एक क्लिक में किया गया 22 लाख किसानों को 4,686 करोड़ रुपये का फसल बीमा भुगतान

6
2198
fasal bima bhugtan

फसल बीमा राशि का भुगतान

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने उज्जैन में आयोजित कार्यक्रम में सिंगल क्लिक से प्रदेश के 22 लाख किसानों के खाते में प्रधानमंत्री फसल बीमा के 4 हजार 686 करोड़ रुपये की राशि अंतरित की गई । राज्य में खरीफ वर्ष-2019 में 37 लाख किसानों द्वारा फसल बीमा कराया गया था, जिसका बीमित क्षेत्र 61.09 लाख हेक्टेयर था तथा किसानों से कुल राशि 343.81 करोड़ रूपये कृषक अंश लिया गया। राज्यांश 1072.44 करोड़ एवं केन्द्रांश 1072.44 करोड़ रूपये, इस प्रकार कुल 2488.69 करोड़ रूपये प्रीमियम बीमा कंपनियों को भुगतान किया गया है।

कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री कमल पटेल ने कहा कि किसान भाईयों के लिये आज खुशी का दिन है। प्रदेश के 22 लाख 51 हजार 188 किसानों के खाते में एक साथ 4 हजार 686 करोड़ रुपये की राशि डाली जा रही है। उन्होंने कहा कि यह देश किसानों का है और किसान इस देश की रीढ़ है। रीढ़ मजबूत होगी तो देश मजबूत होगा। कृषि मंत्री ने बताया कि प्रदेश के साथ-साथ उज्जैन जिले में एक लाख 44 हजार 123 कृषकों को 868 करोड़ रुपये बीमा के रूप में भुगतान एक क्लिक से किया गया है।

यह भी पढ़ें   किसान कृषि कार्यों के लिए 5 प्रतिशत ब्याज अनुदान पर लोन 30 जून तक ले सकते हैं

किसानों को दिए गए फसल बीमा भुगतान के प्रमाण पत्र

आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने उज्जैन जिले के छह किसानों को खरीफ-2019 की फसल बीमा राशि के भुगतान का प्रमाण-पत्र वितरित किया। मुख्यमंत्री ने जयरामपुरा के बद्रीलाल को तीन लाख 13 हजार रुपये की राशि का प्रमाण-पत्र वितरित किया। इसी क्रम में तालोद के अर्जुनसिंह रघुवंशी को तीन लाख 66 हजार 24 रुपये का, जलवा के जालमसिंह सोलंकी को तीन लाख 50 हजार 60 रुपये का, उमरिया के बनेसिंह को तीन लाख दो हजार 49 रुपये का, जवासिया के करणसिंह को 66 हजार 605 रुपये तथा लिघोड़ा के आत्माराम को एक लाख छह हजार रुपये की राशि के प्रमाण-पत्र वितरित किये।

जिलेवार किसानों को दी जाने वाली फसल बीमा क्लेम की राशि जानने के लिए क्लिक करें

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

6 COMMENTS

    • फसल बीमा कंपनी, अपने यहाँ के कृषि अधिकारी, पटवारी से शिकायत करें |

    • मध्यप्रदेश में जारी कर दिया गया है आप अपने यहाँ के स्थानीय अधिकारीयों या फसल बीमा कम्पनी के टोल फ्री नम्बर पर कॉल करें |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here