समर्थन मूल्य पर मसूर,चना तथा सरसों बेचने के लिए पंजीयन शुरू

7798

मसूर,चना तथा सरसों बेचने के लिए पंजीयन

रबी सीजन की फसलों की कटाई कुछ समय में शुरू हो जाएगी | फसल की कटाई के बाद जरुरी है की किसान को उन फसलों के सही दाम मिले | जैसा की आप सभी जानते हैं देश में अनेक तरह की फसल का उत्पादन किया जाता है उनमें से सिर्फ  23 फसलों का ही न्यूनतम समर्थन मूल्य सरकार तय करती है | इसमें खरीफ , रबी के अलावा बागवानी तथा व्यापारिक फसल रहती है | केंद्र सरकार इन सभी फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य की घोषणा फसल बुआई के पहले करती है | इस वर्ष भी केंद्र सरकार ने रबी फसल के लिए गेंहू, चना , मसूर तथा सरसों का न्यूनतम समर्थन मूल्य तय किया है |

किसान को न्यूनतम समर्थन मूल्य पर बेचने के लिए पंजीयन कराना जरुरी रहता है | इस पंजीयन के आधार पर ही किसान को फसल बेचने का लक्ष्य दिया जाता है | जिस किसान के पास पंजीयन नहीं रहता है उसे सरकारी दर पर फसल की खरीदी नहीं हो पाती है और उन्हें यह फसलें कम दामों पर बेचना पढता है |

यह भी पढ़ें   गहरे नलकूपों के निर्माण पर सरकार दे रही है 1 लाख रुपये का अनुदान

कब से पंजीयन होगें प्रारंभ 

मध्य प्रदेश राज्य सरकार ने प्रदेश के सभी किसानों के लिए 13 फ़रवरी 2019 से मसूर, चना तथा सरसों की सरकारी खरीदी के लिए पंजीयन शुरू कर दिया है | इसके लिए किसान अपने नजदीक के सहकारी बैंक सोसायटी तथा मंडी से संपर्क कर सकते हैं |

प्रदेश में सभी जिलों में सभी फसल का उत्पादन नहीं रहने के कारण राज्य सरकार ने सभी फसलों का पंजीयन में नियम और शर्ते को जोड़ दिया है | इसके अनुसार ही किसान अपनी फसल का पंजीयन करा सकता है | किसान समाधान सभी फसलों को जिले के अनुसार पूरी जानकारी लेकर आया है |

चना :- इस फसल की पंजीयन मध्य प्रदेश के सभी जिलों में किया जायेगा |

मसूर :- इस फसल के लिए मध्यप्रदेश के 37 जिलों में किया जायेगा | यह 37 जिला राजगढ़, सतना, डिन्डोरी, विदिशा, सागर, रीवा, नरसिंहपुर, दतिया, रायसेन, पन्ना, दमोह, मण्डला, जबलपुर, शाजापुर, अनुपूर, सिवनी, अशोकनगर, कटनी, मंदसौर, आगरा, सीधी, सिंगरौली, सीहोर, छतरपुर, उमडिया, शिवपुरी, शहडोल, होशंगाबाद, भिंड, उज्जैन, छिंदवाडा, टीकमगढ़, रतलाम, बैतूल, नीमच, हरदा, एवं ढहर को शामिल किया गया है |

यह भी पढ़ें   पराली नष्ट करने के लिए 5 लाख एकड़ भूमि पर किया जायेगा पूसा डीकम्पोजर दवाई का छिड़काव

सरसों :- सरसों फसल के पंजीयन के लिए 38 जिलों का चयन किया गया है | यह सभी जिले इस प्रकार हैं – भिंड, मुरैना, शिवपुरी, मंदसौर, श्योपुरकलां, ग्वालियर, बालाघाट, टीकमगढ़, छतरपुर, नीमच, डिंडौरी, मंडला,दतिया, रीवा, सिंगरौली, आगरा, गुना, पन्ना, रतलाम, सतना, अशोकनगर, शहडोल, राजगढ़, बडवानी, अनुपूर, सीधी, जबलपुर, शाजापुर, कटनी, उज्जैन, उमरिया, रायसेन, सागर, होशंगाबाद, दमोह, छिंदवाडा, बैतूल एवं हरदा जिला को शामिल किया गया है |

पंजीयन के लिए कौन – कौन से दस्तावेज लगेगें ?

किसान को पंजीयन सेंटर जाने से पहले निम्नलिखित दस्तावेज लेकर जाना होगा |

  • समग्र सदस्य आई.डी.
  • आधार कार्ड
  • ऋण पुस्तिका
  • बैंक खाता पासबुक
  • मोबाइल नंबर (जो बैंक खाते से जुडा हो)

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

पिछला लेखमौसम विभाग ने जारी की चेतावनी इन जगहों पर फिर हो सकती है बारिश एवं ओलावृष्टि
अगला लेखबारिश या ओले से फसल नुकसान हो तो बीमा क्लेम करने के लिए यहाँ संपर्क करें

LEAVE A REPLY

अपना कमेंट लिखें
आपका नाम लिखें.