टिड्डी प्रभावित किसानों को दिया जायेगा 106 करोड़ रुपये से अधिक का मुआवजा

टिड्डी प्रभावित किसानों को मुआवजा

टिड्डी का आतंक इस बार इतना था कि देश कई राज्यों के किसानों की फसल पूरी तरह से बर्बाद हो गई है | इसमें सबसे ज्यादा प्रभावित राजस्थान,गुजरात, पंजाब तथा हरियाणा राज्य रहा | राजस्थान टिड्डी से सबसे ज्यादा प्रभावित होने वाले राज्यों में से एक है | यहाँ के पश्चिमी जिलों के किसानों की फसल पूरी तरह प्रभावित हुई है | टिड्डी का हमला इतना ज्यादा था कि किसी भी किसान की लागत तक नहीं निकली है | राज्य सरकार ने टिड्डी नियंत्रण के लिए काफी कोशिश की है लेकिन टिड्डी की संख्या इतनी ज्यादा थी की उस पर नियंत्रण कर पाना मुश्किल था | सरकार द्वारा अब किसानों को सहायता पहुँचाने के लिए किसानों को मुआवजा देने का कार्य शुरू किया जा चूका है |

अभी तक टिड्डी नियंत्रण के लिए सरकार द्वारा उठाये गए कदम

टिड्डी के मुद्दे पर राजस्थान विधान सभा में विधायक द्वारा सवाल पूछ गया था | इस सवाल के जवाब देते हुए आपदा प्रबन्धन एवं सहायता मंत्री भंवर लाल मेघवन ने बुधवार को बताया है कि आपदा कोष के नियमों के तहत 75 प्रतिशत केंद्र सरकार तथा 25 प्रतिशत राज्य सरकार द्वारा वित्तीय राशि आवंटित की जाती है | उन्होंने कहा कि टिड्डी आक्रमण से प्रभावित 77 हजार 676 किसानों के लिए 10 फरवरी तक 89 करोड़ रूपये जिलों से संबंधित जिला कलेक्टरों को दिए गये हैं |उन्होंने बताया कि राज्य सरकार द्वारा पिछले 2 दिन में राशि बढ़कर 106 करोड़ 21 लाख कर दी गई है जिनमे जिला कलेक्टरों द्वारा 98 करोड़ 65 लाख रूपये की राशि काश्तकारों के बैंक खाते में डाली जा चुकी है तथा दिन प्रतिदिन काश्तकारों के खातों में राशि जमा करवाई जा रही है |

- Advertisement -

आपदा प्रबन्धन एवं सहायता मंत्री ने कहा कि रानीवाडा विधान सभा क्षेत्र में 49 कास्तकार टिड्डी आक्रमण से प्रभावित हुए है जिनके खातों में 4 लाख 56 हजार रूपये जमा करा दिए गए हैं | इसके अलावा यह भी आश्वासन दिया गया है कि किसी किसान की सुचना कलेक्टर से प्राप्त होती है तो तत्काल विभाग द्वारा वित्तीय सहायता उनके बैंक खाते में प्रदान की जा रही है | टिड्डी आक्रमण से 8 जिलों के 77 हजार 676 प्रभावित किसानों में से 53 हजार 915 किसानों को ८९.९३ करोड़ रूपये का कृषि आदान अनुदान विरित किया जा चूका है |

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

- Advertisement -

Related Articles

5 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
यहाँ आपका नाम लिखें

Stay Connected

217,837FansLike
829FollowersFollow
54,000SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

ऐप खोलें