72 हजार पशुपालकों को दिए गए गोबर खरीदी के 7 करोड़ 17 लाख रूपये

2
59
gobar kharidi ka bhugtan

पशुपालकों को किया गया गोबर खरीदी का भुगतान

छत्तीसगढ़ राज्य सरकार के द्वारा चलाई जा रही गोधन न्याय योजना के तहत पशुपालकों से 2 रूपये प्रति किलोग्राम की दर से गोबर खरीदा जाता है | जिससे पशुपालकों को अतिरिक्त आमदनी होती है | गोधन न्याय योजना के तहत प्रत्येक 15 दिनों में पशुपालकों को गोबर खरीदी का भुगतान किया जाता है | इस बार पशुपालकों को 2 माह पूरा होने पर भुगतान किया जा रहा है |

15 मार्च से 15 मई राज्य के दौरान राज्य जे कुल 72 लाख पशुपालकों से गोबर की खरीदी की गई है जिसका 7 करोड़ 17 लाख रूपये का भुगतान किया गया है | इसके आलवा गौठानों तथा महिला स्व–सहायता समूहों को 3.6 करोड़ रूपये की राशि ऑनलाइन अंतरित की गई हैं |

2 माह में 72 हजार पशुपालकों को दिए गए 7 करोड़ 17 लाख रूपये

योजना के अनुसार प्रत्येक 15 दिनों में पशुपालकों को गोबर क्रय का भुगतान किया जाता है | इस बार भुगतान में देरी हुई है इस कारण 2 माह का भुगतान एक साथ किया गया है | 2 माह पूरा होने पर 72 हजार पशुपालकों को 7 करोड़ 17 लाख रूपये का भुगतान किया गया है | अभी तक गोधन न्याय योजना के तहत पशुपालकों तथा ग्रामीणों को 88 करोड़ 15 लाख रूपये का भुगतान किया गया है | 15 दिनों पर सरकार के द्वारा गोबर खरीदने तथा उसकी राशि इस प्रकार है |

  • 15 से 31 मार्च :- इन 15 दिनों में राज्य के 30,452 पशुपालकों से गोबर खरीदा गया था | इन पशुपालकों को 15 दिन का राशि 3.52 करोड़ बनता है |
  • 1 अप्रैल से 15 अप्रैल :- इन 15 दिनों में राज्य के 22,922 पशुपालकों से गोबर खरीदा गया था | इन पशुपालकों का 2.14 करोड़ रूपये की राशि 15 दिनों में बना था |
  • 16 अप्रैल से 30 अप्रैल :- इन 15 दिनों में राज्य के 10,360 पशुपालकों से गोबर की खरीदी किया गया था | इन 15 दिनों में गोबर क्रय की राशि 0.88 करोड़ रूपये बनता था |
  • 1 मई से 15 मई :- इन 15 दिनों में राज्य के 8,157 पशुपालकों से गोबर की खरीदी किया गया था | इन 15 दिनों में गोबर क्रय की राशि 0.63 करोड़ रूपये बनता था |
यह भी पढ़ें   यह सरकार किसानों को देगी गेंहू पर 160 रुपए का बोनस

6 रूपये प्रति किलोग्राम में बेचा जाएगा वर्मी कम्पोस्ट (सुपर कम्पोस्ट)

गोधन न्याय योजना से क्रय किये गये गोबर से वर्मी कम्पोस्ट खाद बनाई जाती है | इसके लिए गांवों में गौठान बनाए गए है, जहाँ पर ग्रामीण महिलाओं के द्वारा क्रय किये गये गोबर से वर्मी कम्पोस्ट बनाया जाता है | इस वर्मी कम्पोस्ट को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सुपर कम्पोस्ट का नाम दिया है | इस सुपर कम्पोस्ट (वर्मी कम्पोस्ट) का न्यूनतम मूल्य 6 रूपये प्रति किलोग्राम निर्धारित किया गया है | अब कोई भी सुपर कम्पोस्ट को 6 रूपये प्रति किलोग्राम किए भाव से खरीदा सकता है |

2 COMMENTS

    • जी यह योजना छत्तीसगढ़ राज्य में हैं | वहां आप गोठान बनायें गए हैं वहां से या पटवारी से सम्पर्क कर पंजीकरण कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here