60 प्रतिशत की सब्सिडी पर मछली पालन करने के लिए आवेदन करें

0
1545
views
Apply for machali palan subsidy UP 2019-20

सब्सिडी पर मछली पालन हेतु आवेदन

कभी मछली केवल भारत के तटवर्ती क्षेत्रों में तथा खारे पानी में ही हुआ करती थी | अब देश में मछली पालन मीठे पानी में भी किया जा रहा है | यह किसानों की सबसे सुरक्षित और कम भूमि में अधिक आय देने वाला क्षेत्र हैं | इसे लेकर केंद्र सरकार तथा राज्य सरकार किसानों को लगातार प्रोत्साहित कर रही है | अब तो केंद्र तथा राज्य सरकार बजट में अलग से व्यवस्था करती है |

इसके तहत उत्तर प्रदेश सरकार ने वर्ष 2019 – 20 के लिए प्रदेश के किसानों को मत्स्य पालन के लिए सब्सिडी दे रही है | जिसे ईच्छुक किसान आवेदन करके योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं | इस योजना की पूरी जानकारी किसान समाधान लेकर आया है |

मछली पालन हेतु योजना क्या है ?

नीली क्रांति योजना है इसे भारत तथा उत्तर प्रदेश सरकार की सहयोग से चलाया जा रहा है | इस योजना के तहत मत्स्य विभाग के सभी योजना के लिए आवेदन माँगा गया है | यह योजना सभी वर्गों के लिए है | सभी वर्ग को सब्सिडी अलग – अलग मिलेगी |

यह भी पढ़ें   अब तक का सबसे बड़ा कृषि बजट,लोन माफी के लिए दिए गए 8,000 करोड़ रुपए

मछली पालन योजना के तहत किसान को क्या लाभ मिलेगा ?

परियोजना के आधार पर संचालित इस योजना के तहत अनुसूचित जाती / जनजाति के लाभार्थियों को परियोजना का 60 प्रतिशत तथा शेष वर्ग के लाभार्थी को 40 प्रतिशत अनुदान के रूप उपलब्ध कराया जायेगा | इस योजना के तहत मत्स्य तलाबों एवं झीलों का मत्स्य पालन के लिए विकास ,मत्स्य बीज उत्पादन हेतु मत्स्य हेच्रियों एवं बीज संवर्धन इकाईयों की स्थापना, सौर ऊर्जा से संचालित मत्स्य प्रबंधन इकाईयों की स्थापना, पोस्ट हार्वेस्ट मैनेजमेन्ट के अंतर्गत कोल्ड चेन एवं कोल्ड रम की स्थापना शीत मत्स्य विपणन एवं मूल्यवर्धित मत्स्य उत्पादों की बिक्री एवं क्षेत्र विशेष में मत्स्य विकास से संबंधित नवाचार परियोजनायें संचालित की जा सकती है |

कब आवेदन करना है ?

इस योजना का आवेदन शुरू हो गया है जो 30 सितम्बर 2019 – 20 तक चलेगा |  इच्छुक किसान इस योजना के लाभ लेने के लिए आवेदन कर सकते हैं |

मछली पालन हेतु आवेदन कैसे करें ?

किसान योजना के लाभ के लिए पंजीकृत मत्स्य विभाग के पोर्टल http://fymis.upsdc.gov.in पर कराया जा सकता है | इस संबंध में विस्तृत जानकारी संबंधित जिला मत्स्य अधिकारी / मत्स्य सहायक निदेशक के कार्यालय से एवं विभागीय वेबसाइट :- http://fisheries.upsdc.gov.in , ई. – मेल – [email protected], टोल – फ्री नंबर – 18001805661 एवं दूरभाष संख्या – 0522- 2742762 पर सम्पर्क कर सकते हैं |

यह भी पढ़ें   मछली पालक इस तरह अपनी आय को दोगुना कर सकते हैं ?

मछलीपालन अनुदान हेतु आवश्यक डाक्यूमेंट 

वर्ष 2019 – 20 हेतु इस योजना के अंतर्गत निर्धारित किसी भी मद में यदि कोई भी व्यक्ति निजी भूमि पर कोई कार्य कराना चाहते हों तो वह अपनी चयनित अविवादित भूमि के स्वामित्व के प्रमाण पत्र के साथ आधार कार्ड बैंक अकाउंट नम्बर बैंक आई.एफ.एस.सी. कोड नंबर एवं नियमानुसार बने परियोजना प्रस्ताव के साथ अपना पंजीकरण विभागीय पोर्टल पर करा सकता है |

इस तरह की ताजा जानकरी विडियो के माध्यम से पाने के लिए किसान समाधान को YouTube पर Subscribe करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here