इन किसानों को किया गया फसल बीमा राशि का भुगतान

0
4542
pradhanmantri fasal bima ka paisa uttar pradesh

फसल बीमा क्लेम का भुगतान

देर से ही सही लेकिन किसानों को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ मिलने लगा है | किसानों को हमेशा से शिकायत रहती है कि किसानों से बीमा का प्रीमियम तो लिया जाता है लेकिन फसल नुकसानी पर क्लेम राशि नहीं दिया जाती है | इसे लेकर समय – समय पर किसान प्रदर्शन भी करते रहते हैं |

अभी किस राज्य के किसानों को बीमा क्लेम दिया गया है ?

उत्तर प्रदेश में कृषि विभाग की जानकारी के अनुसार प्रदेश के किसानों को वर्ष 2018 – 19 में फसल के नुकसानी का क्लेम दिया गया है | वर्ष 2018 – 19 में योजना के अंतर्गत 31.47 लाख किसानों ने बीमा कराया था जो किसानों की 26.87 लाख हेक्टेयर भूमि का बीमा किया गया था |

वर्ष 2018 – 19 में प्राकृतिक आपदा के कारण फसल नुकसानी पर 5.58 लाख किसानों को 419.54 करोड़ रूपये की क्षतिपूर्ति का भुगतान किया गया | इस तरह वर्ष 2018 – 19 में योजना के अंतर्गत 26.69 लाख बीमित किसानों द्वारा 24.22 लाख हेक्टेयर कृषि भूमि में फसलों का बीमा कराया गया था, जिसमें से 0.38 लाख किसानों को 18.11 करोड़ रूपये की क्षतिपूर्ति का भुगतान किया गया है |

यह भी पढ़ें   जुलाई से किसानों को खरीफ फसल के लिए दिया जाएगा कृषि लोन

ऐसा नहीं है की उत्तर प्रदेश में पहली बार बीमा राशि दिया गया है बल्कि इससे पिहले भी किसानों को बीमा राशि दिया गया है | अगर बात 2017 की करें तो खरीफ – 2017 में 25.60 लाख बीमित किसानों द्वारा 23.70 लाख हेक्टेयर कृषि भूमि में फसलों का बीमा कराया गया | इन बीमित किसानों में से योजना के प्राविधानों के अनुरूप 4.01 लाख किसनों को 244.75 करोड़ रूपये की क्षतिपूर्ति का भुगतान किया गया | इसी प्रकार रबी 2017 – 18 में योजना के अंतर्गत 28.13 लाख बीमित किसनों द्वारा 23.07 लाख हेक्टेयर कृषि भूमि का बीमा कराया गया , जिसमें से 1.79 लाख किसानों को 119.85 करोड़ रूपये की क्षतिपूर्ति का भुगतान किया जा चूका है |

ऐसा नहीं है कि किसानों को प्रधान मंत्री फसल बीमा योजना के लिए परेशानी नहीं होना पड़ता है | अभी भी बहुत से किसानों की यह शिकायत रहती है कि वे बीमा कंपनी का नाम भी नहीं जानते हैं तथा बीमा क्लेम भी कम्पनी अपने अनुसार तय कर देती हैं जो उनके नुकसानी से काफी कम रहता है | इन सबके अलावा किसानों से बीमा का प्रीमियम बिना पूछे काट लिया जाता है |

यह भी पढ़ें   बिजली सम्बंधित शिकायत के लिए इस नम्बर पर करें कॉल

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

kisan samadhan android app

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here