back to top
सोमवार, अप्रैल 15, 2024
होमकिसान समाचारओला एवं बारिश से किसानों को हुए नुकसान का मुआवजा देने के...

ओला एवं बारिश से किसानों को हुए नुकसान का मुआवजा देने के लिए सरकार ने जारी की 23 करोड़ रुपये की राशि

बीते दिनों तेज हवा आँधी, बारिश एवं ओला वृष्टि के चलते किसानों की फसलों को बहुत अधिक नुकसान हुआ था। जिसको देखते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किसानों को जल्द राहत देने के लिए सर्वे करने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिये थे। इस कड़ी में वर्षा व ओलावृष्टि से सर्वाधिक प्रभावित 9 जिलों के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 23 करोड़ रुपये की राशि जारी कर दी है।

सर्वेक्षण के बाद सर्वाधिक प्रभावित जिलों में जालौन, ललितपुर, महोबा, सहारनपुर, बांदा, बस्ती, झाँसी, शामली और चित्रकूट को शामिल किया गया है। जालौन में फसल को सबसे ज्यादा नुकसान हुआ है। इसलिए सबसे अधिक राशि जालौन जिले के लिए ही जारी की गई है।

1 से 3 मार्च के दौरान फसलों को हुआ था नुकसान

राज्य सरकार के प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि मुख्यमंत्री ने 9 जिलों में बारिश और ओला वृष्टि से हुई फ़सल क्षति से प्रभावित किसानों को अविलंब मुआवजा राशि प्रदान करने के लिए 23 करोड़ रुपये की धनराशि अग्रिम तौर पर स्वीकृत की है। प्रवक्ता के अनुसार 01 से 03 मार्च 2024 की अवधि में जनपद बांदा, बस्ती, चित्रकूट, जालौन, झाँसी, ललितपुर, महोबा, सहारनपुर तथा शामली शामिल है। इन जिलों के किसानों को राहत देने के लिए यह धनराशि स्वीकृत की गई है।

यह भी पढ़ें   पिंजरे में मछली पालन कर किसान यहाँ कर रहें है लाखों रुपये की कमाई

प्रमुख सचिव राजस्व पी. गुरु प्रसाद ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर खराब मौसम से क्षतिग्रस्त फसलों के सर्वे के लिए प्रदेश के सभी जिला अधिकारियों को खेतों में स्थलीय आँकलन के लिए भेजा था। जिलाधिकारियों की रिपोर्ट के बाद प्रदेश के नौ जिलों में सर्वाधिक नुकसान की रिपोर्ट तैयार करके विभाग को भेजी गई थी। मंगलवार को मुख्यमंत्री ने रिपोर्ट का अध्ययन करने के तत्काल बाद ही 9 जिलों के लिए 23 करोड़ रुपये की धनराशि जारी कर दी।

किस जिले के लिए कितनी धनराशि जारी की गई?

राहत आयुक्त जीएस नवीन ने बताया कि जालौन के लिए सबसे ज्यादा 5 करोड़ रुपये स्वीकृत किए गए हैं। वहीं ललितपुर, महोबा, सहारनपुर के लिये 3-3 करोड़ रुपये की धनराशि स्वीकृत की गई है। इसी तरह बांदा, बस्ती, झाँसी और शामली के लिये 2-2 करोड़ रुपये की धनराशि स्वीकृत की गई है। इसके अलावा चित्रकूट के लिए 1 करोड़ रुपये की धनराशि स्वीकृत की गई है। इन जिलों में किसानों की 33 प्रतिशत से अधिक फसल बर्बाद हो गई है। प्रभावित किसानों को मुआवजा देने की प्रक्रिया चल रही है।

यह भी पढ़ें   राजस्थान बजट 2024: किसानों को पीएम किसान योजना में अब हर साल मिलेंगे 8000 रुपये

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
यहाँ आपका नाम लिखें

ताजा खबरें

डाउनलोड एप