इस योजना में दी गई सब्सिडी की राशि किसानों के बैंक खातों में दी जा रही है

1
2576

कृषि आदान इनपुट सब्सिडी योजना पर दी जाने वाली अनुदान राशि

इस वर्ष असामन्य से कम बारिश के कारण देश के अलग – अलग राज्यों में सुखा पड़ा था | जिसके कारण किसानों की खरीफ फसल प्रभावित हुई थी | जिससे किसान खरीफ फसलों से तो कुछ आय कर नहीं पाए इससे किसानों के सामने रबी फसल की खेती करने की समस्या भी सामने आई | इन सब बातों को ध्यान में रखकर अलग अलग राज्य सरकारों ने किसान को विभिन्न योजनाओं के माध्यम से सहयता प्रदान करने का फैसला किया था | इस सूखे से सबसे अधिक प्रभावित राज्य बिहार एवं राजस्थान हैं | इसमें बिहार के 24 एवं राजस्थान के 9 जिले प्रभावित हुए हैं |

किन योजनाओं की राशि दी जा रही है ?

इस सूखे से सबसे अधिक प्रभावित राज्य बिहार एवं राजस्थान हैं | इसमें बिहार के 24 एवं राजस्थान के 9 जिले प्रभावित हुए हैं | बिहार सरकार ने किसानों के लिए डीजल अनुदान, कृषि आदान इनपुट सब्सिडी योजना आदि को लागू किया था | इसलिए बिहार सरकार ने अपने प्रदेश के किसानों के लिए राज्य के 24 जिले के चिन्हित 275 सूखाग्रस्त प्रखंडों के किसानों को कृषि इनपुट सब्सिडी योजना के तहत अनुदान दिया है |  इस योजना की राशि अब किसानों के बैंक खतों में ट्रान्सफर की जा रही है |

यह भी पढ़ें   इन सभी किसानों को नहीं मिलेगा PM-Kisan योजना के तहत 6,000 रुपए का लाभ

इस योजना की प्राप्ति के लिए किसानों को 30 नवम्बर तक ऑनलाइन फार्म भरना था | 30 नवम्बर 2018 तक बिहार के 16,01,743 किसानों ने कृषि इनपुट सब्सिडी के लिए आवेदन किया था | जिसमें से राज्य सरकार ने 11,81,768 किसानों के बैंक खतों में 711.25 करोड़ रुपया अन्तरित किया गया है | बचे हुए आवेदनों का सत्यापन किया जा रहा है | जैसे ही सत्यापन का कार्य पूर्ण हो जायेगा अन्य किसानों को भी राशि ट्रान्सफर कर दी जाएगी |

कितनी राशि दी जा रही है ?

खरीफ 2018 में अल्पवृष्टि के कारण राज्य के 275 चिन्हित सूखाग्रस्त प्रखंडों में कम वर्षा से प्रभावित फसलों की नुकसान की भरपाई करने हेतु कृषि इनपुट सब्सिडी योजना के अंतर्गत अनुदान का लाभ किसानों को देने की व्यवस्था की गई है | यह अनुदान किसानों को वार्षाश्रित फसल क्षेत्र के लिए 6,800 रु. प्रति हेक्टयर , सुनिश्चित सिंचाई आधारित फसल के लिए 13,500 रु. प्रति हेक्टयर की दर से अधिकतम 2 हेक्टयर के लिए दिया जा रहा है |

  1. अब किसी भी राज्य के किसी भी योजना की प्राप्ति के लिए किसानों को डी.बी.टी में पंजीयन होना जरुरी है |
  2. बिहार में रबी फसल के लिए किसानों को डीजल सब्सिडी दिया जा रहा है | जो प्रति लीटर 50 रुपया है | यह सभी रबी फसलों के साथ – साथ सब्जी की खेती पर भी दिया जा रहा है | यह सब्सिडी गेंहू के लिए 4 सिंचाई , मक्का के लिए 3 सिंचाई तथा बचे सभी फसलों के लिए 2 सिंचाई के पैसे दिए जा रहे हैं | अधिक जानकारी के लिए इसे जरुर पढ़ें- सिंचाई के लिए डीजल अनुदान

यह भी पढ़ें   1.11 लाख किसानों को दी गई फसल बीमा राशि

किसान समाधान के YouTube को सदस्यता लें (Subscribe)करें

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

अपना कमेंट लिखें
आपका नाम लिखें.