8 नवंबर से बागवानी के इन विषयों पर किसानों को दिया जायेगा प्रशिक्षण

4
3940
training on horticulture farming

बागवानी फसलों के लिए ट्रेनिंग

किसानों को परंपरागत खेती में हो रहे नुकसान से बचाने के लिए एवं किसानों की आय को बढ़ाने के उद्देश्य से सरकार द्वारा बागवानी फसलों को बढ़ावा दिया जा रहा है | इसके लिए किसानों को कृषि विश्वविद्यालयों एवं कृषि विज्ञान केंद्र द्वारा समय-समय पर अलग-अलग विषयों पर प्रशिक्षण प्रदान किया जाता है | जिसका लाभ लेकर किसान कृषि की नवीनतम तकनीकों को अपनाकर अधिक लाभ अर्जित कर सकते हैं | ऐसे ही प्रशिक्षण कार्यक्रमों की शुरुआत हरियाणा के उद्यान विभाग द्वारा की जा रही है जो 8 नवम्बर से लेकर 3 दिसम्बर तक चलेगें |

किसानों को कब किस विषय पर दिया जायेगा प्रशिक्षण

हरियाणा उद्यान विभाग द्वारा 8 नवंबर से 12 नवंबर तक सब्जियों की खेती पर प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। इसके अलावा 15 नवंबर से 19 नवंबर तक प्रसंस्करण परीक्षण एवं मूल्यवर्धन पर, 22 नवंबर से 26 नवंबर तक बागवानी फसलों में तुड़ाई उपरांत प्रबंधन व प्रसंस्करण प्रौद्योगिकी पर तथा 29 नवंबर से 3 दिसंबर तक मधुमक्खी पालन के माध्यम मकरंद समर्थन पर प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। 

यह भी पढ़ें   1 नवम्बर से शुरू होगी धान की MSP पर खरीद, किसान 31 अक्टूबर तक करा सकेंगे धान बेचने के लिए पंजीयन

प्रशिक्षण के लिए किसान कब एवं कहाँ करें आवेदन

हरियाणा उद्यान विभाग द्वारा आगामी 8 नवंबर से 3 दिसंबर 2021 तक चार प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे | जिनमें प्रत्येक बैच में 40 किसानों को उद्यान प्रशिक्षण संस्थान उचानी (करनाल) में प्रशिक्षित किया जाएगा। उद्यान विभाग की वेबसाइट http://kaushal.hortharyana.gov.in के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन किए जा सकते है। प्रशिक्षण के लिए प्रार्थी की न्यूनतम आयु 18 वर्ष व अधिकतम 60 वर्ष होनी चाहिए। प्रशिक्षण कार्यक्रम के दौरान राज्य सरकार एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी की गई कोविड-19 के सभी नियमों का पालन किया जाएगा।

4 COMMENTS

    • सर कृषि सम्बंधित किसी भी तरह के प्रशिक्षण के लिए जिले के कृषि विज्ञान में सम्पर्क करें |

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here