इन 250 मंडियों में शुरू हुई समर्थन मूल्य पर फसलों की सरकारी खरीद

0
3660
rajasthan mandi me fasal kharid

मंडी में फसलों की सरकारी खरीद शुरू

खरीफ फसल कि पंजीयन का कुछ रज्यों में पूरा हो गया हो तो कुछ राज्यों में अभी चल रहा है | सरकार के द्वारा घोषित न्यूनतम समर्थन मूल्य पर फसल बेचने के लिए किसानों को पंजीयन करना जरुरी रहता है | इसी के तहत अक्टूबर माह में सभी राज्य खरीफ फसल को न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीदी के लिए पंजीयन शुरू किया था | जिसके तहत कुछ राज्यों में पंजीयन को पूरा कर लिया गया है तो कुछ राज्य में पंजीयन अभी चल रहा है |

इन राज्यों में शुरू हुई सरकारी खरीद 

  • हरियाणा में 25 अक्टूबर को ही खरीफ फसल के लिए पंजीयन पूरा कर लिया गया था तथा सरकार द्वारा खरीदी शुरू कर लिया गया है | इसके तहत अभी तक लगभग 58 लाख टन धान कि खरीदी किया गया है |
  • मध्य प्रदेश में पंजीयन का डेट पहले 23 अक्टूबर थी जिसे बढ़ाकर 31 अक्टूबर और बाद में 6 नवम्बर किया गया है | यहाँ खरीफ फसल कि खरीदी नवम्बर के दुसरे सप्ताह से शुरू किया जायेगा |
  • छत्तीसगढ़ में खरीफ विपणन वर्ष 2019-20 में समर्थन मूल्य पर धान विक्रय के लिए कृषकों के पंजीयन की तारीख बढ़ाकर अब सात नवम्बर तक कर दी गई है। इससे पहले कृषक पंजीयन कार्य के लिए 31 अक्टूबर तक की समय-सीमा  निर्धारित की गई थी। राज्य सरकार द्वारा किसानों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए यह समय अवधि अब सात नवम्बर तक बढ़ा दी गई है। 
  • राजस्थान में खरीफ फसल की खरीदी के लिए 30 अक्टूबर को पूरा कर लिया गया है | राज्य में 1 नवम्बर पंजीकृत फसल की खरीदी 322 केन्द्रों पर शुरू की जाएगी | यह अलग–अलग जिलों में फसल के उत्पादन पर खरीदी अलग –अलग किया जायेगा | जिस राज्य में जो फसल पंजीकृत है उसे ही सरकारी दर पर खरीदा जायेगा | राजस्थान के सहकारिता मंत्री श्री उदयलाल आंजना ने बताया है कि 30 अक्तूबर तक राज्य में मुंग, उड़द, सोयाबीन एवं मुंगफली को न्यूनतम समर्थन मूल्य पर बेचने के लिए 2.09 लाख किसानों ने पंजीयन किया है |
यह भी पढ़ें   गहरे नलकूपों के निर्माण पर सरकार दे रही है 1 लाख रुपये का अनुदान

इस वर्ष राज्य में मुंग, उड़द, मूंगफली तथा सोयाबीन को मिलाकर 9.63 लाख मीट्रिक टन की खरीदी का अनुमान है | इसमें अलग अलग फसल को इतनी मात्र में खरीदी किया जायेगा | मूंग की 2 लाख 28 हजार मीट्रिक टन, उड़द की 73 हजार 800 मीट्रिक टन, मूंगफली की 3 लाख 6 हजार 875 मीट्रिक टन, सोयाबीन की 3 लाख 54 हजार 100 मीट्रिक टन खरीदी की जाएगी |

कुल पंजीकृत किसान

राजस्थान में अलग-अलग फसल के लिए किसानों ने पंजीयन किया है | जिले में फसल के अनुसार किसानों कि संख्या पंजीकृत हुआ है | फसल के अनुसार किसानों के द्वारा पंजीकृत किसानों कि संख्या इस प्रकार है –

  • मूंग = 1 लाख 19 हजार 867 किसान
  • उड़द = 1 हजार 778 किसान
  • मूंगफली = 87 हजार 120 किसान
  • सोयाबीन = 339 किसान

फसलों के लिए अधिसूचित मंडी एवं समर्थन मूल्य 

राज्य में इन सभी फसल की खरीदी के लिए 322 खरीदी केंद्र स्थापित किया गया है | जिसमें किसी केंद्र पर एक तो किसी केंद्र पर एक से अधिक फसल कि खरीदी किया जायेगा | इस वर्ष केंद्र सरकार के द्वारा इन चार फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य इस प्रकार है | पंजीकृत किसानों को फसल बेचने के बाद उनके खाते में पैसा भेजा जायेगा | जो इस प्रकार है –

  • मूंग = 150 खरीदी केंद्र 7050 रूपये प्रति क्विंटल
  • उड़द = 61 खरीदी केंद्र 5700 रूपये प्रति क्विंटल
  • मूंगफली = 72 खरीदी केंद्र 5090 रूपये प्रति क्विंटल
  • सोयाबीन = 39 खरीदी केंद्र 3710 रूपये प्रति क्विंटल
यह भी पढ़ें   सतावर की खेती से कैसे कमायें लाखो रूपये

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here