28 फरवरी तक 866 गांवों के किसानों को दिया जाएगा फसल नुकसानी का मुआवजा

29464
kharif fasal nuksan muawja

खरीफ-2021 में हुई फसल नुकसानी का मुआवजा

खरीफ सीजन में अधिक वर्षा, जलभराव एवं कीट रोगों के चलते किसानों की फसलों को काफी नुकसान हुआ था, किसानों को हुए इस नुकसान की भरपाई के लिए राज्य सरकारों के द्वारा विशेष गिरदावरी रिपोर्ट कराई गई थी। सर्वे के बाद अब किसानों को यह राशि हस्तांतरित करने का काम शुरू किया जा चूका है। हरियाणा सरकार ने खरीफ-2021 में किसानों को हुए फसल नुकसान का मुआवजा देने का काम शुरू कर दिया है। मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर ने निर्देश दिए हैं कि 28 फरवरी तक मुआवजा वितरण की प्रक्रिया को पूरा किया जाए।

किसानों को दिया जाएगा 561.11 करोड़ रुपए का मुआवजा

हरियाणा सरकार ने खरीफ-2021 के दौरान राज्य में भारी वर्षा, जल भराव तथा कीट हमलों से हुए फसलों के नुकसान की एवज में 866 गांवों के 8,95,712 किसानों को 561.11 करोड़ रुपये मुआवजा राशि सीधे किसानों के खातों में हस्तांतरित करने की शुरुआत कर दी है। किसानों के बैंक खातों में यह राशि 28 फरवरी तक दी जाएगी। यह राशि खरीफ सीजन में हुई राज्य में भारी बारिश, जल भराव एवं कीट रोगों के कारण कपास, मूँग, बाजरा, धान एवं गन्ना की फसलों का नुकसान हुआ था जिसके एवज़ में किसानों को यह राहत राशि दी जाएगी।

यह भी पढ़ें   कस्टम हायरिंग सेंटर एवं कृषि यंत्र सब्सिडी पर लेने के लिए आवेदन करें

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर कहा कि उन्होंने उपायुक्तों को रबी 2021-22 के दौरान फसलों को हुए नुकसान के आकलन के लिए वर्तमान में चल रही गिरदावरी को भी जल्द पूरा करने के निर्देश दिए ताकि किसानों को मुआवजा राशि समय पर मिल सके।

किस जिले के कितने किसानों को दिया जाएगा मुआवजा

विशेष गिरदावरी रिपोर्ट के अनुसार राज्य सरकार किसानों को मुआवजा वितरण का काम किया जाएगा। जिलों के आधार पर किसानों को मुवाब्जा राशि इस प्रकार दिया जाएगा:-

क्रं.सं.
जिला 
रकम (रुपए में)
किसानों की संख्या 
गाँव 

1.

करनाल 

3,78,885

217 

2

2.

पलवल 

58,28,251

1360

9

3.

नूंह 

52,05,000 

1376 

13

4.

गुरुग्राम 

10,000 

1

1

5.

हिसार 

172, 32 21,000 

209880 

198

6.

फतेहाबाद 

95,29,00,500 

121733

132

7.

सिरसा 

72,86,39,222 

134918 

56

8.

भिवानी 

12,70,21,35,00 

162634

192

9.

सोनीपत 

12,26,15,186 

34771 

97

10.

चरखी दादरी 

45,24,85,000 

154682

28

11.

रोहतक 

10,45,50,500 

23374

37

12.

झज्जर 

24,51,10,000 

50766

101 

कुल
 
56,11,15,70,44
8,95,712
866
पिछला लेखवर्ष 2021-22 के लिए फसलों के उत्पादन का दूसरा अग्रिम अनुमान जारी, जानिए किस फसल के उत्पादन में हुई कितनी वृद्धि
अगला लेखअब किसानों के घर जाकर किया जाएगा फसल बीमा पॉलिसी का वितरण

28 COMMENTS

    • सरअब १५ मार्च तक दिया जाएगा मुआवजा अभी गिरदावरी का काम चल रहा है।

    • सरअब १५ मार्च तक दिया जाएगा मुआवजा अभी गिरदावरी का काम चल रहा है।

    • सर अब १५ मार्च तक दिया जाएगा अभी प्रक्रिया चल रही है किसानों को देने की

    • सर जिस कम्पनी से बीमा है या अपने यहाँ के कृषि विभाग के अधिकारियों से सम्पर्क करें।

    • सर सरकार द्वारा सभी किसानों को मुआवजा दिया जाता है,जब फसल नुक़सान हो तब सर्वे कराएँ। अपने तहसील में या कृषि अधिकारियों से सम्पर्क करें। फसल बीमा आप स्वयं ऑनलाइन या बैंक से करा सकते हैं।

    • किस राज्य से हैं? कब हुई फसल क्षति ? फसल बीमा कंपनी या स्थानीय कृषि अधिकारियों से सम्पर्क कर फसल क्षति का सर्वे कराए।

    • सर यदि फसल बीमा है तो फसल बीमा क्षति का मुआवजा दिया जाएगा। आप अपने ब्लॉक या तहसील में सम्पर्क करें।

    • सर फसल नुकसान के अनुसार मुआवजा दिया जा रहा है। आप अपने ब्लॉक में या विभाग के अधिकारियों से सम्पर्क करें।

    • सर फसल नुक़सान के अनुसार दिया जाएगा। सर इस वर्ष से 15,000 रुपये प्रति एकड़ के दर से मुआवजा दिया जाएगा। इसके साथ ही इस राशि से कम के मुआवजे के स्लैब में भी 25 प्रतिशत की वृद्धि करने की घोषणा की थी, जिसके अनुसार ही राज्य के किसानों को फसल क्षति का मुआवजा दिया जाएगा |

    • जी सर अभी खरीफ सीजन में हुए फसल नुकसान का मुआवजा दिया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

अपना कमेंट लिखें
आपका नाम लिखें.