Tuesday, February 7, 2023

सरकार सिंचाई के लिए तालाब बनवाने के लिए दे रही 100 प्रतिशत तक की सब्सिडी

सिंचाई के लिए तालाब निर्माण हेतु अनुदान योजना

इस वर्ष अलग – अलग राज्य सूखे एवं बाढ़ से जूझ रहे थें जिसके चलते इस वर्ष किसानों के एक सीजन की फसल बर्बाद हो गई है | अब जिन जगहों पर सूखे की स्थिति है वहां दूसरी फसल में सिचाई की समस्या होगी जिसका असर रबी फसलों पर पढ़ेगा | इसको लेकर राज्य तथा केंद्र सरकार इस समस्या ने निपटने के लिए तैयारी शुरू कर रही है | सभी गाँव में सिंचाई के लिए पानी की व्यवस्था हो सके इसके लिए कृषि विभाग ने काम शुरू करने की योजना तैयार कर ली है, जिसके तहत सरकार द्वारा सिंचाई के लिए तालाब बनाने पर किसानों को सब्सिडी दी जाएगी |

प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना – प्रति बूंद अधिक फसल योजना के तहत तालाब निर्माण

यह केंद्र सरकार की योजना है जो देश के सभी राज्यों में लागू है, इस योजना का क्रियान्वन अलग अलग राज्यों में कृषि विभाग एवं उद्यानिकी विभाग द्वारा किया जाता है इच्छुक किसान अपने जिलें में इस योजना के तहत आवेदन कर सकते हैं | हर राज्यों के लिए जरुरत के अनुसार जिले चिन्हित किये गए हैं जिसमें अलग अलग सब्सिडी का प्राबधान है | अभी यह योजना बिहार में भी लागू कर दी गई है जिसकी जानकारी किसान समाधान आपके लिए लेकर आया है |

यह भी पढ़ें   गन्ना उत्पादक किसानों को जल्द दी जाएगी 79.50 रुपए प्रति क्विंटल की दर से प्रोत्साहन राशि
- Advertisement -

इसके तहत बिहार राज्य में जल–जीवन–हरियाली अभियान चलाया जा रहा है | कृषि विभाग द्वारा भी इस अभियान को अपने दो निदेशालयों उधान निदेशालय एवं भूमि संरक्षण निदेशालय के माध्यम से संचालित किया जायेगा | यह तालाब पंचायत के द्वारा खुदवाए जायेंगे यह अन्य तालाब से अलग रहेगा और इसका बजट भी अलग है | आज बिहार राज्य में दी जाने वाली सब्सिडी की योजना की जानकारी लेकर आये हैं अन्य राज्यों की योजना की जानकारी हम पहले दे चुके हैं |

किन जिलों में तालाब बनवाए जायेंगे ?

यह योजना बिहार के 17 जिलों में लागु की जा रही है | यह जिले बांका, मुंगेर, जमुई, नवादा, गया, रोहतास, औरंगाबाद , कैमुर, लखीसराय, भागलपुर, शेखपुरा, बक्सर, भोजपुर, जहानाबाद, नालन्दा, अरवल एवं पटना में प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना – प्रति बूंद अधिक फसल योजना संचालित किया जा रहा है | योजना के अनुसार इन 17 जिलों में 1215 नये तलाब का निर्माण कराया जायेगा | साथ ही 232 सामुदायिक सिंचाई कूप का भी निर्माण होगा |

यह भी पढ़ें   वैज्ञानिकों ने खोजी सुकर की नई प्रजाति 'बांडा', पशुपालकों की बढ़ेगी आमदनी

तालाब के आकर क्या होंगे  ?

- Advertisement -

प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना – प्रति बूंद अधिक फसल योजना के तहत दो प्रकार के तालाब बनाये जाते हैं | तालाब दो आकार के  होंगे , एक का आकार 150 फीट × 100 फीट × 8 फीट तथा दुसरे का आकार 100 फीट × 66 फीट × 10 फीट होगी |

इस योजना का लाभ कैसे प्राप्त होगा ?

योजना से संबंधित लाभार्थियों को कृषि विभाग के बेवसाईट पर पंजीकृत होना अनिवार्य होगा | इस योजना के माध्यम से कराये जाने वाले कार्यों में डुप्लीकेसी की सम्भावना को समाप्त करने के लिए योजना स्थल का सटीक अक्षांश–देशांतर लेने के साथ–साथ जियो टैगिंग कराया जायेगा | समुदयिक भूमि पर कराया जाने वाला कार्य लाभुक समूहों के द्वारा समिति बनाकर कराया जायेगा | जिसके लिए शत–प्रतिशत अनुदान का भुगतान लाभुक समिति द्वारा सर्वसम्मती से चयनित मुख्य लाभुक को किया जायेगा | कार्य स्थल के सामुदायिक भूमि होने का प्रमाण–पत्र अभिलेख में संधारित किया जायेगा |

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

- Advertisement -

Related Articles

4 COMMENTS

  1. प्रिय मेरे किसान समाधान मक्का में जो अमेरिकन किट का जो तांडव कर रहा है उसमें सरकार किया कर रही है किया सरकार को हम किसानों का कुछ धियान है कि नही

  2. बिहार सरकार का किया योजना है किसानों के लिए
    किया सरकार किसानों के बारे में सोच रही है
    मक्का जो किट लग रहे है उसके बारे में किया सरकार सोच रही है

    • मक्का में अभी फाल आर्मी वर्म कीट चल रहा है | बिहार कृषि यंत्रों के लिए आवेदन चल रहे हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
यहाँ आपका नाम लिखें

Stay Connected

217,837FansLike
830FollowersFollow
54,000SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

ऐप खोलें