जानिए कब से शुरू होगी चना, सरसों और सूरजमुखी की समर्थन मूल्य पर ख़रीद

1410
msp chana masur sarso kharid

चना, सरसों और सूरजमुखी की समर्थन मूल्य पर ख़रीद

किसानों से रबी फसलों की ख़रीद समर्थन मूल्य पर करने के लिए अलग-अलग राज्य सरकारों के द्वारा किसानों की पंजीयन प्रक्रिया चल रही है, जिसमें हरियाणा के किसान 15 फ़रवरी तक तो मध्य प्रदेश के किसान 5 मार्च तक अपना पंजीयन करा सकते हैं | इस बीच हरियाणा सरकार ने किसानों से समर्थन मूल्य पर चना, सरसों और सूरजमुखी फसलें ख़रीदने के लिए तारीखों का ऐलान कर दिया है |

हरियाणा के मुख्य सचिव श्री संजीव कौशल ने अधिकारियों निर्देश दिये हैं कि आगामी खरीद सीजन 2022-23 के दौरान खरीद केंद्रों की पहचान करने, समय पर खरीद शुरू करने व भंडारण आदि व्यवस्थाओं का किया जाना सुनिश्चित करें | संजीव कौशल मूल्य समर्थन योजना के अंतर्गत आगामी रबी खरीद सीजन 2022-23 में चना, सरसों और सूरजमुखी की फसलों की खरीद हेतु किए जा रहे प्रबंधों की समीक्षा बैठक कर रहे थे |

किस भाव पर कब से होगी समर्थन मूल्य पर ख़रीद

सरकार द्वारा सरसों की खरीद 28 मार्च, चने की खरीद 1 अप्रैल व सुरजमुखी की खरीद 1 जून से शुरू की जाएगी। यह भी बताया गया कि खरीद सीजन के दौरान, राज्य सरकार सरसों 5050 रूपए प्रति क्विंटल के न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी), चना 5230 रुपये प्रति क्विंटल और सूरजमुखी 6015 रूपए प्रति क्विंटल की दर पर की खरीद करेगी।

यह भी पढ़ें   फसल बेचने के लिए इन किसानों का पंजीकरण मान्य नहीं होगा

इस वर्ष कितना हो सकता है राज्य में इन फसलों का उत्पादन

वर्ष 2020-21 के दौरान 15.98 लाख एकड. भूमि पर 13.13 लाख मीट्रिक टन सरसों का उत्पादन हुआ, जबकि वर्ष 2021-22 के दौरान 18.67 लाख एकड भूमि पर 14.82 लाख मीट्रिक टन सरसों के उत्पादन की संभावना है । इसी प्रकार, वर्ष 2020-21 के दौरान 88 हजार एकड. भूमि पर 36 हजार मीट्रिक टन चने के उत्पादन हुआ, जबकि वर्ष 2021-22 के दौरान 89 हजार एकड भूमि पर 40 हजार मीट्रिक टन चने के उत्पादन होने की संभावना है। इसके अलावा, वर्ष 2020-21 के दौरान 30 हजार एकड. भूमि पर 25 हजार मीट्रिक टन सुरजमुखी का उत्पादन हुआ, जबकि वर्ष 2021-22 के दौरान 37 हजार एकड भूमि पर 30 हजार मीट्रिक टन सुरजमुखी के उत्पादन की संभावना है।

किसान कहाँ करें ऑनलाइन पंजीयन 

हरियाणा सरकार ने किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य पर फसल उत्पाद बेचने के लिए मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल को शुरू किया है | जहाँ से किसान ऑनलाइन पंजीयन 15 फरवरी तक करा सकते हैं | किसान पंजीयन https://fasal.haryana.gov.in पोर्टल पर जल्द करवाना सुनिश्चित करें | किसानों को फसल समर्थन मूल्य पर बेचने के लिए पंजीयन करना आवश्यक है, पंजीकरण के बाद फसल का वेरिफ़िकेशन कृषि विभाग के द्वारा किया जाएगा |

यह भी पढ़ें   बिजली बिल जमा नहीं करने के कारण कनेक्शन कट गया है तो इस योजना के तहत दोबारा कनेक्शन करवाएं
पिछला लेखएक हेक्टेयर में 70 तरह की फसलों की खेती कर रहा है यह किसान
अगला लेखमध्य प्रदेश में उद्यानिकी फसलों के उत्पादन में हुई सात गुना की वृद्धि

LEAVE A REPLY

अपना कमेंट लिखें
आपका नाम लिखें.