कम वर्षा से हुए फसलों को नुकसान का आकलन कर किसानों को जल्द दिया जाएगा मुआवजा

2
kam varsha se hue fasak ka muabja

सूखाग्रस्त क्षेत्रों में फसल नुकसान पर सर्वेक्षण

इस वर्ष देश में वर्षा असामन्य रही कुछ जगहों पर अधिक तो कुछ जगहों पर बहुत अधिक हुई है | दोनों ही कारणों से किसानों की फसलों को बहुत अधिक नुकसान का सामना करना पड़ रहा है | कहीं कहीं तो किसानों की पूरी की पूरी फसल ख़राब हो गई है | ऐसे में जरुरी है की सरकारें जल्द से जल्द ख़राब फसलों का आकलन कर किसानों को राहत राशि प्रदान करें ताकि किसान रबी फसलों की बुआई समय पर कर सकें और खरीफ फसलों की कुछ भरपाई की जा सके | इन सभी बातों को ध्यान में रख कर हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने प्रदेश में सभी खड़ी फसलों की स्थिति का आकलन करने के लिए तुरन्त गिरदावरी करने और रिपोर्ट प्रेषित करने के निर्देश दिए हैं।

किन किसानों को दिया जाएगा मुआबजा

एक सरकारी प्रवक्ता ने आज यहां यह जानकारी देते हुए बताया कि मानसून के दौरान प्रदेश के कुछ क्षेत्रों में सामान्य से बहुत कम वर्षा होने की रिपोर्ट है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिए है कि प्रदेश में सामान्य से 30 प्रतिशत या उससे कम वर्षा होने के कारण खड़ी फसलों को हुए नुकसान का आकलन करने के लिए गिरदावरी के कार्य को 30 सितम्बर, 2019 तक पूरा करके तुरन्त रिपोर्ट भेजी जाए ताकि किसानों की खड़ी फसलों को हुए नुकसान के लिए समय पर भरपाई की जा सके ।

यह भी पढ़ें   “राष्‍ट्रीय डेयरी अवसंरचना योजना” परियोजना के लिए जाईका ओडीए ऋण सहायता

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here