कर्ज माफी सम्बंधित समस्याओं की शिकायत कहाँ कर सकेगें किसान

0
837
views

किसान कर्ज माफी समस्याओं की शिकायत

जब किसानों का कृषि लोन माफ़ हुआ तो किसानों में एक ख़ुशी की लहर दौड़ गई आखिर वर्षों बाद किसानों की मांग तथा जरुरत को पूरा किया जा रहा था | पर असल समस्या इस योजना को लागु करने में था | इतने बड़े राज्य में लगभग 55 लाख किसानों के अलग – अलग बैंकों खतों की सूचि को तैयार करना था | शुरू से ही ऐसा लगने लगा था की किसानों की कर्ज माफ़ी में बहुत सी गलतियाँ हो सकती है तो दूसरी तरफ बिचौलियों का सक्रिय हो जाने से समस्या और भी बढ़ जाती है | हुआ भी वैसा ही 15 जनवरी से किसानों के लिए पंचायत में हरा, सफ़ेद तथा गुलाबी फार्म भरने की प्रक्रिया शुरू किया गया |

पहले दिन किसानों का फार्म नहीं भरा जा सका क्योंकि बैंक ने किसानों की सूची पंचायत को उपलब्ध नहीं करा सकी थी | 16 जनवरी से बैंकों के तरफ से सूची उपलब्ध कराने लगी लेकिन यहाँ भी समस्या यह आई की सभी किसानों की सूचि उपलब्ध नहीं हो सकी |आज की तारीख में भी कई जगहों पर सभी सरकारी , ग्रामीण तथा सहकारी बैंकों की सूचि उपलब्ध नहीं हो सकी है |

यह भी पढ़ें   सेवंती के फूलों की खेती से करोड़पति बने किसान

जिस बैंक से किसानों की सूची उपलब्ध कराई है उसमें बहुत सारी खमियां निकलकर आने लगी है | अब शिकायत यहाँ तक आ पहुंची है की कुछ किसानों ने लोन लिया ही नहीं है फिर भी किसानों का नाम सूची  में आ रहा है | तो दूसरी तरफ कुछ किसानों पर दो लाख से ज्यादा लोन है तो माफ़ी में 20 रूपया से लेकर 300 रुपया तक की कर्ज माफ़ी की जा रही है | सरकार ने इतनी बड़ी योजना शुरू तो कर दी है लेकिन समस्या समधान की कोई व्यवस्था नहीं की गई |

किसान कहाँ करें शिकायत

जब मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ के पास यह बात पहुंची तो इसके लिए समस्या की सुनवाई के लिए अधिकारी को नियुक्त कर दिया | अब किसान कर्ज माफ़ी से जुड़े किसी भी समस्या के लिए अपने जिले के कलेक्टर, राजस्व / कृषि/ सहकारी विभाग के अधिकारीयों को कर सकते हैं | यहाँ पर इस बात का भी ध्यान देने है की मध्य प्रदेश राज्य सरकार ने किसानों के लिए किसी भी तरह का हेल्प लाईन नंबर अभी जारी नहीं किया है | जिससे किसानों की समस्या बनी रह सकती है | जैसे ही शिकायत के लिए हेल्पलाइन नम्बर शुरू होगा तो किसान समाधान इसकी जानकरी आप तक पहुचायेगा |

यह भी पढ़ें   किसान ट्रांसफार्मर परिवर्तन योजना: अब किसान की शिकायत पर 6 घंटे में बदलेगा जला हुआ ट्रांसफार्मर

उल्लेखनीय है की जय किसान फसल ऋण माफ़ी योजना के लिए किसानों पिछले 10 दिनों में 35 लाख 9 हजार फार्म भरकर जमा करा दिए हैं | जमा हुये आवेदन – पत्रों में 56 प्रतिशत हरे, 38 प्रतिशत सफ़ेद और 6 प्रतिशत गुलाबी आवेदन – पात्र हैं | अभी तक 19 लाख 70 हजार 242 हरे, 13 लाख 26 हजार 393 सफ़ेद और 2 लाख 12 हजार 756 गुलाबी आवेदन भरे जा चुके हैं | किसानों के द्वारा कर्ज माफ़ी के फार्म भरने की प्रक्रिया 5 फ़रवरी 2019 तक चलेगी |

किसान समाधान के Youtube चेनल को सब्सक्राइब करने के लिए नीचे दिए गए बटन को दबाएँ

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here