back to top
रविवार, जून 16, 2024
होमकिसान समाचारइस योजना के तहत गाय-भैंस खरीदने के लिए सरकार देगी 90...

इस योजना के तहत गाय-भैंस खरीदने के लिए सरकार देगी 90 प्रतिशत का अनुदान, ऐसे करें आवेदन

मुख्यमंत्री दुधारू पशु प्रदाय कार्यक्रम के तहत अनुदान

ग्रामीण क्षेत्रों में गाय-भैंस पालन रोजगार का एक अच्छा जरिया होने के साथ ही किसानों की आमदनी का मुख्य स्त्रोत भी है, खेती से अधिक आय किसानों को पशुपालन से ही होती है। पशुपालन के महत्व को देखते हुए सरकार ग्रामीण क्षेत्रों में पशुपालन को बढ़ावा देने के लिए कई योजना चला रही है, जिसके तहत इच्छुक व्यक्तियों को दुधारू पशु खरीदने के लिए भारी अनुदान दिया जा रहा है।

इस कड़ी में मध्य प्रदेश सरकार ने मुख्यमंत्री दुधारू गाय प्रदाय कार्यक्रम’’ को संशोधित करते हुए मुख्यमंत्री दुधारू पशु प्रदाय कार्यक्रम’’ के रूप में लागू किया है। योजना में अब लाभार्थी को दुधारू गाय के अलावा भैंस खरीदने के लिए भी अनुदान दिया जाएगा। साथ ही गाय-भैंस खरीदने के लिए दिए जाने वाले अनुदान में भी वृद्धि भी की गई है।

गाय-भैंस खरीदने के लिए अब कितना अनुदान (Subsidy) दिया जाएगा?

मध्य प्रदेश के पशुपालन एवं डेयरी मंत्री श्री प्रेमसिंह पटेल ने कहा है कि योजना के अंतर्गत प्रति पशुपालक 2 दुधारू पशु गाय/भैंस दिए जाएँगे। कार्यक्रम में 90 प्रतिशत शासकीय अनुदान दिया जाएगा और लाभार्थी को सिर्फ 10 प्रतिशत राशि ही देना होगा। क्रय किये गये सभी पशुओं का बीमा भी योजना के तहत किया जाएगा। मिल्क रूट और दुग्ध समितियों का गठन मध्यप्रदेश दुग्ध महासंघ और पशुपालन विभाग द्वारा किया जायेगा।

यह भी पढ़ें   किसानों को जैविक फसलों की मिल रही है अच्छी कीमत, जैविक प्रमाणीकरण के लिए बढ़ा किसानों का रुझान

साथ ही कार्यक्रम का लाभ अब विशेष पिछड़ी जनजाति बैगा के साथ सहरिया और भारिया को भी मिलेगा। इन जनजातियों की कमजोर आर्थिक स्थिति को देखते हुए हितग्राही अंशदान की राशि 25 प्रतिशत से घटा कर 10 प्रतिशत कर दी गई है।

गाय-भैंस खरीदने के लिए देने होंगे मात्र इतने रुपए

योजना के अंतर्गत गाय प्रदाय के लिये 1 लाख 89 हजार 250 रूपये की लागत आएगी जिस पर 1 लाख 70 हजार 325 रूपये का सरकारी अनुदान दिया जाएगा। जिससे हितग्राही को मात्र 18 हजार 925 रूपये ही देने होंगे। वहीं भैंस के लिए शासन द्वारा 2 लाख 43 हजार रूपये की राशि निर्धारित की गई है। जिस पर शासन की और से लाभार्थी को 2 लाख 18 हजार 700 रूपये का शासकीय अनुदान दिया जाएगा। जिससे लाभार्थी को मात्र 24 हजार 300 रूपये का अंशदान होगा।

सरकार ने वित्तीय वर्ष 2022-23 और 2023-24 के लिये 750-750 गाय-भैंस प्रदाय का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इसके लिये 29 करोड़ 18 लाख रूपये का प्रावधान किया गया है। 

यह भी पढ़ें   गर्मियों के मौसम में किसान इस तरह करें बैंगन की खेती, मिलेगी भरपूर उपज

योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन कहाँ करें?

मुख्यमंत्री दुधारू पशु प्रदाय कार्यक्रम योजना के तहत विशेष पिछड़ी जनजाति बैगा के लिये 6 जिले डिण्डोरी, उमरिया, शहडोल, अनूपपुर, मण्डला और बालाघाट, भारिया के लिये छिन्दवाड़ा और सहरिया जनजाति के लिये ग्वालियर, दतिया, शिवपुरी, गुना, अशोकनगर, श्योपुरकला, मुरैना और भिण्ड जिले में कार्यक्रम चलाया जा रहा है। 

हितग्राही को आवेदन निर्धारित प्रपत्र में अपने निकटतम पशु चिकित्सा संस्था या दुग्ध सहकारी समिति को देना होगा। चयन के बाद हितग्राहियों को पशुपालन, पशु आहार और पशु प्रबंधन प्रशिक्षण के साथ परिचयात्मक दौरा भी करवाया जायेगा।

3 टिप्पणी

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
यहाँ आपका नाम लिखें

ताजा खबर