बुधवार, फ़रवरी 28, 2024
होमकिसान समाचारइस महिला किसान को मिला 1 लाख 72 हजार रुपए का बोनस,...

इस महिला किसान को मिला 1 लाख 72 हजार रुपए का बोनस, अब बोनस की राशि से बनाएगी घर

धान खरीद का बोनस

छत्तीसगढ़ सरकार ने राज्य के किसानों को नए वर्ष का बहुत बड़ा तोहफा दे दिया है। इससे न केवल किसानों को उनके सपने पूरे करने का मौक़ा मिला है बल्कि उनके अधूरे काम भी अब वो पूरे कर सकते हैं। छत्तीसगढ़ सरकार ने 25 दिसंबर के दिन किसानों के बैंक खातों में राज्य के लगभग 12 लाख किसानों के खाते में वर्ष 2014-15 और 2015-16 की लंबित बोनस राशि के रूप में 3716 करोड़ रुपए की राशि अंतरित कर दी है। जिससे किसान खुशी से झूम उठे हैं।

मुख्यमंत्री विष्णु देव साय ने अभनपुर के ग्राम बेन्द्री में आयोजित राज्य स्तरीय कार्यक्रम में प्रदेश के 11 लाख 76 हजार से अधिक किसानों को 3716 करोड़ रुपए की बोनस राशि जारी की। इस दौरान उन्होंने लाभार्थी किसानों से ऑनलाइन बातचीत भी की। इस अवसर पर किसानों ने उन्हें धन्यवाद देकर उन पैसों से वे क्या करने वाले हैं इसके बारे में बताया।

यह भी पढ़ें   किसानों को सब्सिडी पर दिए जाएँगे 74 हजार से अधिक सोलर पम्प

बोनस राशि से ट्रैक्टर का ऋण चुकाएगा यह किसान

प्रदेश के जांजगीर चांपा जिले के नवागढ़ विकासखंड के ग्राम पंचायत अमोरा के किसान खम्हन तिवारी को भी धान का बकाया बोनस मिल गया। खम्हन तिवारी को 43 हजार 800 रुपए मिले हैं। मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय से बात करते हुए उन्होंने कहा कि यह सुशासन दिवस उन्हें जीवन भर याद रहेगा। किसान ने कहा कि वह बोनस की इस राशि का उपयोग घर की जरूरतों के साथ ही खेती किसानी के लिए करेंगे। मुख्यमंत्री साय के प्रति आभार प्रकट करते हुए उन्होंने कहा कि किसान ट्रैक्टर, ट्राली सहित कृषि उपकरणों के लिए जो ऋण लेते हैं उसमें ब्याज के रूप में बहुत राशि खर्च हो जाती है। बोनस के रूप में मिली यह अतिरिक्त राशि ऋण चुकाने के काम आयेगी।

यह महिला किसान बोनस राशि से बनाएगी घर

कांकेर जिले के ग्राम सरंगपाल की महिला किसान 85 वर्षीय श्रीमती भागोबाई को धान के बकाया बोनस के तौर पर 1 लाख 72 हजार 320 रुपए मिले हैं। मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय को आशीष देते हुए उन्होंने कहा कि इस पैसे से मैं अपना घर बनवाऊंगी। उन्होंने बताया कि बोनस की राशि से खेती के काम और ऋण चुकाने में भी मदद मिलेगी।

यह भी पढ़ें   ऋण लेकर मिनी डेयरी खोलने वालों को सरकार दूध उत्पादन पर देगी 10 रुपये प्रति लीटर का अनुदान

इसी तरह राज्य में अलग-अलग जिलों के किसानों को अलग-अलग धान की बोनस राशि उनके बैंक खाते में प्राप्त हुई है। बता दें कि सरकार ने किसानों को 300 रुपये प्रति क्विंटल की दर से बोनस राशि का भुगतान किया है। यह बोनस राशि 2 वर्षों 2014-15 और 2015-16 के लिए है। यानी यदि किसी किसान ने समर्थन मूल्य पर इन दो वर्षों 2014-15 और 2015-16 में दो क्विंटल धान बेची है तो उसे 600 रुपये का बोनस मिलेगा। इस तरह 10 क्विंटल धान बेची होगी तो उन्हें 3 हजार रुपये की बोनस राशि प्राप्त हुई होगी।

1 टिप्पणी

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
यहाँ आपका नाम लिखें

Trending Now

डाउनलोड एप