back to top
रविवार, मई 19, 2024
होमकिसान समाचारमुफ्त बिजली योजना: सोलर पैनल लगाने के लिए सरकार देगी 60 प्रतिशत...

मुफ्त बिजली योजना: सोलर पैनल लगाने के लिए सरकार देगी 60 प्रतिशत तक की सब्सिडी 

सरकार देश में कॉर्बन उत्सर्जन कम करने और उपभोक्ताओं को सस्ती बिजली उपलब्ध कराने के लिए सौर ऊर्जा को बढ़ावा दे रही है। इस क्रम में मोदी सरकार ने देश के 1 करोड़ से ज्यादा परिवारों को फ्री बिजली मुहैया कराने वाली पीएम सूर्य घर मुफ्त बिजली योजना को मंजूरी दे दी है। गुरुवार को हुई कैबिनेट की बैठक में इसे हरी झंडी दिखा दी गई है। प्रधानमंत्री ने 13 फरवरी, 2024 को इस योजना की शुरुआत की थी।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने छत पर सौर ऊर्जा स्थापित करने और एक करोड़ घरों के लिए हर महीने 300 यूनिट तक मुफ्त बिजली प्रदान करने हेतु 75,021 करोड़ रुपये के कुल परिव्यय के साथ पीएम-सूर्य घर: मुफ्त बिजली योजना को मंजूरी दे दी है। ख़ास बात यह है कि लाभार्थी अतिरिक्त बिजली को बेचकर अतिरिक्त कमाई कर सकते हैं।

सोलर पैनल लगाने के लिए कितनी सब्सिडी दी जाएगी?

पीएम-सूर्य घर मुफ्त बिजली योजना के तहत केंद्र सरकार अलग-अलग किलोवॉट की सौर ऊर्जा प्रणाली लगाने के लिए अलग-अलग सब्सिडी प्रदान करेगी। इसमें लाभार्थी व्यक्ति को 1 से 2 किलोवॉट क्षमता वाली प्रणाली के लिए लागत का 60 फीसदी अनुदान दिया जाएगा। वहीं 2 से 3 किलोवाट क्षमता वाली प्रणाली के लिए अतिरिक्त प्रणाली लागत का 40 प्रतिशत अनुदान दिया जाएगा। सरकार के मुताबिक 3 किलोवाट क्षमता वाली एक प्रणाली एक घर के लिए औसतन प्रति माह 300 से अधिक यूनिट उत्पन्न करने में सक्षम होगी।

यह भी पढ़ें   मछली पालन के लिए सरकार किसानों को दे रही है 60 प्रतिशत तक का अनुदान, किसान यहाँ करें आवेदन

सरकार के अनुसार इससे लाभार्थी को 1 किलोवाट क्षमता वाली प्रणाली के लिए 30,000 रुपये, 2 किलोवाट क्षमता वाली प्रणाली के लिए 60,000 रुपये और 3 किलोवाट या उससे अधिक वाली प्रणाली के लिए 78,000 रुपये की सब्सिडी दी जाएगी। साथ ही योजना में शामिल होने वाले परिवार को 3 किलोवाट तक के आवासीय आरटीएस प्रणाली की स्थापना हेतु 7 प्रतिशत के गारंटी-मुक्त कम-ब्याज वाले ऋण का लाभ भी दिया जाएगा। सब्सिडी की राशि सीधे लाभार्थी के बैंक खाते में दी जाएगी।

पीएम सूर्य घर मुफ्त बिजली योजना से क्या लाभ होगा?

सरकार के मुताबिक इस योजना के अंतर्गत देश भर में 1 करोड़ सोलर रूफटॉप सिस्टम की स्थापना की जाएगी। जिससे विनिर्माण, लॉजिस्टिक्स, आपूर्ति श्रृंखला, बिक्री, स्थापना, ओ एंड एम और अन्य सेवाओं में लगभग 17 लाख प्रत्यक्ष नौकरियां पैदा होंगी। साथ ही योजना से बिजली बिल बचाने के साथ-साथ डिस्कॉम को अधिशेष बिजली की बिक्री के माध्यम से अतिरिक्त आय अर्जित करने में सक्षम होंगे।

यह भी पढ़ें   मौसम चेतावनी: 3 से 5 फरवरी के दौरान इन जिलों में हो सकती है बारिश एवं ओला वृष्टि

इसके साथ ही प्रस्तावित योजना के परिणामस्वरूप आवासीय क्षेत्र में छत पर स्थापित सौर ऊर्जा के माध्यम से 30 गीगावॉट की सौर क्षमता की बढ़ोतरी होगी, जिससे 1000 बीयू बिजली पैदा होगी और छत पर स्थापित सौर ऊर्जा प्रणाली के 25 साल के जीवनकाल में 720 मिलियन टन कार्बन डाइऑक्साइड के बराबर उत्सर्जन में कमी आएगी।

पीएम सूर्य घर मुफ्त बिजली योजना के लिए आवेदन कहाँ करें?

अधिक से अधिक व्यक्ति योजना का लाभ ले सके इसके लिए सरकार ने ऑनलाइन पोर्टल शुरू किया है, जहां इच्छुक व्यक्ति आसानी से आवेदन कर सकते हैं। योजना का लाभ लेने के लिए इच्छुक व्यक्ति को राष्ट्रीय पोर्टल pmsuryaghar.gov.in पर आवेदन करना होगा या pmsuryaghar App डाउनलोड करके भी पंजीयन किया जा सकता है। पोर्टल पर छत पर सौर ऊर्जा स्थापित करने के लिए एक कंपनी का चयन करना होगा। इसके अलावा पोर्टल पर सोलर संयंत्र लगाने के लिए आवश्यक जगह, उससे होने वाले लाभ, विक्रेता की रेटिंग आदि की जानकारी भी देखी जा सकती है।

3 टिप्पणी

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
यहाँ आपका नाम लिखें

ताजा खबरें

डाउनलोड एप