कृषि कानूनों के विरोध में राहुल गाँधी ने पंजाब में शुरू की खेती बचाओ यात्रा

0
204
kheti bachao yatra rahul gandhi

कृषि कानूनों के विरोध में खेती बचाओ यात्रा

नए कृषि कानूनों को लेकर किसानों के द्वारा विरोध प्रदर्शन जारी है | सबसे अधिक विरोध प्रदर्शन इन कानूनों को लेकर पंजाब राज्य में किया जा रहा है | यहाँ के किसान अभी भी रेलवे ट्रैक पर धरना दे रहे हैं | वहीँ पंजाब की राज्य सरकार द्वारा भी इन कानूनों का विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है | कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने रविवार को पंजाब के मोगा में रविबार से मंगलवार तक चलने वाली तीन दिवसीय ट्रैक्टर रैली की शुरुआत की | रैली में मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह, वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल, प्रदेश कांग्रेस प्रमुख सुनील जाखड़, पार्टी के पंजाब मामलों के प्रभारी हरीश रावत और अन्य नेता मौजूद रहे। ‘खेती बचाओ यात्रा’ के नाम से निकाली जा रही ट्रैक्टर रैलियां 50 किलोमीटर से अधिक दूरी तय करेगी और अलग-अलग जिलों और निर्वाचन क्षेत्रों से गुजरेंगी।

खेती बचाव यात्रा में राहुल गाँधी ने क्या कहा 

राहुल गांधी ने पंजाब के किसानों से वादा किया है कि उनकी पार्टी के सत्ता में आने के बाद कृषि क्षेत्र से जुड़े इन तीनों कानून को हटा दिया जाएगा | राहुल गांधी ने न्यूनतम समर्थन मूल्य, खाद्य खरीद और थोक बाजारों को देश के तीन स्तम्भ बताते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस व्यवस्था को ध्वस्त करना चाहते हैं | उन्होंने कहा की तीन कृषि कानून को लागू करने की क्या जल्दी थी | अगर कानून पास करवाना था तो लोकसभा राज्यसभा में बात करते | किसानों के लिए कानून बनाए जा रहे हैं तो आपको खुलकर बात करनी चाहिए | यदि किसान खुश है तो आंदोलन क्यों कर रहे हैं |

किसान संगठनों का भी जारी है विरोध प्रदर्शन

भारतीय किसान यूनियन सहित दर्जनों किसान संगठन पंजाब, हरियाणा सहित देश भर में कृषि कानूनों का विरोध कर रहे हैं। इस दौरान वह रेल रोको और हाईवे रोको आंदोलन कर रहे हैं, जिसमें पंजाब के सभी 22 जिलों के लाखों किसान शामिल हैं। यह आंदोलन पिछले चार दिन से चल रहा है। वहीँ चंडीगढ़ प्रेस क्लब में मीडिया को संबोधित करते हुए स्वराज इंडिया के योगेन्द्र यादव ने कहा जजपा को किसानों ने दिल खोल कर वोट दिया था, जजपा प्रमुख दुष्यंत, देवीलाल जी की राजनीति विरासत को आगे बढ़ाने का दावा करते है, ऐसे में उन्हें किसानों के हित के लिए मजबूती से खड़ा होना चाहिए पर ऐसा नही हो रहा। योगेन्द्र यादव ने दुष्यंत चौटाला से 10 सवाल पूछे और कहा कि 6 अक्टूबर को सिरसा में किसानों को जवाब दें | किसान विरोधी 3 क़ानूनों के खिलाफ 6 अक्टूबर को हरियाणा के 17 किसान संगठनों के आह्वान पर किसान सिरसा में दुष्यंत चौटाला के घर का घेराव करेंगें |

यह भी पढ़ें   छत पर फल,फूल एवं सब्जी लगाने के लिए दी जा रही है 25 हजार रूपये की सब्सिडी

क्या है तीनों कृषि विधेयक

संसद में हाल में तीन विधेयकों- कृषक उपज व्यापार एवं वाणिज्य (संवर्धन और सुविधा) विधेयक-2020, किसान (सशक्तीकरण और संरक्षण) मूल्य आश्वासन अनुबंध एवं कृषि सेवाएं विधेयक 2020 और आवश्यक वस्तु संशोधन विधेयक-2020 को पारित किया गया। राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद ने इन तीनों कृषि संबंधित विधेयकों को अपनी मंजूरी प्रदान कर दी है जिसके बाद यह कानून बन गए हैं |

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here