Saturday, November 26, 2022
Homeकिसान समाचार2 लाख 20 हजार से अधिक किसानों को दिए गए कृषि कनेक्शन

2 लाख 20 हजार से अधिक किसानों को दिए गए कृषि कनेक्शन

Must Read

आज के मंडी भाव

जानिए देश भर की सभी मंडियों के भाव

सिंचाई के लिए कृषि कनेक्शन

कृषि क्षेत्र में उत्पादन बढ़ाने के लिए सिंचाई एक महत्वपूर्ण घटक है | सरकार द्वारा अधिक से अधिक किसानों को सिंचाई की सुविधा उपलब्ध कराई जा सके इसके लिए कई योजनाएं चलाई जा रही है | किसानों को इसके लिए न केवल सस्ती बिजली उपलब्ध करवाई जाती है बल्कि अधिक से अधिक किसानों को बिजली कनेक्शन उपलब्ध करवाए जा रहे हैं | जिन स्थानों पर बिजली नहीं पहुँच पा रही है वहां किसानों को सब्सिडी पर सोलर पम्प दिए जा रहे हैं ताकि सभी किसान समय पर फसलों की सिंचाई कर उत्पादन बढ़ा सकें |

राजस्थान राज्य सरकार ने पिछले ढाई साल में 2 लाख 19 हजार 779 कृषि कनेक्शन दिये है, यह बात राजस्थान के ऊर्जा मंत्री  डॉ. बी.डी. कल्ला ने मंगलवार को विधानसभा में दी | ऊर्जा मंत्री ने कृषि विद्युत कनेक्शन के संबंध में बताया कि गत सरकार के समय 5 साल में 2 लाख 68 हजार 522 कृषि कनेक्शन दिये, हमने ढाई साल में 2 लाख 19 हजार 779 कृषि कनेक्शन दिये है, बजट घोषणा के अनुसार वर्तमान वित्तीय वर्ष में राज्य में 50 हजार कृषि कनेक्शन दिया जाना लक्षित है। दिनांक 12.09.2021 तक 33,240 कृषि कनेक्शन जारी किये जा चुके हैं। शेष कृषि कनेक्शनों को जारी किये जाने हेतु आवश्यक संसाधन एवं सामान की समुचित व्यवस्था की गई है।

यह भी पढ़ें   कृषि वैज्ञानिकों ने विकसित की सोयाबीन की उच्च उपज देने वाली तीन क़िस्में

90 पैसे प्रति यूनिट की दर पर किसानों को दी जा रही है बिजली

उर्जा मंत्री ने कहा कि जब पहली बार श्री अशोक गहलोत मुख्यमंत्री बने थे तब उन्होंने घोषणा की थी कि खेती की बिजली के दाम नहीं बढ़ेगें और हमने तबसे 90 पैसे प्रति यूनिट बिजली किसानों को दे रहे है। सरकार ने यह घोषणा की थी कि 5 वर्ष तक किसानों की विद्युत दरों में वृद्धि का भार सरकार स्वयं वहन करेगी। इसके अनुरूप विद्युत विनियामक आयोग दिनांक 06.02.2020 के आदेश द्वारा किसानों के लिए बढ़ायी गई विद्युत दरों का भार राज्य सरकार वहन कर रही है। विद्युत दरों में वृद्धि से 20 लाख बीपीएल, 42 लाख छोटे घरेलू उपभोक्ताओं व 14 लाख किसानों  सहित 76 लाख उपभोक्ताओं पर विद्युत दरों में कोई प्रभावी वृद्धि नहीं की गई है।

किसानों को दिया जा रहा है 1,000 रुपये प्रति माह का अनुदान

किसान मित्र ऊर्जा योजना” के तहत प्रति माह किसानों को 1,000 रूपये तक का अनुदान दिया जा रहा है | अगर किसी किसान को एक माह में कृषि बिजली बिल 1,000 रूपये आता है तो उसे किसी प्रकार की राशि नहीं चुकानी पड़ेगी | 1,000 रूपये से कम बिजली बिल आने पर किसान को उस माह की सब्सिडी अगले माह में जोड़ दी जाएगी | इस योजना के तहत किसान को प्रति वर्ष 12,000 रूपये तक की सब्सिडी दिए जाने का प्रावधान है |

यह भी पढ़ें   अब अकृषि कार्यों के लिए भी मिलेगा बिना किसी ब्याज के लोन
-Sponser Links-
-विज्ञापन-

14 COMMENTS

  1. Sir mera new karchi kanekasn hai usme 1sal ho gye dimad bhare huye par abhi tak koi saman nai mila mene byaz pe leke boring karvaya 5lakh karcha kar ke par mere ko koi saman nai phir jab dena hi nai tha sman to dimand kyu zma karvaya plzzz 9537150358
    Barmer distik me Serva tahchil me sanwa gav hai

    • सर मध्यप्रदेश में 3 hp सिंगल फेज अस्थाई कनेक्शन के लिए 5,118 वहीँ थ्री फेज के लिए 4879 रुपये charge है | आप अपने यहाँ के बिजली विभाग में सम्पर्क करें या टोल फ्री नम्बर 1912 पर कॉल करें |

    • https://upagriculture.com/ पर पंजीकरण करें | जब आवेदन होंगे तब आवेदन कर सकते हैं | PM-KUSUM योजना के लिए टोल फ्री नम्बर 1800-180-3333 पर कॉल कर जानकारी ले सकते हैं |

  2. सर जो 25 का ट्रंसफार्मर सब्सिडी के तहत 25000 का मिल रहा था.। क्या अब वो योजना बंद हो चुकी हैं। यहाँ बिजली विभाग बाले मुर्ख बना रहे हैं
    सर मैं (M.P. ) जिला उमरिया से हूँ।

    • किस राज्य से हैं सर आप ? अपने यहाँ के बिजली विभाग में विद्युत कनेक्शन के लिए आवेदन करें | यदि तब भी नहीं मिलता तो सब्सिडी पर सोलर पम्प के लिए आवेदन करें | या सी.एम हेल्पलाइन पर कॉल करें |

  3. Bhai rajasthan me bund bund ke form ka connection diya ja rha hai jisme 3 year tk 2.75 rupee ke according bill aayega
    Or regular wale connection khulne ki abhi koi sambhavna nhi hai

    Aapko pta hai to bta dijiye ki kab tk aayege regular 3phase connection

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

किसान समाधान से यहाँ भी जुड़ें

217,837FansLike
822FollowersFollow
54,000SubscribersSubscribe
-विज्ञापन-
-विज्ञापन-

सम्बंधित समाचार

-विज्ञापन-
ऐप खोलें