जानिए क्या रहेगा वर्ष 2020-21 में धान सहित अन्य खरीफ फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य

1
28484
kharif nyuntam samarthan mulya
kisan app download

न्यूनतम समर्थन मूल्य MSP 2020-21

खरीफ फसल की बुवाई शुरू हो चुकी है, साथ में इस वर्ष का मानसून भी भारत पहुंच चूका है | इस वर्ष मानसून में वर्षा सामान्य से ज्यादा होने की उम्मीद है | जिससे किसानों को अच्छी पैदावार होने की उम्मीद है | किसानों को अच्छी आमदनी दो बातों पर निर्भर करता है | एक तो अच्छी पैदावार एवं उसका उचित दाम मिलना |  इस बार किसानों के लिए अच्छी खबर यह है की केंद्र सरकार ने इस वर्ष के लिए खरीफ फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य में वृद्धि की गई है  | प्रत्येक वर्ष कि तरह इस वर्ष भी केंद्र सरकार ने खरीफ वर्ष 2020–21 के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य घोषित कर दिया है |

केंद्र सरकार ने पिछले वर्ष के मुकाबले इस वर्ष के खरीफ फसल के न्यूनतम समर्थन मूल्य में वृद्धि की गई है | किसानों के तरफ से लम्बे समय से यह मांग की हा रही है की  फसल का न्यूनतम समर्थन मूल्य को लागत का 50 प्रतिशत दिया जाए | इस वर्ष के न्यूनतम समर्थन मूल्य जारी करते हुए बताया गया कि खरीफ फसल का न्यूनतम समर्थन मूल्य लागत का 50 प्रतिशत दिया जा रहा है लेकिन सरकार के तरफ से यह नहीं बताया गया है कि अलग – अलग फसल का लागत मूल्य कैसे जोड़ा गया है |

यह भी पढ़ें   सहकारी भूमि विकास बैंक किसानों को 350 करोड़ रुपये दीर्घकालीन कृषि ऋण वितरित करेगा

इन फसलों में 53 से लेकर 755 रूपये तक कि वृद्धि किया गया है

सरकार ने विपणन सीजन 2020–21 के लिए खरीफ फसलों की एमएसपी में वृद्धि की है, ताकि उत्पादकों के लिए उनकी उपज के पारिश्रीमिक मूल्य को सुनिश्चित किया जा सके | एमएसपी में उच्चतम वृद्धि नाइजरसीड में 755 रूपये प्रति क्विंटल ओर उसके पश्चात् तिल में 370 रूपये प्रति क्विंटल, उड़द में 300 रूपये प्रति क्विंटल ओर कपास में 275 रूपये प्रति क्विंटल प्रस्तावित है |

विपणन सीजन 2020 के लिए सभी खरीफ फसलों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य 2020–21 इस प्रकार है :-

क्र.सं.
फसलें
प्रस्तावित लागत केएमएस 2020 – 21
खरीफ के लिए एमएसपी 2020 – 21
एमएसपी में वृद्धि
लगत पर प्रतिफल (% में)

1.

धान (सामान्य)

1245

1868

53

50

2.

धान (ग्रेड ए)

1888

53

3.

ज्वार (हाईब्रिड)

1746

2620

70

50

4.

ज्वार (मालदंडी)

2640

70

5.

बाजरा

1175

2150

150

83

6.

रागी

2194

3295

145

50

7.

मक्का

1213

1850

90

53

8.

तूर (अरहर)

3796

6000

200

58

9.

मूंग

4797

7196

146

50

10.

उड़द

3660

6000

300

64

11.

मूंगफली

3515

5275

185

50

12.

सूरजमुखी

3921

5885

235

50

13.

सोयाबीन (पिला)

2587

3880

170

50

14.

तिल

4570

6855

370

50

15.

नाइजरसीड

4462

6695

755

50

16.

कपास (मध्यम रेशा)

3676

5515

260

50

17.

कपास (लंबा रेशा)

5825

275

यह भी पढ़ें   बिहार सरकार 90 प्रतिशत की सब्सिडी पर दे रही है ड्रिप एवं स्प्रिंकलर,अभी आवेदन करें

किसानों को दिया जा रहा है 50 प्रतिशत मुनाफा

केंद्र सरकार के तरफ से यह बताया गया है कि वर्ष 2018 – 19 से ही अखिल भारतीय स्तर पर किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य को लगत का 50 प्रतिशत जोड़कर दिया जा रहा है | किसानों को बाजरा 83% में उच्चतम वृद्धि के बाद उड़द 64% , तूर 58% ओर मक्का 53% में उनके उत्पादन कि लगत से अधिक प्रतिफल मिलने का अनुमान है | बाकि फसलों के लिए किसानों को उनकी उत्पादन लगत पर कम से कम 50 प्रतिशत प्रतिफल का अनुमान है |

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

kisan samadhan android app

1 COMMENT

  1. NAMASKAR
    KISANO K UTPAD KI KHARID SABASE AAVASHYAK MUDDA HAI AUR SATH HI UNKO MILANE BALA PRATIFAL MULY.
    YADI KISAN KO UCHIT DAAM MILEGA TO AVSHY HI KISAN KHETI KARANA NHI CHHODEGA AUR BALIK USE PROTSAHAN MILEGA.
    DHANYVAD.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here