back to top
शनिवार, जून 15, 2024
होमकिसान समाचारकिसान अब घर बैठे इस ऐप पर अपना चेहरा दिखाकर करा...

किसान अब घर बैठे इस ऐप पर अपना चेहरा दिखाकर करा सकेंगे पीएम किसान योजना के लिए केवाईसी 

पीएम किसान योजना में ई-केवाईसी के लिए मोबाइल ऐप

देश में सभी पात्र किसानों कोप्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजनाका लाभ मिल सके इसके लिए सरकार ने सभी पंजीकृत किसानों से ईकेवाईसी को अनिवार्य कर दिया है। जिससे किसान सम्मान निधि की अगली किस्त उन्हीं किसानों को दी जाएगी जिन किसानों ने ईकेवाईसी कराया है। किसानों को ईकेवाईसी कराने में आ रही समस्याओं को दूर करने के लिए सरकार ने नया मोबाइल ऐप लांच कर दिया है। किसान इस ऐप की मदद से अब अपने चेहरे की मदद से भी ईकेवाईसी कर सकेंगे। 

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर ने 22 जून प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत फेस ऑथेंटिकेशन फीचर का पीएमकिसान मोबाइल ऐप लांच कर दिया है। किसान अब इस ऐप पर घर बैठे कहीं से भी अपना ई-केवाईसी कर सकते हैं।

सिर्फ फेस स्कैन से होगा ईकेवाईसी

आधुनिक टेक्नालॉजी के बेहतरीन उदाहरण इस ऐप से फेस ऑथेंटिकेशन फीचर का उपयोग कर किसान दूरदराजघर बैठे भी आसानी से बिना ओटीपी या फिंगरप्रिंट के ही फेस स्कैन कर ईकेवाईसी पूरा कर सकता है और 100 अन्य किसानों को भी उनके घर पर ईकेवाईसी करने में मदद कर सकता हैं।

यह भी पढ़ें   किसानों को 3 अप्रैल से मशरूम उत्पादन तकनीक पर दिया जाएगा प्रशिक्षण, यहाँ कराना होगा पंजीयन

भारत सरकार ने ईकेवाईसी को अनिवार्य रूप से पूरा करने की आवश्यकता समझते हुएकिसानों का ईकेवाईसी करने की क्षमता को राज्य सरकारों के अधिकारियों तक भी बढ़ाया हैजिससे हरेक अधिकारी 500 किसानों हेतु ईकेवाईसी प्रक्रिया को पूर्ण कर सकता है।

किसान ऐप पर कर सकते हैं यह कार्य

नया ऐप उपयोग में बहुत सरल हैगूगल प्ले स्टोर पर आसानी से डाउनलोड हेतु उपलब्ध है। ऐप किसानों को योजना व पीएम किसान खातों से संबंधित बहुतसी महत्वपूर्ण जानकारी भी प्रदान करेगा। इसमें नो यूजर स्टेटस माड्यूल उपयोग कर किसान लैंड सीडिंगआधार को बैंक खातों से जोड़ने व ईकेवाईसी का स्टेटस जान सकते है। 

विभाग ने लाभार्थियों के लिए उनके दरवाजे पर आधार से जुड़े बैंक खाते खोलने हेतु इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक (आईपीपीबीको भी शामिल किया है और सीएससी को राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों की मदद से ग्रामस्तरीय ईकेवाईसी शिविर आयोजित करने को कहा है।

यह भी पढ़ें   सरकार ने प्याज के निर्यात को दी मंजूरी, किसानों को अब प्याज की मिलेगी अच्छी कीमत

उल्लेखनीय है कि पीएम किसान दुनिया की सबसे बड़ी डीबीटी योजनाओं में एक है जिसमें किसानों को आधारकार्ड से जुड़े बैंक खातों में 6 हजार रुपए सालाना राशि, तीन किस्तों में सीधे हस्तांतरित की जाती है। 2.42 लाख करोड़ रुपए, 11 करोड़ से ज्यादा किसानों के खातों में शिफ्ट किए जा चुके हैं जिनमें 3 करोड़ से अधिक महिलाएं हैं।

1 टिप्पणी

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
यहाँ आपका नाम लिखें

ताजा खबर