किसान आन्दोलन: किसानों ने भैंस के आगे बीन बजाकर किया विरोध प्रदर्शन

0
kisan andolan bhains ke aage been bajate kisan

भैंस के आगे बीन बजाकर किसानों ने किया विरोध

नए कृषि कानूनों को लेकर पंजाब, हरियाणा सहित कई राज्यों के किसान दिल्ली बॉर्डर के पास अपनी मांगों को लेकर बैठे हुए हैं | कृषि कानूनों के खिलाफ किसान 12 दिन से विरोध कर रहे हैं। सरकार और किसान संगठनों के प्रतिनिधियों के बीच अब तक पांच दौर की बातचीत हो चुकी है परन्तु अभी तक कोई नतीजा नहीं निकला है | ऐसे में किसान अपनी मांगो को लेकर दिल्ली और उसके आसपास की सीमा पर बैठे हुए हैं और अलग-अलग तरह से विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं |

दिल्ली के नजदीक नोएडा में भी किसान आंदोलन में कई किसान संगठन शामिल हो रहे हैं | सोमवार को यहां पर विरोध-प्रदर्शन का अलग ही अंदाज नजर आया | कुछ किसानों ने विरोध प्रदर्शन का नया तरीका ढूंढ लिया | यहां पर एक शख्स एक भैंस के आगे बीन बजाकर सरकार का विरोध किया | विरोध में भैंस को केंद्र सरकार की संज्ञा दी गई वहीँ बीन बजाते किसान को “मैं हूँ किसान” बताया गया |

किसानों का भारत बंद आज

तीन नए कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग को लेकर किसान संगठनों ने मंगलवार को भारत बंद का ऐलान किया है। केंद्र के नए कृषि कानूनों के खिलाफ हजारों किसान पिछले 12  दिन से आंदोलन कर रहे हैं | किसान संगठनों ने लोगों से मंगलवार को ‘भारत बंद’ का समर्थन की अपील की है  | स्वराज इंडिया के अध्यक्ष योगेंद्र यादव के अनुसार, मंगलवार के भारत बंद में इमरजेंसी सेवाएं, शादी, एम्बुलेंस पर कोई रोक नहीं होगी | दूध, फल, सब्ज़ी आदि जैसी ज़रूरी चीजों को किसान अपनी तरफ़ से सप्लाई नहीं करेंगे, लेकिन यदि कोई ले जाना चाहेगा तो कोई रोक नहीं होगी |

यह भी पढ़ें   यदि डेयरी स्थापित करना चाहते हैं तो इस योजना का लाभ लें

किसान संगठन के नेता दर्शनपाल सिंह ने कहा है कि मंगलवार को सुबह से शाम तक भारत बंद होगा एवं चक्का जाम सिर्फ़ दोपहर 3 बजे तक रहेगा | इमरजेंसी सेवाएं, एम्बुलेंस सेवा जारी रहेंगी | कोई ज़ोर ज़बरदस्ती नहीं होगी | उन्होंने कहा कि राजनीतिक दलों का धन्यवाद, उन्होंने समर्थन दिया, लेकिन निवेदन है कि वे अपना झंडा बैनर किसानों के प्रदर्शन से दूर रखें |

Previous articleकिसान आन्दोलन: आज किसानों का शांतिपूर्ण भारत बंद का आह्वान
Next articleभारत बंद : गृह मंत्री अमित शाह ने आज कुछ किसान नेताओं को बातचीत के लिए बुलाया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here