प्रधान मंत्री मोदी ने कहा 26 मिलियन हैक्टेयर बंजर भूमि को खेती योग्य बनाया जाएगा

0
505
views
14th Conference of the countries involved in the United Nations Agreement on Combating Desertification (COP14)

मरूस्‍थलीकरण से निपटने के लिए 14वें सम्मेलन कॉप 14

प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी ने ग्रेटर नोएडा उत्‍तर प्रदेश में मरूस्‍थलीकरण से निपटने के लिए संयुक्‍त राष्‍ट्र समझौते (यूएनसीसीडी) में शामिल देशों के 14वें सम्‍मेलन (कॉप 14) के उच्‍च स्‍तरीय खंड को संबोधित किया । प्रधानमंत्री ने कहा कि वर्ष 2030 तक भारत में 2.1 करोड़ हेक्टेयर से बढ़ाकर 2.6 करोड़ हेक्टेयर भूमि को उर्वरक तथा कृषि योग्य बनाया जायेगा | इसके तरफ कदम बढ़ाते हुये पिछले सप्ताह ही पेड़ लगाने के लिए लगभग 40 से 50 हजार करोड़ रुपये प्रांतीय सरकारों को जारी किये गये हैं | इस सम्मलेन में लगभग 90 देशों के पर्यावरण मंत्रियों के अलावा लगभग 200 देशों के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया है |

भारत की तरफ से बैठक में पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री प्रकाश जावेडकर और राज्य मंत्री बाबुल सुप्रियो भी मौजूद थे |

प्रधानमंत्री द्वारा कॉप 14सम्मेलन में कहीं गई मुख्य बातें

  • सम्मेलन मेजबानी करते हुये रियो सम्मेलन को याद करते हुये तिन मुख्य मुद्दों जलवायु परिवर्तन, जैव विविधता और भूमि क्षरण की समधन निकालने के लिए भारत की प्रतिबद्धता दोहराई |
  • उन्होंने कहा कि इसके लिए अन्तरिक्ष में भरत का उपग्रह और अंतरिक्ष विज्ञान से जुडी किफायती प्रोधौगिकी के जरिय भू क्षरण के समाधान के रूप में मददगार हो सकता है |
  • प्रधान मंत्री ने देश में चलाये जा रहे योजनाओं से भी अवगत कराया है | इसमें 21.7 करोड़ मृदा कार्ड जारी करना, वन के लिए 50 हजार करोड़ रुपया पिछले सप्ताह जारी करना , फसल सिंचाई के लिए सूक्ष्म सिंचाई पद्धति , शून्य बजट खेती को अपनाना, कीटनाशकों की उपयोग को बढ़ावा देने वाली योजनाओं से अवगत कराया |
  • इसके साथ स्वच्छ भारत मिश के बारे यह जानकारी दिया गया है की केसे भारत इस मिशन से 38 की जगह 99 प्रतिशत स्वच्छ हुआ है |
  • भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) की साल 2016 की रिपोर्ट के मुताबिक देश में 9.6 करोड़ हेक्टेयर भूमि मरुस्थल है | पिछले सप्ताह ही प्रकाश जावेडक ने यह जानकारी दिया था कि भारत 2030 तक 2.1 करोड़ भूमि को कृषि योग्य बना देगा जिसे बढ़ाते हुये प्रधानमंत्री ने 2.6 करोड़ हेक्टेयर कर दिया है |
यह भी पढ़ें   आने वाले दिनों के लिए मौसम पूर्वानुमान

इस तरह की ताजा जानकरी विडियो के माध्यम से पाने के लिए किसान समाधान को YouTube पर Subscribe करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here