back to top
28.6 C
Bhopal
मंगलवार, जुलाई 23, 2024
होमकिसान समाचारकिसानों को इस कारण से कम की गई बिजली की सप्लाई:...

किसानों को इस कारण से कम की गई बिजली की सप्लाई: ऊर्जा राज्यमंत्री

सिंचाई के लिए बिजली सप्लाई

फसलों के अच्छे उत्पादन के लिए उनकी समय पर सिंचाई करना आवश्यक है। लेकिन कई बार बिजली सप्लाई नहीं मिल पाने के चलते किसान समय पर सिंचाई नहीं कर पाते हैं जिससे फसलों को काफी नुकसान होता है। इस क्रम में राजस्थान विधानसभा में ऊर्जा राज्य मंत्री हीरालाल नागर से बुधवार के दिन किसानों को दी जाने वाली बिजली की सप्लाई और किसानों को दिये जाने वाले बिजली कनेक्शन को लेकर सवाल किया गया।

जिसके जबाब में राज्य के ऊर्जा राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) हीरालाल नागर ने बुधवार को विधानसभा में कहा कि कभी-कभी बिजली की लाइनों में फाल्ट के कारण किसानों को कृषि कार्य के लिए की जाने वाली 6 घंटे ब्लॉक में बिजली की आपूर्ति में व्यवधान आना संभव है। उन्होंने स्पष्ट किया कि इसकी भरपाई किसानों को अगले ब्लॉक में करने का प्रयास किया जाता है। 

किसानों को सिंचाई के लिए दी जाती है 6 घंटे बिजली

राज्य में किसानों को अलग-अलग ब्लॉक में सिंचाई के लिए 6 घंटे बिजली दी जाती है। विधायक गोविंद प्रसाद के मूल प्रश्न के लिखित जवाब में ऊर्जा मंत्री ने कहा कि विधानसभा क्षेत्र मनोहरथाना में किसानों को सामान्यतया दिन में निर्धारित ब्लॉक अनुसार 6 घंटे कृषि कार्य हेतु थ्री फेज बिजली उपलब्ध करवाई जा रही है। यदि बिजली लाइन में फाल्ट के कारण किसानों को यह बिजली नहीं मिल पाती है तो इसकी भरपाई किसानों को अगले ब्लॉक में करने का प्रयास किया जाता है। 

यह भी पढ़ें   कपास की खेती के लिए किसानों को दिया गया प्रशिक्षण, उत्पादन बढ़ाने के लिए दिये गये ये टिप्स

कितने किसानों को दिए गए कृषि कनेक्शन 

प्रश्नकाल में सदस्य द्वारा पूछे गए पूरक प्रश्नों के जवाब में ऊर्जा राज्य मंत्री ने कहा कि मनोहरथाना विधानसभा क्षेत्र में कृषि कनेक्शन के 744 विचाराधीन आवेदकों में से 144 जमा मांगपत्र वाले आवेदक हैं, जिनके कनेक्शन जारी करने हैं। यह कार्य प्रक्रियाधीन है तथा शेष 591 सामान्य श्रेणी एवं 9 अनुसूचित जाति श्रेणी के हैं जिनके मांगपत्र जारी करना शेष है। सामान्य श्रेणी के 591 आवेदन 22 फरवरी 2022 के हैं।

उन्होंने कहा कि इस विधानसभा क्षेत्र में 1 जनवरी 2021 से 31 दिसम्बर 2023 तक विगत तीन वर्षों में कृषि कनेक्शन हेतु 882 प्राप्त आवेदनों में से 127 कृषि कनेक्शन जारी किये गये हैं एवं 744 आवेदन विचाराधीन हैं। जबकि 11 आवेदन निरस्त किए गए। उन्होंने पंचायतवार संख्यात्मक विवरण सदन के पटल पर रखा।

ऊर्जा राज्य मंत्री ने बताया कि मनोहरथाना विधानसभा क्षेत्र में 578 जमा मांगपत्र वाले आवेदकों के कनेक्शन जारी करना शेष है। उन्होंने कहा कि लम्बित आवेदकों में सामान्य श्रेणी के 522, अनुसूचित जाति श्रेणी के 39 एवं बूंद-बूंद श्रेणी के 17 कृषि कनेक्शन जुलाई 2024 तक किया जाना लक्षित है।

यह भी पढ़ें   अनार के अधिक उत्पादन के लिए वैज्ञानिकों ने किसानों के खेत पर जाकर दिया प्रशिक्षण 

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
यहाँ आपका नाम लिखें

ताजा खबर