back to top
सोमवार, अप्रैल 15, 2024
होमकिसान समाचारकिसानों को फसल बीमा योजना से जोड़ने के लिए गाँव-गाँव जाएँगे प्रचार...

किसानों को फसल बीमा योजना से जोड़ने के लिए गाँव-गाँव जाएँगे प्रचार रथ

फसल बीमा योजना खरीफ 2023 के लिए प्रचार रथ

देश में अभी खरीफ फसलों की बुआई के साथ ही किसानों को सुरक्षा कवच उपलब्ध कराने के लिए फसलों का बीमा भी किया जा रहा है। ऐसे में अधिक से अधिक किसान योजना से जुड़ सके इसके लिए सरकार द्वारा इसके प्रचार के लिए कई कदम उठाए गए हैं। इस कड़ी में मध्यप्रदेश के किसानकल्याण तथा कृषि विकास मंत्री कमल पटेल ने भोपाल से प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के प्रचार रथों को हरी झण्डी दिखा कर रवाना किया।

इस अवसर पर कृषि मंत्री ने किसानों से 31 जुलाई तक अपनी फसलों का बीमा कराने का आहवान किया। उन्होंने कहा कि रथ सभी 53 जिलों में गाँवगाँव जाकर फसल बीमा योजना की जानकारी देकर किसानों को फसलों का बीमा कराने के लिये प्रेरित और प्रोत्साहित करेंगे।

किसानों को खरीफ फसलों के लिए देना होगा 2 प्रतिशत प्रीमियम 

कृषि मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में किसानों को आपदा में राहत प्रदान करने के लिये प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना संचालित की जा रही है। योजना से लाभान्वित करने के लिये उनकी फसलों का बीमा कराया जाता है। किसानों से रबी की फसलों का डेढ़ प्रतिशत और खरीफ फसलों का दो प्रतिशत प्रीमियम राशि ली जाती है। फसलों के बीमे के लिये शेष प्रीमियम राशि का भुगतान बीमा कम्पनियों को सरकार के द्वारा किया जाता है।

यह भी पढ़ें   अब तक 11 हजार से अधिक कृषि कार्य करते हुए दुर्घटना का शिकार हुए किसानों को दिया गया मुआवजा

किसान 31 जुलाई तक कराएँ खरीफ फसलों का बीमा 

कृषि मंत्री ने किसानों से आहवान किया कि गाँवगाँव आने वाले प्रचार रथों से फसल बीमा योजना की समुचित जानकारी प्राप्त कर 31 जुलाई से पूर्व अपनी फसलों का बीमा करायें और योजना का लाभ उठायें।

उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि किसानों से वर्ष 2016 से अब तक मात्र 5 हजार 130 करोड़ रूपये की राशि प्रीमियम के रूप में ली गई है। शेष प्रीमियम राशि केन्द्र और राज्य सरकार ने मिल कर जमा की है। अब तक 1 करोड़ 74 लाख किसानों को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में 27 हजार 626 करोड़ 66 लाख रूपये की दावा राशि का भुगतान किया है।

1 टिप्पणी

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
यहाँ आपका नाम लिखें

ताजा खबरें

डाउनलोड एप