गलत बिजली बिल किये जाएंगे माफ एवं किसानों को खेती के लिए दी जाएगी 10 घंटे बिजली

1
4935
bijli bill shikayat meter ki shikayat hetu camp MP

बिजली बिल समस्याओं के लिए लगाये जाएगें शिविर

बिजली का बिल बढ़ कर आ रहा है, बिजली का आवेदन करने पर भी कनेक्शन नहीं दिया जा रहा है | हमारे पास 2 हार्स पावर का कनेक्शन है लेकिन बिल 3, 4, 5 हार्स पावर का आ रहा है | घर में कोई रहता नहीं है लेकिन बिल आ गया है | हमारे गांव में ट्रांसफर्मर जला हुआ है लेकिन बिल आ गया है | बिजली की शिकायत कोई सुनता नहीं है | यह सारी समस्या किसानों के द्वारा रोज सुनने को मिलती है | बिजली कार्यालय में सैंकड़ों आवेदन लेकर किसान पहुँचते हैं लेकिन उनकी शिकायत को कोई सुनता नहीं है | जिसके कारण किसानों पर बिल बढ़ते हुये लाखो रूपये तक पहुँच जाता है |

इसके साथ बिजली कम्पनी ने यह बताया है कि किसानों को कृषि के लिए 10 घंटे बिजली दी  जाएगी | इन्हीं समस्याओं की निवारण के लिए मध्य प्रदेश सरकार किसानों के लिए शिविर लगाने जा रही है | इसमें किसानों की बिजली से जुड़े सभी समस्या को सुना जायेगा | किसान समाधान इसकी पूरी जानकारी लेकर आया है |

यह भी पढ़ें   छत्तीसगढ़ सरकार ने अपने बजट में किसानों के लिए खोला खजाना

बिजली की समस्याओं हेतु शिविर कब लगेगा ?

मध्य प्रदेश विधुत वितरण कंपनी द्वारा 15 सितम्बर से 15 अक्तूबर तक सभी 350 जों / वितरण केन्द्रों में विधुत उपभोगताओं की शिकायतों के निराकरण के लिए राजस्व वसूली और शिकायत निराकरण शिविर लगाये जाएंगे |

बिजली सम्बन्धी शिकायत कौन सुनेगा  ?

यह शिविर प्रत्येक केंद्र पर कम से कम 3 बार लगाएं जायेंगे | जिससे कोई किसान छूट नहीं पाए | शिविर में उप महाप्रबंधन स्तर के अधिकारी तथा वितरण केंद्र प्रभारी उपस्थित रहेंगे |

किसानों की कौन – कौन सी समस्या को सुनी जाएगी ?

शिविर में इन बिन्दुओं की शिकायत सुनी जायेगी

  1. आंकलित खपत
  2. अधिक राशि के बिल
  3. गलत बिल जारी होने तथा बन्द / खराब ट्रिपिंग एवं विधुत व्यवधान
  4. कृषि और घरेलू उपभोगताओं के निर्धारित अवधि में कम विधुत प्रदाय संबंधित शिकायतें कम / जायदा होने की समस्या और भर वृद्धि संबंधित शिकायतों का निराकरण किया जायेगा |

किसानों को 10 घंटे बिजली दी जाएगी

एमपी पावर मैनेजमेंट कंपनी के प्रबंध संचालक व प्रदेश की तीनों विधुत वितरण कंपनी के अध्यक्ष श्री नितेश व्यास ने कहा है कि किसानों को 10 घंटे और आबादी एवं व्यवसाय के लिए 24 घंटे बिजली देना राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है | यह बात जबलपुर में बिजली अभियंताओं की बैठक में कहा गया है |

यह भी पढ़ें   इंदौर एवं सूरत पहुंचा मानसून, जानिए क्या है मानसून की ताजा स्थिति

नोट:- किसान संधान मध्य प्रदेश के किसानों से अपील करता है की 15 सितम्बर से 15 अक्तूबर के बीच अपने बिजली कार्यालय पर जाकर गलत बिलिंग से लेकर अन्य शिकायतों की समाधान करें |

इस तरह की ताजा जानकरी विडियो के माध्यम से पाने के लिए किसान समाधान को YouTube पर Subscribe करें

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here