बड़ी खबर ! किसानों को अब पेंशन भी दी जाएगी

0
2304
Old age farmer samman pension scheme

वृद्धजन कृषक सम्मान पेंशन योजना

किसानों के लिए एक और अछी खबर है एक तो केंद्र सरकार की और से सीमांत किसानों को 6,000 रुपये सालाना दिए जा रहे हैं वहीँ राज्य सरकारे अपनी तरफ से कुछ नया करने के लिए कदम आगे बढ़ा रही हैं | अब राजस्थान सरकार ने कर्ज माफी के बाद किसानों को पेंशन देने का भी फैसला लिया है | मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत द्वारा की गई घोषणा की अनुपालना में राजस्थान सामाजिक सुरक्षा वृद्धजन कृषक सम्मान पेंंशन नियम, 2019 जारी कर दिए हैं। ये नियम 1 मार्च, 2019 से लागू होंगे। 

क्या है योजना

अन्नदाता किसान के वृद्धावस्था में सम्मान के साथ जीवन-यापन की आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए विधानसभा में इस योजना की घोषणा की थी। वृद्धजन कृषक सम्मान पेंंशन योजना के तहत, राजस्थान के मूल निवासी अथवा राजस्थान में रह रहे 55 वर्ष से अधिक आयु की लघु एवं सीमान्त महिला कृषक एवं 58 वर्ष से अधिक आयु के पुरूष कृषक, जिनकी जीवन निर्वाह के लिए स्वयं की नियमित आय का कोई स्त्रोत नहीं हो, को 750 रुपये प्रतिमाह पेंशन के रूप में मिलेंगे। 75 वर्ष से अधिक आयु के पेंशनर कृषकों को एक हजार रुपये प्रतिमाह पेंशन मिलेगी। 

यह भी पढ़ें   यूरिया सब्सिडी योजना रहेगी 2020 तक जारी

कितने किसानों को लाभ मिलेगा

इस योजना से करीब 30 लाख लघु एवं सीमान्त श्रेणी के वृद्धजन किसान हैं, जिनमें से करीब 19 लाख कृषक वर्तमान में विभिन्न सामाजिक सुरक्षा योजनाओं का लाभ प्राप्त कर रहे हैं। ऎसे में, करीब 11 लाख लघु एवं सीमान्त वृद्धजन कृषक इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकेंगे। योजना पर प्रतिवर्ष लगभग 990 करोड़ रुपये खर्च होने का अनुमान है।

आवेदन अथवा योजना का लाभ कैसे लें

वृद्धजन कृषक सम्मान पेंशन योजना सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा लागू की जाएगी। योजना के लाभार्थी किसानों के लिए आवश्यक पात्रता संबंधी भूमि प्रमाण-पत्र निर्धारित प्रारूप में तहसीलदार अथवा अतिरिक्त तहसीलदार अथवा नायब तहसीलदार द्वारा आवेदन के 30 दिन में सत्यापित किया जाना अनिवार्य होगा।

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

kisan samadhan android app

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here