कोरोना वायरस के कारण गेहूं के पंजीयन एवं खरीदी प्रक्रिया की गई बंद

7
16011
gehun kharid panjiyan corona

गेहूं के पंजीयन एवं खरीद प्रक्रिया

कोरोना वायरस के कारण देश में जन–जीवन पूरी तरह से अस्त व्यस्त हो गया है | सारे देश में एक साथ कर्फ्यू लागू कर दिया है एवं बहुत से कार्य जहाँ अधिक लोगों का आना जाना रहता है वह सभी चीजें बंद कर दी गई हैं | जिसके कारण वर्ष 2019–20 के रबी फसल की पंजीयन तथा खरीदी पर बुरा असर पड़ना तय है | इस दौरान राजस्थान के खाध एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री श्री रमेश चंद मीणा ने बताया कि राज्य में रबी विपन्न वर्ष 2020–21 के दौरान गेहूं की न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीद की प्रक्रिया को तत्काल प्रभाव से स्थगित कर दिया गया है | उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए यह कदम उठाया गया है |

गेहूं खरीदी कब से की जानी थी

खाध मंत्री ने खरीदी के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि न्यूनतम समर्थन मूल्य पर प्रदेश में गेहूं की खरीद के लिए कोटा संभाग में 15 मार्च से उपार्जन कार्य प्रारंभ किया गया था तथा शेष जिलों में 1 अप्रैल से उपार्जन का कार्य प्रारंभ किया जाना था | कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए किये जा रहे राज्य व्यापी उपायों के तहत समर्थन मूल्य पर गेहूं की न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीद प्रक्रिया को आगामी आदेशों तक स्थगित कर दिया गया है |

यह भी पढ़ें   भावांतर भुगतान योजना में फसलों के मॉडल रेट घोषित

गेहूं कि खरीदी दुबारा कब शुरू होगा ?

श्री रमेश चंद मीणा ने बताया कि प्रदेश में खरीद प्रक्रिया को स्थगित किये जाने के संबंध में प्रभारियों को निर्देश जारी कर दिये हैं | कोरोना वायरस के संक्रमण के नियंत्रण के संबंध में उच्च स्तर से जैसे ही निर्देश जारी किये जायेंगे, तो गेहूं के न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीद प्रक्रिया को चालु किये जाने के निर्णय से संबंधित किसानों को अवगत करा दिया जायेगा |

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

7 COMMENTS

  1. क्या बिहार में सभी जिलों के निवासी कृषि इनपुट अनुदान के लिए आवेदन कर सकते है?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here