राजस्थान फसल उपज के लिए पंजीयन

4685

राजस्थान फसल उपज के लिए पंजीयन अब ऑनलाइन पंजीयन करवाकर सीधे ही खरीद केंद्र पर अपनी उपज बेच सकेगें  राज्य में समर्थन मूल्य पर हो रही गेहूं खरीद को इस बार राजफैड एवं तिलम संघ ने आसान बनाकर किसानों को राहत दी है। किसान अब अपने घर के आस-पास के ई-मित्र केंद्र या नजदीकी खरीद केंद्र पर जाएं और हाथोंहाथ अपना रजिस्टे्रशन कराएं। किसान रजिस्टे्रशन करवाते वक्त भामाशाह कार्ड, गिरदावरी एवं बैंक पासबुक को साथ ले जाएं।

ऑनलाइन पंजीयन 

उन्होंने बताया कि पूर्व में जितनी भी खरीद हुई है, उनमें किसानों को तक खरीद केंद्र पर अपनी उपज बेचने के लिए लंबा इंतजार करना पड़ता था और केंद्र पर अव्यवस्थाएं उत्पन्न हो जाती थीं, जिससे एक दिन में बहुत कम किसानों से ही खरीद सम्भव हो पाती थी।

श्री अभय कुमार ने बताया कि किसान ऑनलाइन पंजीयन करवाकर अपनी उपज सीधे ही खरीद केंद्र पर बेचने के लिए ले जाएं। इससे भुगतान भी सीधा किसान के खाते में होता है और वह तय समय में अपने खेती संबंधी कार्यों को पूर्ण कर पाता है।

यह भी पढ़ें   इन 18 जिलों के 12943 गांवो को किया गया आभावग्रस्त घोषित, 49 लाख किसानों को मिलेगा मुआवजा

राजफैड की प्रबंध निदेशक डॉ. वीना प्रधान ने बताया कि पहले खरीद एजेंसी से भुगतान प्राप्त होने के बाद केवीएसएस द्वारा चेक बनाने में काफी वक्त लिया जाता था। किसानों को चेक लेने के लिए चक्कर लगाने पड़ते थे और चेक क्लियर होने में भी समय लगता था। किसानों को वर्ष 2016 में मूंग की खरीद का भुगतान प्राप्त करने में इस तरह की परेशानी का सामना करना पड़ा था, लेकिन ऑनलाइन पंजीयन से अब यह काम बहुत आसान और समय पर होने लगा है।

3 COMMENTS

LEAVE A REPLY

अपना कमेंट लिखें
आपका नाम लिखें.