कृषि बिल Farm BiLL 2020 को राष्ट्रपति ने दी मंजूरी, अब कृषि बिल बन गए कानून

0
989
krishi bill ko rashtrapati ki manjoori

Farm Bill 2020 कृषि बिल को राष्ट्रपति की मंजूरी

पिछले कुछ दिनों से देश में कृषि बिल को लेकर किसानों का विरोध प्रदर्शन जारी है | इन विरोध प्रदर्शन के बीच मोदी सरकार द्वारा यह तीनों बील दोनों सदनों लोकसभा एवं राज्यसभा से पारित किये जाने के बाद अब राष्ट्रपति ने भी इन बिलों पर हस्ताक्षर कर दिए हैं जिससे अब यह कानून के रूप में पूरे देश में लागू हो जाएंगे | राष्ट्रपति के हस्ताक्षर के बाद अब केंद्र सरकार इसकी अधिसूचना जारी कर सकती है। वहीँ किसान एवं विपक्षी पार्टियों का बिलों के विरोध में प्रदर्शन जारी है |

क्या है तीनों कृषि बिल Farm Bill 2020

  • कृषि उपज व्यापार एवं वाणिज्य (संवर्धन एवं सरलीकरण) विधेयक, 2020
  • कृषक (सशक्तिकरण व संरक्षण) कीमत आश्वासन और कृषि सेवा पर करार विधेयक, 2020
  • आवश्यक वस्तु (संशोधन) विधेयक, 2020

सुप्रीम कोर्ट पहुंचा तीनों बिलों का मामला

कृषि बिल के खिलाफ सड़क पर किसान संगठनों एवं विपक्षी पार्टियों का प्रदर्शन जारी है | इस बीच यह मसला सुप्रीम कोर्ट में पहुंच गया है | केरल से कांग्रेस सांसद टीएन प्रतापन ने सुप्रीम कोर्ट में कृषि अधिनियम को चुनौती दी है | संसद द्वारा पिछले सप्ताह पारित किए गए किसानों से जुड़े बिल को वापस लेने के लिए रिट याचिका दायर की गई है |

यह भी पढ़ें   कृषि यंत्र पर अनुदान लेने का आखिरी मौका

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने तीन नए किसान कानूनों के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन के तहत सोमवार को धरना दिया | कैप्टन ने कहा कि ‘दिल्ली में आज सुबह ट्रैक्टर जलाया जाना लोगों को गुस्सा दिखाता है | इंडियन यूथ कांग्रेस के ट्वीट में कहा गया, ‘शहीद भगत सिंह की स्मृति के सम्मान में, पंजाब युवा कांग्रेस ने इंडिया गेट पर एक ट्रैक्टर को जलाकर किसानों के प्रति भाजपा सरकार के उदासीन रवैये का विरोध किया है |

वही राहुल गाँधी ने इन बिलों को किसानों के लिए मौत की सजा बताया है उन्होंने ट्वीट कर कहा कि कृषि क़ानून हमारे किसानों के लिए मौत की सज़ा हैं। उनकी आवाज़ संसद के अंदर और बाहर कुचल दी गयी है। ये इस बात का प्रमाण है कि भारत में लोकतंत्र मर चुका है।

देश का किसान हुआ आजाद: कृषि मंत्री

वही देश के केंद्रीय कृषि और किसान कल्याण, ग्रामीण विकास, पंचायती राज और खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर ने ट्वीट कर कहा की आज देश का किसान आजाद हो गया है प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदीजी के नेतृत्व में देश के दोनों सदनों में पारित कृषि सुधार बिल को आज महामहिम राष्ट्रपति जी ने दी स्वीकृति। कृषि मंत्री ने कहा की दोनों विधेयकों के कानून बनने पर अब देश का किसान अपनी उपज को कहीं भी, किसी को भी और किसी भी कीमत पर बेच सकने के लिए स्वतन्त्र हो गया है। इस अध्यादेश से देश के किसानों की आमदनी दोगुनी करने के लक्ष्य को हासिल करने में मदद मिलेगी।

यह भी पढ़ें   कृषि उपज सम्बंधित बिलों के विरोध में किसानों का भारत बंद

 

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here