मंगलवार, फ़रवरी 27, 2024
होमकिसान समाचारदिसंबर में आयोजित किया जाएगा कृषि कुम्भ, किसानों को बताई जाएगी देश-विदेश...

दिसंबर में आयोजित किया जाएगा कृषि कुम्भ, किसानों को बताई जाएगी देश-विदेश की तकनीकें

कृषि कुम्भ 2023

देश में किसानों की आमदनी बढ़ाने के लिए सरकार द्वारा कई प्रयास किए जा रहे हैं, जिसमें कृषि का आधुनिकीकरण भी एक है। ऐसे में देश के किसानों को कृषि की नई तकनीकों से अवगत कराने के लिए सरकार समयसमय पर कृषि मेलों का आयोजन करती है। इस कड़ी में उत्तर प्रदेश की योगी सरकार इस वर्ष कृषि कुम्भ 2.0 का आयोजन करने जा रही है। जिसको लेकर यूपी के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने शनिवार को राजधानी लखनऊ में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कृषि कुम्भ 2.0 की रूपरेखा सबके सामने रखी।

कृषि मंत्री ने बताया कि वर्ष 2018 में कृषि कुंभ हुआ था। इसके फायदे को देखते हुए दोबारा किया जा रहा है। पिछली बार कई एमओयू साइन हुए थे। उन्होंने कहा कि दिसंबर के दूसरे पखबाड़े में होने वाले कृषि कुम्भ को ऐतिहासिक और तकनीकी रूप से सशक्त किया जाएगा। जिसमें तमाम कृषि संगठन हिस्सा लेंगे, जो अपनेअपने देश की तकनीक बताएंगे।

क्या है कृषि कुंभ 2.0 का उद्देश्य

इस अवसर पर कृषि मंत्री ने कहा कि कृषि कुंभ-2023 के आयोजन का उद्देश्य प्रदेश की कृषि आधारित अर्थव्यवस्था को 1 ट्रिलियन डालर के स्तर पर ले जाने के लिए किसानों को उत्पादक से उद्यमी बनाना, प्राकृतिक खेती को बढ़ावा देकर पोषण, पर्यावरण संरक्षण और स्वास्थ्य के साथसाथ भविष्य की जलवायु परिवर्तन की चुनौतियों का सामना करने की तैयारी है। खेती की लागत कम करने, किसानों की आय बढ़ाने और स्वास्थ्य तथा पोषण की दृष्टि से श्री अन्न को बढ़ावा देना है। इसे एक ग्लोबल इवेंट की तरह आयोजित किया जाएगा।

यह भी पढ़ें   सोयाबीन की खेती करने वाले किसान अभी इस तरह करें कीट रोगों का नियंत्रण

कृषि कुम्भ में 19 सत्र होंगे, जिसमें देशविदेश के वैज्ञानिक तकनीक बताएंगे। अंतरराष्ट्रीय संस्थानों के भी स्टॉल लगेंगे। सरकार की कोशिश है कि इसमें 500 संगठन हिस्सा लें। इसमें डिजिटल कृषि, उद्यान को बढ़ावा, गन्ना, पशु धन और चारा उत्पादन पर भी चर्चा होगी। वहीं प्रोसेसिंग इकाई का भी प्रदर्शन होगा। शाही ने कहा कि श्रीअन्न उत्पादन में प्रतिस्पर्धा बढ़ने, जलवायु परिवर्तन से निपटने के लिए किसानों को जागरूक करने, प्राकृतिक खेती, जल संरक्षण और किसानों को उद्यमी बनाने को लेकर चर्चा होगी।

कब आयोजित किया जाएगा कृषि कुम्भ 2023

कृषि मंत्री ने जानकारी देते हुए बताया कि कृषि कुंभ का द्वितीय संस्करण (अंतर्राष्ट्रीय प्रदर्शनी एवं सम्मेलन) का आयोजन इस वर्ष दिसंबर के द्वितीय पखवाड़े यानि की 15 दिसंबर के बाद किया जाएगा। यह कार्यक्रम भारतीय गन्ना अनुसंधान संस्थान तेलीबाग, लखनऊ के परिसर में आयोजित होगा। कृषि मंत्री ने जानकारी देते हुए बताया कि दिसंबर में आयोजित होने वाला यह कृषि कुंभ 4 दिनों के लिए आयोजित किया जाएगा।

यह भी पढ़ें   मौसम चेतावनी: 30 सितम्बर से 3 अक्टूबर के दौरान इन जिलों में हो सकती है भारी बारिश

इस बार का कुंभ पिछले कृषि कुंभ 2018 के मुक़ाबले अधिक भव्य और दिव्य बनाने की सरकार की योजना है ताकि किसान तकनीक तरक्की की और बढ़ सकें। कृषि कुंभ के इस आयोजन से अनुसंधान से खलिहान तक का सफर बहुत आसान होगा। कृषि मंत्री के मुताबिक़ कृषि कुंभ-2023 किसानों की समृद्धि के लिए नई राह खोलेगा।

विदेशी तकनीक देख सकेंगे किसान

कृषि मंत्री ने बताया कि इस कार्यक्रम में अन्तर्राष्ट्रीय सहयोग हेतु जापान, क्रोएशिया, पोलैण्ड, पेरू, जर्मनी, यूएसए, फिलीपीन्स, साउथ कोरिया, इन्डोनेशिया आदि देशों से कृषि क्षेत्र में नवाचारी कार्य करने वाले लोग भी हिस्सा लेंगे। प्राकृतिक खेती, श्री अन्न, एफपीओ आधारित व्यवसाय, डिजीटल एग्रीकल्चर, एग्री स्टार्टअप आदि विषयों पर कार्यशालाओं के आयोजन के साथसाथ श्री अन्न पाककला प्रतियोगिता का भी आयोजन किया जाएगा।

कृषि कुंभ आयोजन हेतु वरिष्ठ अधिकारियों की अध्यक्षता में एक दर्जन से अधिक समितियां गठित करते हुए सक्रिय कर दी गयी हैं। आयोजन स्थल पर सजीव प्रदर्शन जिनमें इन्टीग्रेटेड फार्मिंग सिस्टम, उद्यान एवं बागवानी, मत्स्य पालन, रेशम, भूमि संरक्षण, आदि के मॉडल सम्मिलित हैं। इसके लिए क्षेत्र चिन्हांकन करते हुए सम्बन्धितों को आवंटन कर दिया गया है। सम्बन्धित विभाग के अधिकारी अभी से सजीव प्रदर्शन की तैयारियों में जुट गए हैं। कार्यक्रम की तारीख जल्द सभी को बता दी जाएगी।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
यहाँ आपका नाम लिखें

Trending Now

डाउनलोड एप