किसान कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए कटाई के समय रखे यह सावधानियां

8911
corona virus se kisan suraksha nirdesh

कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव हेतु सावधानियां

देश में अभी कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए लॉकडाउन जारी है और यह लॉक डाउन 14 अप्रेल तक जारी रहेगा परन्तु किसानों के लिए यह घर बैठने का समय नहीं है | किसान को रिस्क लेकर अपने खेतों में लगी रबी फसलों की कटाई अभी करनी ही होगी | सरकार ने भी किसानों को फसलों की कटाई एवं जायद फसलों की बुआई के लिए लॉक डाउन में छूट प्रदान कर दी गई है | साथ ही किसानों को कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए दिशा निर्देश भी दिए गए हैं ताकि किसान कोरोना वायरस से सुरक्षित रहें | कृषि विभाग ने रबी फसलों की कटाई एवं थ्रेसिंग कार्य के दौरान कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का सख्ती से पालन करने, मुंह पर मास्क लगाने और फसल कटाई उपकरणों एवं खाने-पीने के बर्तनों के उपयोग में पूरी सावधानी बरतने सहित विभिन्न दिशा-निर्देश जारी किए हैं ।

यह भी पढ़ें   विडियो:स्टोन पिकर मशीन से खेत की मिट्टी से कंकर-पत्थर को मिनटों में निकालें

किसान खेती किसानी के कार्यों के समय रखें यह सावधानियां

  • खेत में फसल काटने एवं खाना खाते समय एक व्यक्ति से दूसरे के बीच कम से कम 1 से 5 मीटर की दूरी रखें।
  • खाने के बर्तन अलग-अलग रखें तथा प्रयोग के बाद साबुन के पानी से अच्छी तरह साफ करें।
  • कटाई के दौरान सभी व्यक्ति अपनी अलग-अलग पानी की बोतल रखें और मुंह पर मास्क का प्रयोग करें।
  • खेत में पर्याप्त मात्रा में पानी एवं साबुन या सेनीटाइजार की व्यवस्था रखें।
  • उपयोग में आने वाले कृषि यंत्रों को भी बार-बार साफ करें |
  • कटाई करने वाले सभी व्यक्ति अपने-अपने उपकरण ही काम में ले। साथ ही कटाई के दौरान बीच-बीच में अपने हाथों को साबुन के पानी से अच्छी तरह साफ करते रहें।
  • फसल कटाई कार्य अवधि में पहले दिन पहने कपड़े दूसरे दिन काम में न लें। काम में लिए कपड़ों को अच्छी तरह धोकर धूप में सुखाने के पश्चात ही पुनः काम में लें।
यह भी पढ़ें   सितम्बर माह में किसान भाई क्या-क्या कर सकते हैं

यदि किसी व्यक्ति को खांसी, जुकाम, बुखार, सिर दर्द, बदन दर्द आदि के लक्षण हो तो उसे फसल कटाई कार्य से अलग रखें और तुरंत नजदीकी स्वास्थ्य कर्मी को सूचित करें। थ्रेसिंग कार्य के दौरान भी इसी प्रकार सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क एवं खाने-पीने के बर्तनों के प्रयोग आदि में सभी सावधानियों का पूर्ण गंभीरता से पालन करें।

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

पिछला लेखकटाई के बाद खेतों में रखी फसलों का नुकसान होने पर बीमा मुआवजे के लिए किसान क्या करें
अगला लेखलॉकडाउन में हार्वेस्टर पर रोक नहीं, समय पर होगी फसलों की कटाई एवं खरीद

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

अपना कमेंट लिखें
आपका नाम लिखें.