किसानों तक योजनाओं का लाभ पहुँचाने के लिए सभी पंचायतों में खोले जा रहे हैं कृषि कार्यालय

13
59633
krishi katyalay panchayt yojna

पंचायत स्तर पर कृषि कार्यालय

किसानों के लिए देश भर में केंद्र सरकार तथा राज्य सरकार के तरफ से बहुत से योजनाओं को संचालित कर रही है | इसमें कुछ योजनाओं को केंद्र सरकार अपने तरफ से चला रही है तो कुछ योजनाओं को राज्य सरकार के द्वारा संचालित किया जा रहा है | इसके अलावा देश के विभिन्न बैंकों के द्वारा भी कृषि संबंधित योजनाओं को संचालित किया जाता है | इसके बाबजूद भी देश के किसानों को बहुत सी योजनाओं के बारे में जानकारी नहीं होती और ना ही इस बात की जानकारी होती है की बे कहाँ से योजनाओं की जानकारी लेकर उनका लाभ प्राप्त कर सकें | इसके अतिरिक्त किसानों को दिन प्रतिदिन बहुत सी समस्याओं का सामना करना पड़ता है जिसके समाधान के लिए वह कहाँ जाएँ इसकी जानकारी भी किसानों को नहीं होती है | इन्हीं कारणों से किसान योजनाओं का लाभ प्राप्त करने से किसान वंचित रह जाते हैं |

इसको ध्यान में रखते हुए बिहार राज्य सरकार ने किसनों के लिए एक नई पहल की शुरुआत की हैं | राज्य सरकार किसानों को योजनाओं संबंधित जानकारी के लिए पंचायत स्तर पर सुविधा देने जा रही है | इसके अंतर्गत किसानों कि सुविधा के लिए पंचायत स्तर पर कृषि कार्यालय खोले जा रहे हैं | जिसमें किसानों योजनाओं सम्बंधित जानकारी दी जाएगी |

यह भी पढ़ें   सबसे बड़ी खबर ! मध्यप्रदेश के किसानों का हुआ लोन माफ़

8,402 पंचायतों में खोले गए कृषि कार्यालय

कृषि मंत्री ने कहा कि राज्य में 8,402 पंचायतों में से 5,050 सरकारी भवनों में कृषि कार्यालयों की स्थापना कि गई हैं | इसके अतिरिक्त जिस पंचायत में पंचायत सरकार भवन का निर्माण नहीं हुआ है, उस पंचायत में किराये के कमरे लिये गये हैं तथा इसके लिए किराया उपलब्ध कराया जा रहा है | ऐसे 3,352 पंचायतों में कृषि कार्यालयों के लिए प्रति पंचायत अधिकतम 1,000 रूपये प्रति माह की दर से कुल 402.24 लाख रूपये इस वित्तीय वर्ष में किराये पर व्यय की जाएगी |

कृषि कार्यालय में यह सभी अधिकारी उपलब्ध रहेंगे

पंचायत कृषि कार्यालय में किसान सलाहकार नियमित रूप से उपस्थित रहेंगे, इसके अतिरिक्त कृषि समन्वयक भी हर सप्ताह में 3–3 दिन प्रत्येक पंचायत कृषि कार्यालय में उपस्थित रह कर अपने कार्यों का सम्पादन करेंगे | कृषि से जुडी सभी योजना तथा कृषि से जुडी अन्य जानकारी के लिए किसान इस कृषि कार्यालय में आ सकेंगे | किसान अपने ही पंचायत के कृषि कार्यालयों में कृषि समन्वयक तथा किसान सलाहकर द्वारा विभागीय योजनाओं का लाभ एवं कार्यक्रमों के बारे में सारी जानकारी उपलब्ध कराने के साथ  –साथ विभिन्न फसलों के बारे में तकनीकी ज्ञान भी प्राप्त कर सकेंगे |

यह भी पढ़ें   15 अप्रैल से शुरू होगी 800 केन्द्रों एवं खेतों से समर्थन मूल्य पर गेहूं एवं अन्य रबी फसलों की खुली खरीद

किसानों को नहीं जाना होगा ब्लाक में

डॉ. प्रेम कुमार ने बताया कि पंचायतों में कृषि कार्यालय खुल जाने से राज्य के अन्नदाता किसान भाईयों एवं बहनों को कृषि विभाग की योजनाओं का लाभ लेने के लिए प्रखण्ड अथवा जिला कृषि कार्यालय का चक्कर नहीं लगाना पड़ेगा | अब किसानों को 20–25 किलोमीटर की दुरी तय कर प्रखंड / जिला आने की आवश्यकता नहीं होगी | इससे किसानों का आर्थिक बोझ घटेगा साथ ही जरुरत पड़ने पर वह अपनी पंचायत से ही जानकारी प्राप्त कर सकेगें |

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

13 COMMENTS

  1. और एग्रीकल्चर स्टूडेंट्स के लिए क्या है जो पढ़ लिख के बाग रहे है उनके लिए भी है कुछ रोजगार 6-7हज़ार तक का
    ताकी वो भी कुछ कर सके
    Pradeep kumar lodhi
    Bsc agricultural graduate
    Aks university satna mp
    7987714804

    • अपने जिले के कृषि विज्ञानं केंद्र या जिला कृषि विभाग में सम्पर्क करें |

  2. हमें आज भी किसान क्रेडिट कार्ड नहीँ दिया जा रहा है
    कभी पटवारी कोई बहाना बनाता है, और कभी बैंक वाले
    जबकि agriculture department ने हम सब की फ़ाइल बैंक को दे दी है , ये किसी एक की बात नही है यहां पर मेरे जैसे बहुत लोग है , इस के लिए क्या कोई उपाय है
    सुदेश शर्मा
    जिल्ला किश्तवार
    ब्लाक त्रिगाम
    पंचायत अग्रल

    • जिस बैंक में सम्मान निधि का पैसा आ रहा है वहां से बनवाएं | बैंक के टोल फ्री नम्बर पर कॉल करें |

    • जी आप पाने जिले के कृषि विज्ञानं केंद्र या जिला कृषि विभाग से जानकारी ले सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here