जैविक खेती के लिए 5,539 किसानों को 574.6185 लाख रूपये का अनुदान

8
17731
jaivik kheti anudan

जैविक खेती के लिए किसानों को अनुदान

कृषि में रासायनिक उर्वरक कि उपयोगिता कम करने के साथ – साथ भूमि की उर्वरा शक्ति को बरकरार रखने के लिए केंद्र सरकार राज्यों के साथ मिलकर जैविक खेती को बढ़ावा दे रही है | इसके लिए राज्य में किसानों को कृषि विज्ञान केंद्र से ट्रेनिंग के साथ–साथ सब्सिडी भी उपलब्ध करवाई जा रही है | किसानों को जैविक खेती के बाद जैविक उत्पाद को अच्छी भाव मिल सके इसके लिए भूमि का पंजीयन कराया जा रहा है | जिससे किसान को फसल बेचने में किसी भी प्रकार के परेशानी का सामना नहीं करना पड़ें साथ ही किसानों के लिए जैविक उत्पाद का क्रय विक्रय करने के लिए ऑनलाइन प्लेटफार्म भी डेवोलोप किया जा रहा है |

इस बात को ध्यान में रखते हुए बिहार राज्य सरकार ने राज्य के 13 जिलों में जैविक खेती को बढ़ावा दे रही है | इसके लिए राज्य में जैविक किसान समूह का गठन किया जा रहा है | इसके साथ ही भूमि का जैविक प्रमाणीकरण एवं किसानों को सब्सिडी भी दी जा रही है  | राज्य में सरकार द्वारा किसानों से ऑनलाइन आवेदन मांगे गए थे जिसके अनुसार किसानों को अनुदान दिया जा रहा है |

यह भी पढ़ें   एक बार फिर फसलों पर टिड्डी कीट का हमला, नियंत्रण के लिए 45 गाड़ियाँ एवं 600 ट्रेक्टर करेगें काम

13 जिलों के किसान कर रहे हैं जैविक खेती

राज्य के कृषि मंत्री ने बताया कि राज्य के 13 जिलों के 21,000 एकड़ क्षेत्र में जैविक खेती का लक्ष्य निर्धारित किया गया है | इनमें से 12 जिलों में जैविक खेती की शुरुआत हो चुकी है | यह 12 जिले इस प्रकार है :- बक्सर, भोजपुर, सारण, वैशाली, पटना, नालंदा, समस्तीपुर, बेगुसराय, खगड़िया, भागलपुर, मुंगेर एवं लखीसराय में 17,061 एकड़ में जैविक खेती की शुरुआत हो चुकी है | उन्होंने कहा कि वर्ष 2019 – 20 में कटिहार जिला की राशि कोषागार से निकासी नहीं हो पाने के कारण इस जिले में 1,000 एकड़ में वर्ष 2020–21 में इस योजना शुरू हुई |

जैविक खेती के लिए प्रदेश में 362 कृषक समूहों का गठन किया गया है

बिहार में जैविक खेती समूह के आधार पर किया जा रहा है तथा इसी के आधार पर समूह का पंजीयन भी किया जा रहा है | जैविक खेती के लिए अभी तक कुल 362 समूहों का गठन किया जा चूका है | जिसमें कुल 20,666 किसानों के पास कुल 17,061 एकड़ रकबा है | किसान समूहों द्वारा जैविक खेती करने एवं उसका प्र प्रमाणीकरण करने हेतु किसान समूहों की वैधता मान्यता कि प्रक्रिया चल रही है | अभी तक 65 किसान समूहों का निबंधन हो चुका है और 231 किसान समूहों का निबंधन करने हेतु सहकारिता विभाग को भेजा गया है |

यह भी पढ़ें   कस्टम हायरिंग सेंटर एवं कृषि यंत्र सब्सिडी पर लेने के लिए आवेदन करें

जैविक खेती के लिए किसानों को प्रति एकड़ दिया जाने वाला अनुदान

बिहार राज्य में जैविक खेती योजना के अंतर्गत लाभुक किसानों को 11,500 रूपये प्रति एकड़ की दर से अनुदान दिया जा रहा है | अभी तक 5,539 किसानों को 574.6185 लाख रूपये अनुदान की राशी डी.बी.टी. के माध्यम से सीधे उनके खाता में उपलब्ध कराया गया है |

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

8 COMMENTS

  1. Dinesh Kumar
    मैं जैविक खेती करना चाहते हैं।
    इसके बारे में समझाया जाये।
    गोपालगंज से
    विहार

  2. बहुत बहुत सुन्दर योजनायें । सरकार को बहुत बहुत धन्यवाद ।

  3. Sarkar fasal beema na karaye to sahi hai kyoki Kisan or sarkar dono beema kampani dwara lut jate hai kisano ko milta kuch nahi beema ke liye sarkar ko gram ikai har fasal ke liye banana chahiye tabhi Kisan ko fayda hoga

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here