back to top
सोमवार, मई 27, 2024
होमकिसान समाचारअपनी उपज मण्डी में बेचने पर किसानों को दिया जाएगा 2.5...

अपनी उपज मण्डी में बेचने पर किसानों को दिया जाएगा 2.5 लाख रुपए का पुरस्कार

कृषक उपहार योजना के तहत किसान पुरस्कार

देश में किसानों को कृषि क्षेत्र में नई-नई तकनीक अपनाने के लिए सरकार दारा प्रोत्साहन दिया जा रहा है, इसके लिए कई नई योजनाओं की शुरुआत की गई है। इस कड़ी में राजस्थान राज्य में कृषि विपणन विभाग द्वारा कृषि उपज मण्डी समितियों के माध्यम से किसानों के लिए “कृषक उपहार योजना” लागू की गई है, जिसके तहत किसानों को मण्डी समिति में संचालित ई-नाम परियोजना के तहत अपनी कृषि उपज बेचने एवं ई-भुगतान प्राप्त करने पर निःशुल्क ई-उपहार कूपन मण्डी समिति के माध्यम से जारी किये गये है। 

जारी कूपनों के विरुद्ध ड्रॉ लॉटरी के माध्यम से किसानों का चयन कर उन्हें पुरस्कृत किया जाएगा। किसानों को यह पुरस्कार मंडी स्तर पर, खंड स्तर पर एवं राज्य स्तर पर दिए जाएँगे। मंडी समितियों द्वारा यह अलग-अलग तारीखों पर अलग-अलग समय पर में निकाली जाएगी।

किसानों को कितना पुरस्कार दिया जाएगा?

कृषक उपहार योजना के तहत मण्डी स्तर पर प्रथम पुरस्कार 25 हजार रूपये, द्वितीय पुरस्कार 15 हजार रुपए एवं तृतीय पुरस्कार 10 हजार रूपये दिया जाएगा। इसी प्रकार खण्ड स्तर पर प्रथम पुरस्कार 50 हजार रूपये, द्वितीय पुरस्कार 30 हजार रुपए एवं तृतीय पुरस्कार 20 हजार रूपये एवं राज्य स्तर पर प्रथम पुरस्कार 2.5 लाख रुपये, द्वितीय पुरस्कार 1.5 लाख रुपए एवं तृतीय पुरस्कार 1 लाख रूपये दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें   सिंचाई के लिए नहरों में पानी देने के लिए जल संसाधन विभाग ने जारी की एसओपी, किसानों को इस समय मिलेगा पानी

इन किसानों को किया जाएगा शामिल

योजना के तहत पुरस्कार कृषकों द्वारा बेची गई फसल अवधि 1 जुलाई 2022 से 31 दिसम्बर 2022 के मध्य विक्रित फसल के विक्रय पर्ची पर प्राप्त कूपन एवं ई-भुगतान पर जारी कूपन के आधार पर लॉटरी के माध्यम से किया जाएगा। विक्रित कृषि उपज के विक्रय मूल्य 10 हजार एवं इसके गुणक पर एक निःशुल्क उपहार कूपन मण्डी समिति द्वारा जारी किया जाता है।

मण्डी स्तर पर कृषक उपहार योजना की ड्रॉ लॉटरी निकालने के लिए तीन सदस्यीय समिति जिसके अध्यक्ष सम्बन्धित मण्डी समिति के प्रशासक / अध्यक्ष, सदस्य सचिव, सम्बन्धित मण्डी समिति के मण्डी सचिव एवं संयुक्त या उप निदेशक खण्ड स्तर सदस्य होंगें, जिसका गठन राज्य सरकार द्वारा किया गया है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
यहाँ आपका नाम लिखें

ताजा खबर