मछली पालन हेतु इस वर्ष लगाए जाएंगे 2,000 प्रोजेक्ट एवं दी जाएगी 5,000 युवाओं को ट्रेनिंग

1
12125
machhli palan project avam training

मत्स्य पालन हेतु प्रोजेक्ट एवं प्रशिक्षण

किसानों की आय बढ़ाने एवं ग्रामीण क्षेत्रों में युवाओं को रोजगार उपलब्ध करवाने के लिए सरकार पशुपालन एवं मछली पालन को बढ़ावा दिया जा रहा है | मछली पालन को बढ़ावा देने के लिए राज्य सरकारों के द्वारा जिलेवार लक्ष्य निर्धारित किये जाते हैं | जिसका लाभ लेकर इच्छुक लाभार्थी प्रशिक्षण लेकर मछली पालन के लिए प्रोजेक्ट लगा सकते हैं |

इस वर्ष 2,000 प्रोजेक्ट लगाने एवं 5,000 युवाओं को ट्रेनिंग देने का लक्ष्य

हरियाणा के कृषि एवं किसान कल्याण, पशुपालन एवं डेयरिंग तथा मत्स्य विभाग के मंत्री श्री जयप्रकाश दलाल ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे चालू वित्त वर्ष में मत्स्य पालन के 2,000 प्रोजेक्ट और लगाएं तथा कम से कम 5,000 युवाओं को जिला स्तर पर ट्रेनिंग दें ताकि राज्य के युवा आत्मनिर्भर बन सकें। उन्होंने प्रदेश में मत्स्य के क्षेत्र में प्रोसेसिंग यूनिट लगाने तथा गुरूग्राम में फिश-एक्वेरियम के लिए प्रोजेक्ट लगाने की संभावनाओं को तलाशने के भी निर्देश दिए।

यह भी पढ़ें   50 प्रतिशत की सब्सिडी पर पाली हाउस एवं शेडनेट हाउस बनाने के लिए आवेदन करें

श्री दलाल ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि जलभराव वाले क्षेत्रों में मत्स्य पालन के अधिक से अधिक प्रोजेक्ट लगाने तथा खारा पानी में झींगा पालन के लिए युवाओं को प्रोत्साहित किया जाए। उन्होंने कहा कि अधिकारी परंपरागत प्रोजेक्ट पर तो कार्य करते रहें, साथ ही नए आइडिया के प्रोजेक्ट की रूपरेखा भी बनाएं और जरूरत पड़ी तो केंद्र सरकार से उनको स्वीकृत करवाने के लिए अनुरोध किया जाएगा | अधिकारियों को विभाग की वैबसाइट अपडेट करने के निर्देश दिए ताकि मत्स्य पालन में रूचि रखने वाले युवाओं को विस्तृत जानकारी मिल सके। युवाओं को वितरित करने के लिए पंफलेट बनवाने के निर्देश दिए जिसमें विभाग की ताजा प्रोजेक्ट के मापदंड व नीतियों का विवरण दिया जा सके|

अधिकारियों को अधिक से अधिक युवाओं को मत्स्य पालन के लिए जिला स्तर पर प्रशिक्षण देने के निर्देश दिए। उन्होंने सुझाव दिया कि इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में विषय-विशेषज्ञों के अलावा मत्स्य पालन के क्षेत्र में सफल-किसान से रूबरू करवाना चाहिए ताकि प्रशिक्षणकर्ता प्रेरित होकर मत्स्य पालन की तरफ प्रोत्साहित हो सकें। किसी मत्स्य पालन प्रोजेक्ट का दौरा भी करवाया जाना चाहिए।

यह भी पढ़ें   चना, मसूर एवं सरसों समर्थन मूल्य पर खरीद की अवधि बढाई गई

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here