बुधवार, फ़रवरी 28, 2024
होमकिसान समाचारड्रोन से कीटनाशकों के छिड़काव के लिए सरकार दे रही है 50...

ड्रोन से कीटनाशकों के छिड़काव के लिए सरकार दे रही है 50 प्रतिशत अनुदान, ऐसे करें आवेदन

फसलों पर ड्रोन के कीटनाशकों के छिड़काव के लिए अनुदान

खेतों में अभी गेहूं, चना, सरसों, मसूर सहित अन्य रबी फसलें लगी हुई है। ऐसे में इन फसलों में लगने वाले कीट-रोगों से परेशान किसानों के लिए राहत भरी खबर आई है। फसल सुरक्षा योजना में पहली बार फसलों पर ड्रोन से भी कीटनाशकों के छिड़काव पर सरकार अनुदान देने जा रही है। बिहार सरकार ने इस वर्ष फसलों पर कीटनाशकों का छिड़काव ड्रोन से करने का निर्णय लिया है। इसके लिए कृषि विभाग बिहार द्वारा किसानों से आवेदन माँगे गये हैं।

बिहार सरकार फसलों में लगने वाले कीट-रोगों से फसलों को होने वाले नुक़सान को कम करने के लिए ड्रोन की मदद से कीटनाशक के छिड़काव पर किसानों को अनुदान उपलब्ध करा रही है। ड्रोन से छिड़काव करने से पानी, श्रम, पूँजी की बचत होगी साथ ही किसान के स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव भी नहीं पड़ेगा। ऐसे में जो भी किसान अपने खेतों में कीटनाशकों का छिड़काव करना चाहते हैं वे किसान ऑनलाइन आवेदन कर योजना का लाभ ले सकते हैं।

ड्रोन से कीटनाशक दवाओं के छिड़काव पर कितना अनुदान Subsidy दिया जाएगा

सरकार ने दवा का छिड़काव करने वाली सेवा प्रदाता कंपनियों का चयन कर लिया है। इसके लिए आवेदन प्रक्रिया भी शुरू की जा चुकी है। सरकार किसानों को फसलों पर ड्रोन से कीटनाशक के छिड़काव पर 50 प्रतिशत प्रति एकड़ का अनुदान देगी। खास बात यह है कि रैयत और गैर रैयत दोनों प्रकार के किसानों को योजना का लाभ दिया जायेगा। इसके लिए शर्त यह है कि आवेदन करते समय ग़ैर रैयत किसानों को शपथ पत्र या पंचायत प्रतिनिधि से अनुशंसा पत्र देना होगा।

यह भी पढ़ें   मधुमक्खी पालन के लिए किसानों को दिया जाएगा निःशुल्क प्रशिक्षण, अभी करें आवेदन

योजना के तहत कम से कम एक एकड़ तो अधिकतम 10 एकड़ में एक किसान ड्रोन से छिड़काव करा सकते हैं। प्रति एकड़ किसानों को ड्रोन से दवा छिड़काव कराने पर 480 रुपये का खर्च आता है। जिस पर राज्य सरकार 50 फीसदी यानि कि 240 रुपये का अनुदान देगी, जबकि शेष राशि 240 रुपये का भुगतान किसान को स्वयं ही करना होगा। एक किसान अधिकतम 10 एकड़ क्षेत्र के लिए अनुदान प्राप्त कर सकता है यानि की एक किसान को 10 एकड़ में दवा के छिड़काव के लिए 2400 रुपये का अनुदान मिलेगा।

आवेदन के लिए आवश्यक दस्तावेज

किसानों को योजना का लाभ लेने के लिए कृषि विभाग एवं कृषि वैज्ञानिक द्वारा अनुशंसित कीटनाशकों का प्रयोग करना होगा। ड्रोन से दवा छिड़काव कराने के लिए इच्छुक किसान कृषि विभाग के डीबीटी पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। आवेदन करते समय जमीन का रकबा, फसल के प्रकार, जमीन की रसीद और आधार कार्ड देना होगा। कृषि समन्वयक, पौधा संरक्षण कर्मी, प्रखंड तकनीकी और सहायक प्रबंधक प्राप्त आवेदनों का सत्यापन करेंगे, जबकि चयनित एजेंसी ड्रोन से दवा का छिड़काव करेगी।

यह भी पढ़ें   यह हैं बाजरा की पौष्टिकता से भरपूर दो नई किस्में

अनुदान पर ड्रोन से कीटनाशक दवाओं के छिड़काव के लिए आवेदन कहाँ करें?

इच्छुक किसान जो फसलों पर ड्रोन से कीटनाशक दवाओं का छिड़काव करना चाहते हैं उन किसानों को योजना का लाभ लेने के लिए ऑनलाइन आवेदन करना होगा। इसके लिए किसान के पास कृषि विभाग के डीबीटी पोर्टल dbtagriculture.bihar.gov.in पर पंजीकरण होना आवश्यक है। योजना से जुड़ी विशेष जानकारी के लिए किसान निकटतम कृषि कार्यालय अथवा सहायक निदेशक, पौधा संरक्षण कार्यालय से संपर्क कर सकते हैं। किसान ग्रुप में या क्लस्टर बनाकर भी योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन कर सकते हैं।

ड्रोन से कीटनाशक दवाओं के छिड़काव के लिए ऑनलाइन आवेदन करने हेतु क्लिक करें

2 टिप्पणी

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
यहाँ आपका नाम लिखें

Trending Now

डाउनलोड एप