किसानों को मिलेगी मौसम की सटीक जानकारी, कृषि विश्वविद्यालय में की जाएगी डॉप्लर राडार की स्थापना

मौसम पूर्वानुमान के लिए डॉप्लर राडार की स्थापना

मौसम की अनिश्चित्ताओं के चलते फसलों को काफी नुकसान होता है, जिसका असर सीधे किसानों आमदनी पर पड़ता है। ऐसे में आवश्यक है कि किसानों को मौसम की सटीक जानकारी उपलब्ध कराई जा सके जिससे किसान अपनी फसलों की रक्षा के सके। इस कड़ी में छत्तीसगढ़ के किसानों को नये वर्ष में एक नई सौगात मिलने जा रही है। यहाँ के किसानों को अब विकासखण्ड स्तर पर मौसम का सटीक पूर्वानुमान प्राप्त होगा, जिससे वे अपनी फसलों को मौसम की अनिश्चित्ताओं से रक्षा करने में सक्षम होंगे।

इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय रायपुर परिसर में जल्द ही मौसम का सटीक पूर्वानुमान देने हेतु लगभग 10 करोड़ रूपये की लागत से डॉप्लर राडार की स्थापना की जाएगी। इसके लिए इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय तथा भारत मौसम विज्ञान मंत्रालय, नई दिल्ली के मध्य डॉप्लर राडार की स्थापना हेतु एक अनुबंध किया गया है।

37 लाख किसानों को होगा फ़ायदा

- Advertisement -

कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. गिरीश चंदेल ने बताया कि छत्तीसगढ़ में डॉप्लर राडार की स्थापना नहीं होने के कारण अब तक मौसम का सटीक पूर्वानुमान प्राप्त नहीं हो पाता था। डॉप्लर राडार लगने से विकासखण्ड स्तर तक मौसम की सटीक जानकारी तथा पूर्वानुमान प्राप्त होगा जिसका राज्य के 37 लाख किसानों तथा आमजनों को लाभ मिलेगा। मौसम के पूर्वानुमान के बारे में मिली जानकारी का उपयोग किसान कृषि संबंधित कार्यों में कर सकेंगे।

मौसम में परिवर्तन की मिलेगी सटीक जानकारी

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के उप महानिदेशक डॉ.एम.एल. साहू ने इस अवसर पर कहा कि रायपुर में सी बैन्ड डॉप्लर राडार की स्थापना की जा रही है, जिसकी तरंग दैर्ध्य 4 से 8 गीगाबाईट होती है। इससे वातावरण में हिमकणों तथा पानी के कणों के बारे में सटीक जानकारी प्राप्त होती है। यह तूफान के आने की सटीक भविष्यवाणी भी कर सकता है। इस तरह मौसम में होने वाले आकस्मिक परिवर्तन का सही पूर्वानुमान प्राप्त होता है।

- Advertisement -

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
यहाँ आपका नाम लिखें

Stay Connected

217,837FansLike
829FollowersFollow
54,000SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

ऐप खोलें