इन जगहों पर तेज आंधी के साथ ओले एवं बारिश होने की सम्भावना है

1748
Fani cyclone latest for farmer

फोनी चक्रवात की ताजा स्थिति और किसानों के लिए सलाह

फोनी चक्रवात का असर भारत में दिखना शुरू हो गया है | आज सुबह से ही ओड़िसा तथा आंध्र प्रदेश में फोनी तूफान आया हुआ है | जिसके कारण 170 से 180 किलोमीटर की रफ्तार से हवा चल रही है इसके साथ ही मुसलाधार बारिश जारी है |  इसके चलते देश में कई जगह पेड़ उखड़ गए हैं तथा बिजली और यातायात बाधित हुआ है | इसके साथ ही सभी तरह की परीक्षा को अगले आदेश तक रोक दिया गया है | इस तूफान का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है की उड़ीसा में ज्यादा तर ट्रेन स्थगित है  और वायु मार्ग को भी रोक दिया गया है |

फोनी तूफ़ान का असर दुसरे राज्यों तक भी पहुंचा

फोनी चक्रवाती तूफान ओड़िसा से आगे बढ़ चुका है जिसका असर बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश राज्यों में दोपहर के बाद से ही तेज हवा के साथ भारी बारिश हो रही है जो अभी आगे भी जारी रहने वाला है | मौसम विभाग के अनुसार इसका असर पश्चिम बंगाल, सिक्किम, और तमिलनाडु और पंदुचेरी में भी देखा जा सकता है | मौसम विभाग के अनुसार अगले 24 घंटे में और और जगहों पर आंधी के साथ बारिश होने की संभावना बनी हुई है |

यह भी पढ़ें   रबी सीजन में राज्य के किसानों को दिया जायेगा 6,000 करोड़ रूपये का ब्याज मुक्त फसली ऋण

देश के इन सभी राज्यों में बारिश के साथ – साथ ओले गीर सकती है | जिससे फसल को काफी नुकसान उठाना पड़ सकता है |फोनी चक्रवात के कारण भारत के पश्चिम छोड़ पर तापमान में कमी आने की उम्मीद है जिससे गर्मी मिलने की उम्मीद है | लेकिन दिल्ली के आस – पास हल्की तवज हवा चल सकती है |

पश्चिम बंगाल , बिहार तथा पूर्वी उत्तर प्रदेश में हाई एलर्ट घोषित किया जा चूका है | इस तूफान का असर मध्य प्रदेश में भी कल से दिखेगा | इसका असर पूर्वी मध्य प्रदेश में ज्यादा देखने को मिलेगा  | जिसमें रीवा संभाग, जबलपुर संभाग, भोपाल संभाग तथा सागर संभाग में तेज हवा के साथ बारिश हो सकती है | आज सतना में 25 मिमी. बरसात हुई है | इसके साथ ही गुना में भी 2 मिमी. पानी गिरा है | किसानों के लिए अगले 24 घंटे मह्त्वपूर्ण रहने वाले हैं मध्य प्रदेश के 9 जिलों में तेज हवा के साथ बारिश होने की उम्मीद है |

यह भी पढ़ें   लॉक डाउन में बिजली बिल की दरों में दी जा रही है 50 प्रतिशत की छूट

किसानों के लिए सलाह

किसानों को सलाह दी जाती है की अ फसल अभी नहीं कटी है तो 5 मई तक फसल को नहीं काटे क्योंकि कभी भी बारिश तथा तूफान शुरू हो सकता है | जिसके कारण काफी नुकसान उठाना पड़ सकता है | जो किसान भाई अपनी फसल काट चुके है परन्तु अभी तक बेच नहीं पाए हैं अपनी फसल को ढककर रखें |

पिछला लेखफसलों में खाद (उर्वरक) का उपयोग करने से पहले यह बातें जरुर जानें
अगला लेखवर्ष 2019 में मशरूम उत्पादन एवं बिज़नेस करने के लिए ट्रेनिंग कब एवं कहाँ से लें

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

अपना कमेंट लिखें
आपका नाम लिखें.