के माध्यम से उपरोक्त व्यवस्था के अंतर्गत ही आवेदन स्वीकार किये जायेंगे।

यह भी पढ़ें   फसल क्षति होने पर मध्यप्रदेश सरकार किसानों को कितना मुआवजा देगी

सिंचाई यंत्र आवेदन हेतु भी यही प्रक्रिया 

किसानों को यह भी साफ कर दें की यही प्रक्रिया अब सिंचाई यंत्र जैसे ड्रिप प्रणाली, स्प्रिंकलर सिस्टम, पाइपलाइन, डीजल पम्प आदि उपकरण सब्सिडी पर लेने पर भी लागू कर दिया है | अगले बार जब नही किसान इन सिंचाई यंत्रों हेतु आवेदन करेंगे वह भी दस दिनों के अन्दर कर सकेंगे एवं किसानों का चयन लोटरी द्वारा वह भी कम्प्यूटरीकृत अर्थात कंप्यूटर के माध्यम से चयन होगा |

मध्यप्रदेश के किसान कृषि एवं सिंचाई यंत्र हेतु आवेदन कहाँ करें

किसानों को कृषि एवं सिंचाई यंत्र अनुदान पर देने के लिए मध्यप्रदेश सरकार द्वारा एक पोर्टल से ई – कृषि यंत्र अनुदान पोर्टल https://dbt.mpdage.org/index.htm  तैयार किया गया है जिस पर सरकार द्वारा समय समय पर लक्ष्य जारी कर किसानों से आवेदन मांगे जाते हैं और किसान को उस दिनांक से आवेदन करने होते हैं | किसान का चयन होने पर किसान को कृषि यंत्र ख़रीदना होता है एवं उसक बिल लगाना होता है इसके बाद कृषि विभाग के अधिकारीयों द्वारा उसका सत्यापन किया जाता है | यदि सत्यापन में सभी चीजें सही पाई जाती है तो कृषक के बैंक खाते में सीधे सब्सिडी की राशि पहुंचा दी जाती है | इस नई प्रक्रिया लागू होने के बाद किसान जल्द ही सभी कृषि यंत्रों एवं सिंचाई यंत्रों हेतु आवेदन कर सकेंगे |

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

5 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here