लिस्ट आ गई है, इन किसानों को सब्सिडी पर दिए जाएंगे डीजल/विद्युत पम्प, पाईप लाईन एवं स्प्रिंकलर सेट

27
74894
electric diesel pupm pipeline sprinkler set kisan list

सिंचाई यंत्र आवेदन में इन किसानों का हुआ चयन

वित्तीय वर्ष 2019-20 समाप्त होने वाला है इसलिए राज्य सरकारों द्वारा इस वर्ष के लक्ष्य पूरे करने के लिए लगातार आवेदन मांगे जा रहे हैं | इन लक्ष्यों की पूर्ति के लिए प्रक्रिया भी तेजी से चल रही है | | इन बातों को ध्यान में रखकर मध्यप्रदेश कृषि एवं किसान कल्याण विभाग द्वारा यह आवेदन नेशनल फूड सिक्यूरिटी मिशन (NFSM) योजना के अंतर्गत मांगे गए हैं | पिछले बार जो आवेदन माँगा गया थे, उनमें से बचे हुए बजट में ही इस बार विभिन्न कृषि सिंचाई यंत्रों (स्प्रिंकलर सेट, पाईप लाईन सेट, पंपसेट (डीजल/विद्युत) यंत्र सब्सिडी पर देने के लिए के लिए लक्ष्य आवंटित किये गए थे |

किसानों को ई-कृषि यंत्र अनुदान पोर्टल https://dbt.mpdage.org/index.htm पर आवेदन करना था | 22 जनवरी 2020 दोपहर 12 बजे से दिनांक 30 जनवरी 2020 तक आवेदन किसानों के द्वारा किये गए | इसके बाद अब विभाग के द्वारा इस समय सीमा के अंतर्गत सभी जिलों एवं सभी वर्ग के किसानों ने आवेदन किया | 1 फरवरी से 4 फरवरी तक विभिन्न कृषि यंत्रों को कंप्यूटरीकृत लोटरी सिस्टम के मधयम से किसानों का चयन किया गया है |

क्या है सिंचाई यंत्र हेतु लोटरी सिस्टम ?

पहले सरकार द्वारा जारी किये गए लक्ष्यों के लिए किसी तय समय सीमा में आवेदन किये जाते थे जो पहले आओ पहले पाओ के आधार पर होता था जिससे लक्ष्य के पूरा होते ही आवेदन बंद हो जाते थे जिससे सभी किसान आवेदन नहीं कर पाते थे और उन्हें नए लक्ष्यों के लिए आवेदन करना होता था |

यह भी पढ़ें   कोरोना संकट: दो महीने के लिए सरकार ने बिजली एवं पानी के बिलों को किया स्थगित

अब सरकार द्वारा लोटरी सिस्टम शुरू किया गया है जिसके अंतर्गत किसान तय समय सीमा में निर्धारित लक्ष्यों के आवेदन कर सकते हैं | इस तय समय सीमा में जिन भी किसानों ने आवेदन किया है उन किसानों में से कंप्यूटर द्वारा कुछ किसानों को चयन किया गया है | विभाग के द्वारा लक्ष्य से अधिक किसानों का चयन किया गया है जिन किसानों का चयन हुआ है Alloted और जो लक्ष्य से अधिक किसान का चयन है वह Waiting में हैं यदि किन्हीं भी कारणों से Alloted वाले किसान यंत्र नहीं ले पाते हैं तो Waiting वाले किसान को यंत्र लेने का मौका दिया जायेगा |

लिस्ट में आने वाले किसान क्या करें ?

जिन किसानों का नाम लिस्ट में आ गया है उन्हें सात दिनों के अन्दर अपनी पसंद की कम्पनी डीलर का चयन करना होगा चयन करने के बाद जानकरी विभाग को देना होगा | उसके बाद किसान को वह यंत्र खरीदना होगा खरीदने के बाद यंत्र का बील लगाना होता है | बिल लगाने के बाद विभाग के अधिकारियों द्वारा सत्यापन किया जायेगा | सत्यापन करने के बाद किसान के बैंक खाते में अनुदान दे दिया जायेगा |

यह भी पढ़ें   सहकार फसल खरीद मित्र योजना लागू

सिंचाई यंत्र सब्सिडी हेतु चयनित किसान लिस्ट कैसे देखें ? 

नीचे किसान समाधान द्वारा लिस्ट देखने के लिए लिंक दी गई है | किसान भाई उस लिंक को जैसे ही खोलेंगे वैसे ही कृषि अभियांत्रिकी के पोर्टल e-कृषि यंत्र अनुदान पर प्राथमिकता सूचि देखने के लिए पेज खुल जाएगा | याद रहे दिए जाने वाले सभी सिंचाई यंत्र “किसान कल्याण तथा कृषि विभाग” विभाग द्वारा दिए जा रहें हैं तथा सभी यंत्र की लोटरी का दिन अलग अलग था उसे चयन करें | ऊपर विडियो में इसके आगे की प्रक्रिया बताई गई है | किसान अधिक जानकारी के लिए जिला कृषि विभाग अथवा कृषि अभियांत्रिकी संचनालय में संपर्क कर सकते हैं |

सिंचाई यंत्र हेतु चयनित किसान लिस्ट में अपना नाम देखने के लिए क्लिक करें

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

27 COMMENTS

    • हाँ जी मध्यप्रदेश में पम्प सेट के लिए आवेदन हो चुके हैं |

  1. सर जी में राजस्थान से हूं मुझे कुसुम योजना के तहत सोलर सिस्टम लगाना चाहता हूं कृषि के लिए कृपया जानकारी प्रदान करे

  2. Gaon mishripur post dhaba jila Aligarh Uttar Pradesh ke niwasi chandraveer Singh Baghel boring pumpset lagwana chahte Hain rajya Sarkar Uttar Pradesh se

  3. Kisano ko boring Ka paisa kisano keep account me de kyo ki kisano ko pipe ke Siva Kuch Nahi milta Sub mil Kar kha jate hei kisano ko khud boring katana padata hei

    • किस राज्य से हैं सर | बोरिंग के लिए भी योजना है बिहार एवं उत्तरप्रदेश में |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here