इन जिलों को किया गया सूखा ग्रस्त घोषित, 12 लाख किसानों को दी जाएगी मदद

1
13558
views
sukha grast jile 2019

सूखा प्रभावित जिले खरीफ वर्ष 2019

देश में इस वर्ष मौसम की मार सबसे ज्यादा किसानों को झेलना पड़ा है | कहीं बाढ़ तो कहीं सूखे की स्थिति बनी हुई है | कुछे एसे भी राज्य हैं जहाँ पर बाढ़ तथा सुखा दोनों से जूझना पड़ रहा है | सूखे से प्रभावित राज्य में उत्तर से लेकर दक्षिण के रज्यों में भी देखने को मिला है | उत्तर के राज्यों में बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश मुख्य है |

सूखे से प्रभावित के लिए 30 प्रतिशत से कम बारिश वाले राज्यों तथा जिलों को शामिल किया गया है | देश के अलग–अलग राज्यों में 208 जिलों को सुखा घोषित किया गया है  इन्हीं में से झारखंड राज्य भी है | इस राज्य के 10 जिलों को सुखा घोषित किया गया है | इसके लिए केंद्रीय टीम ने आकर जायजा लिए है  जिस जिले में 30 प्रतिशत से कम बारिश हुआ है उन सभी राज्यों या जिलों के किसानों को सुखा राहत दिया जायेगा | ठीक हरियाणा में भी जिलों का जायजा लिया जा रहा है | इसकी पूरी जानकारी किसान समाधान लेकर आया है |

सुखा घोषित करने का आधार क्या है ?

सुखा के लिए केंद्रीय टीम ने आकार निरिक्षण किया है जिसमें झारखंड के 24 में से 18 जिलों में सामान्य से बहुत कम बारिश हुआ है | 25 सितम्बर तक राज्य में 1023.1 मिमी बारिश होनी चाहिए थी परन्तु 714.7 मिमी बारिश हुई | लेकिन जाँच टीम ने 1 अगस्त से 4 सितम्बर के समय को आधार लिया है | इसका मतलब यह है कि आगे बारिस होती है तो भी सुखा ही माना जाएगा |

कितने जिलों को सुखा घोषित किया गया है ?

झारखंड के 10 जिलों को सुखा घोषित किया गया है | जिसमें बोकारों को सबसे ज्यादा सुखा मन गया है | इसके अलावा चतरा, देवघर, गढवा, गिरिडीह, गोड्डा, हजारीबाग, जामताड़ा, कोडरमा, और पाकुड़ जिला शामिल है | इसके अलावा झारखंड सरकार ने रांची, दुमका, लातेहार जिलों को सुखा में शामिल करने का प्रस्ताव भेजा है |

सुखा घोषित होने से किसानों को क्या लाभ होगा ?

जिस जिला को सुखा घोषित किया गया है उन्हें निम्नलिखित लाभ प्राप्त होगा |

  • अगली फसल के लिए अनुदानित दर पर खाद – बीज मिलेगा |
  • स्वास्थय विभाग के तरफ से जरूरत की दवाईंया दी जाएगी |
  • फसल बीमा की राशि का भुगतान होगा |
  • बैंकों के ऋण वसूली पर रोक लगेगी केंद्र सरकार द्वारा सुखाड़ राहत राशि मिलेगी |

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here