इन किसानों को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का पैसा जल्द दिया जाएगा

1
11702
pm fasal bima yojna ki rashi chhattisgar kisano ko kab milegi
kisan app download

प्रधानमंत्री फसला बीमा योजना का पैसा

किसानों के लिए एक बार फिर उम्मीद की खबर है , जिसके मुताबिक पिछले वर्ष के खरीफ फसल के नुकसानी की भरपाई के लिए बीमा राशि दिया जायेगा | पिछले वर्ष प्राकृतिक आपदा से छत्तीसगढ़ राज्य में काफी नुकसान हुआ था लेकिन कंपनी के द्वारा किसी भी प्रकार का न तो सर्वे किया गया था और न ही किसी किसान को बीमा राशि दी गई थी | इस वर्ष 62 हजार किसानों को 104 करोड़ 9 लाख रूपये का भुगतान किया जायेगा |  पूरी जानकारी इस प्रकार है |

कौन सी बीमा कम्पनी देगीं पैसा

खरीफ वर्ष 2018 में बीमा कंपनी यूनाईटेड इंडिया इंश्योरेंस कंपनी के प्रतिनिधियों को (यूआईसीआईआईएल) लाबित फसल क्षति के दावा भुगतान को जल्द से जल्द निराकरण करने के निर्देश दिए गए | छत्तीसगढ़ कंपनी के प्रतिनिधयों से बैठक के बाद यह फैसला लिया गया है | बीमा कंपनी के प्रतिनिधियों द्वारा अवगत कराया गया कि खरीफ 2018 में लगभग 62 हजार किसानों को उनके फसल क्षति का फसल बीमा राशि 104 करोड़ 9 लाख रुपए का भुगतान किया जा चूका है |

यह भी पढ़ें   मूंग,उड़द और मूंगफली की बकाया राशि का भुगतान किसानों के बैंक खातों में किया जा रहा है

इसी के अनुक्रम में रबी 2018 – 19 में अधिकृत कंपनी बजाज एलायंस द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार 12 हजार 663 कृषकों को उनकी फसल क्षति की दावा राशि 14 करोड़ 23 लाख रूपये का भुगतान संबंधित बीमित कृषकों के खाते में किया जा चूका है | बैठक में उपस्थित खरीब 2019 के अधिकृत कंपनी एग्रीकल्चर इंश्योरेंस कंपनी, के प्रतिनिधि द्वारा अवगत कराया गया कि चालू खरीफ में कुल एक लाख 14 हजार 839 कृषकों का बीमा कराया गया है |

खरीफ 2019 में फसल क्षति के आंकलन हेतु संपन्न होने वाले आगामी फसल कटाई की विस्तृत समीक्षा लेते हुये राजस्व एवं कृषक विभाग के मैदानी अम्लों को न्यायदर्श पद्धति से फसल कटाई एप के माध्यम से फसल कटाई करने के निर्देश दिए गए हैं | साथ ही बीमा कंपनी एआईसी (AIC) के जिला समन्वयक को प्रत्येक फसल कटाई प्रयोग के समय उनके बीमा प्रतिनिधियों को उपस्थित रहने के निर्देश दिए |

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

kisan samadhan android app

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here